मधुबनी में कम्युनिटी किचेन चला खिला रहे 100 लोगों को प्रतिदिन खाना

0

मधुबनी : कोविड-19 के बिहार में बढ़ते संक्रमण के कारण पूरे सूबे में एक बार फिर राज्यव्यापी लॉकडाउन 16-31 जुलाई तक लगाया गया है। लॉकडाउन में गरीब, निर्धन, निःशक्त, निःसहाय, मजदुर वर्ग, भिखारी वर्ग, कामगार मजदूर लोगों के सामने विकट स्थिति उत्पन्न हो गयी हुई है, जिससे उनको खाने-पीने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

इसी के मद्देनजर मधुबनी जिले के जयनगर शहर के समाजसेवी अमित कुमार राउत एवं उनकी टीम लगातार दसवें दिन भी जयनगर नगर पंचायत क्षेत्र के पटना गद्दी चौक, शहिद चौक, जयनगर रेलवे स्टेशन परिसर में रहने वाले लोगों को निजी स्तर से जनसहयोग से कम्यूनिटी किचन चला कर रोज लगभग 100 लोगों को खाना खिला कर पेट भर रहे हैं। इससे लोग प्रसन्न होकर उनको धन्यवाद देकर खाना खाते हैं।

आज इस नेक कार्य मे जयनगर के प्रतिष्ठित संस्थाओं जैसे मॉर्निंग वॉक ग्रुप के संतोष कुमार शर्मा, प्रभात झा, मनीष रोहिता, नवल कुमार, पप्पू पूर्वे एवं सूड़ी युवा मंच के डॉ० सुनील कुमार राउत, प्रवीर महासेठ, सुनील कुमार, सुमित कुमार राउत एवं माँ अन्नपूर्णा कम्युनिटी किचन संस्था के सदस्य विजय नायक, मिथिलेश महतो, विशाल नायक, हिमांशु जायसवाल एवं मुकेश राउत एवं अन्य लोग गुप्त रूप से भी इसमें इनका सहयोग कर रहे हैं।

वैश्विक महामारी बन चुके कोविड-19 नोबल कोरोना वायरस के प्रति सचेत करने और स्वच्छता के लिए जागरूकता के उद्देश्य से समाजसेवी अमित कुमार राउत ने खाना देते वक्त लोगों के हाथ सेनेटाइज करवाकर एवं सोशल डिस्टेंसिनग का ख्याल रखते हुए उनको खाना देते हैं।

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि जो दिशा-निर्देश हमें सरकार के तरफ से मिले हैं, उनका पालन हम सभी को शत-प्रतिशत करना है। सोशल डिस्टेंस बनाये रखना है, ओर अधिक जरूरत नही हो तो घर से बाहर बिल्कुल नही निकलें।

इस मौके पर समाजसेवी श्री राउत ने लोगों से कहा कि बहुत जरूरत होने और ही घर से बाहर निकालें, ओर मास्क लगाएं एवं घर से बाहर जाने-आने के क्रम में हाथ को बढ़िया से धोएं ओर साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि चूंकि बिहार में ये वायरस का प्रकोप कुछ ज्यादा ही बढ़ गया हुआ है, इसलिए पुनः लॉक डाउन लगाया गया है। आज के तारीख में ये कोरोना वायरस एक महामारी बन चुका है, इसलिए अपने यहां भी हम इसके प्रभाव से बचने के लिए इससे बच कर रहें।

सुमित राउत

swatva

Leave a Reply