मुंगेर राइफल एसोसिएशन में बड़ा घोटाला, प्राथमिकी दर्ज

0

मुंगेर : जिले के मुंगेर राइफल एसोसिएशन (Munger Rifle Association) के बैंक खाते से 9 लाख रुपए की राशि गबन का मामला सामने आया था। इसको लेकर मंगलवार को कोतवाली थाना में प्राथमिकता दर्ज़ कराई गई थी। राशि नए राइफल की खरीददारी के लिए थी। प्राथमिकी कार्यकारी सचिव अवधेश कुमार, पूर्व सचिव जितेंद्र लाल एवम् कोषाध्यक्ष राजीव कुमार शर्मा पर कांड संख्या 71/2021 के तहत दर्ज करवाया गया है।

अवधेश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि नया रायफल खरीद के लिए एसोसिएशन के खाते में जमा राशि को जितेंद्र कुमार और राजीव कुमार ने मिली भगत से षडयंत्र कर नए राइफल के लिए रखे पैसे की निकासी की है। भांडा फूटने पर दोनों ने आरोप को स्वीकार किया और गबन की पूरी राशि का कुछ अंश जितेंद्र लाल ने चेक के माध्यम से एसोसिएशन के आइडीबीआइ बैंक (IDBI Bank) खाते में जमा कराया। जबकि गबन की गई शेष राशि का भुगतान सितंबर 2021 तक वापस करने को स्वीकारा है। उसी तरह राजीव कुमार शर्मा ने भी 40 हजार रुपया बैंक खाते में जमा किया।

उन्होंने लिखित रूप से स्वीकारा कि 31 जुलाई 2021 तक गबन की गई शेष राशि का भुगतान कर दूंगा। पूर्व सचिव द्वारा वर्तमान में कोई सहयोगात्मक रवैया नहीं अपनाया जा रहा है। उनके द्वारा एसोसिएशन से संबंधित कागजात को भी वर्तमान कमिटी को सुपुर्द नहीं किया गया है। उनकी तरफ से संज्ञेय अपराध किया गया और बिहार स्टेट से लेकर क्लब के सभी शूटरों को भी डरा धमका रहे थे।

28 जनवरी को सर्वसम्मति से पुराने कमिटी को भंग करने का निर्णय लिया गया। आगामी 17 फरवरी से बिहार स्टेट टूर्नामेंट (Bihar State Tournament) को देखते हुए 5 लोगों की कमिटी बनाई गई थी। इसके कार्यकारी सचिव के तौर पर अवधेश कुमार का चयन हुआ, जो चुनाव होने तक इस पद पर रहेंगे। जांच में जब उनके समक्ष गबन की बात आई, तो उन्होंने 4 फरवरी को डीआइजी (DIG) सह मुंगेर रायफल एसोसिएशन के संरक्षक शफीउल हक से शिकायत किया। जिस पर डीआईजी ने कोतवाली थाना को प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया। इसके बाद 8 फरवरी 2021 को कोतवाली थाना में कांड संख्या 71/2021 दर्ज किया गया। इसमें पूर्व सचिव एवं कोषाध्यक्ष को नामजद किया गया।

swatva

Leave a Reply