लक्ष्य निर्धारित हो तो सफलता अवश्य मिलती है : प्रकाशचंद्र जायसवाल

0

मुंगेर : विद्या भारती जो विश्व की सबसे बड़ी गैर सरकारी शिक्षण संस्थान है। दायित्व चाहे जो भी हो मूलरुप से व्यक्ति आचार्य ही होतें हैं । राष्ट्र निर्माण में आचार्याें की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। वे अपने ज्ञान से व्यक्ति का निर्माण करते हैं। व्यक्ति को हमेशा राष्ट्रहित में सोचना और कार्य करना चाहिए। हमारी सभ्यता और संस्कृति सर्वोत्कृष्ट है। जीवन में कठिनाईयां आती रहती है, लेकिन लक्ष्य निर्धारित हो तो सफलता अवश्य मिलती है। आचार्यों को हमेशा अपने ज्ञान को अपडेट करते रहना चाहिए। उक्त बातें वरिष्ठ माध्यमिक सरस्वती विद्या मंदिर, मुंगेर के सभागार में आयोजित सम्मान समारोह में भारती शिक्षा समिति / शिशु शिक्षा प्रबंध समिति, बिहार के नव नियुक्त प्रदेश सचिव प्रकाशचंद्र जायसवाल ने आचार्यों को संबोधित करते हुए कहा ।

मुंगेर विभाग के प्रमुख प्रकाशचंद्र जायसवाल को विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान से संबद्ध भारती शिक्षा समिति/शिशु शिक्षा प्रबंध समिति, बिहार के प्रदेश सचिव बनाए जाने पर वरिष्ठ माध्यमिक सरस्वती विद्या मंदिर, मुंगेर के सभागार में सम्मान समारोह आयोजित कर पुष्पगुच्छ एवं अंगवस्त्र से सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर विद्यालय प्रबंधकारिणी समिति के सचिव अमरनाथ केशरी ने कहा कि प्रकाशचंद्र जायसवाल विद्या भारती में आचार्य, प्रधानाचार्य, विभाग प्रमुख, प्रदेश सह सचिव जैसे महत्वपूर्ण दायित्वों का सफलतापूर्वक निर्वाह करते हुए प्रदेश सचिव बने हैं। यह हमलोगों के लिए गौरव की बात है। अपने कुशल नेतृत्व में आचार्यों एवं भाईयों-बहनों का मार्गदर्शन किया। उनके कार्य के प्रति निष्ठा और अथक परिश्रम का ही परिणाम है कि उन्हें यह महत्पूर्ण दयित्व दिया गया है।

प्रधानाचार्य नीरज कुमार कौशिक ने कहा कि प्रकाशचंद्र जायसवाल विद्या भारती के कुशल कार्यकर्ता के रुप में जाने जाते हैं। सीमित संसाधनों के बल पर उन्होंने विद्या भारती की पंरपराओं के अनुरुप कार्य को हमेशा लक्ष्य के रुप में रखकर कार्य किया। चरैवेति-चरैवेति को लक्ष्य मानकर संगठन का मार्गदर्शन करते रहे हैं। कार्यक्रम का संचालन आचार्य अरुण कुमार ने किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांतीय शरीरिक प्रमुख मनोज कुमार, भागलपुर विभाग के विभाग प्रमुख बजरंगी प्रसाद, उपप्रधानाचार्य उज्ज्वल किशोर सिन्हा, क्षेत्रीय बालिका शिक्षा संयोजिका कीर्ति रश्मि, प्रांतीय सोशल मीडिया प्रमुख संतोष कुमार सहित समस्त आचार्य उपस्थित थे।

संतोष कुमार की रिपोर्ट

swatva

Leave a Reply