16 मई : मधुबनी की मुख्य खबरें

0
swatva samachar

जिला स्तरीय रोजगार सह व्यवसायिक मार्गदर्शन मेला का 18 मई को होगा आयोजन

मधुबनी : जिला नियोजन पदाधिकारी, जिला नियोजनालय, मधुबनी ने जानकारी दी है कि जिलाधिकारी, अरविन्द कुमार वर्मा के दिशानिर्देश में आगामी 18 मई 2022 को जिले के वॉटसन +2 हाई स्कूल में श्रम संसाधन विभाग, एवं जिला प्रशासन, मधुबनी के तत्वावधान में एक दिवसीय नियोजन सह व्यवसायिक मार्गदर्शन मेला का आयोजन किया जा रहा है। इस मेले में राज्य के सभी जिलों के तकनीकी एवं गैर तकनीकी क्षेत्रों में योग्यता रखने वाले अभ्यर्थी, निजी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त कर सकते हैं। इस अवसर नौकरी प्रदाता के साथ साथ कौशल विकास से संबंधित अन्य संस्थाएं भी मौजूद रहेंगी।

मेले के दौरान विभिन्न सरकारी विभागों का स्टॉल भी रहेगा, जहां स्वरोजगार हासिल करने हेतु जानकारी भी प्रदान की जाएगी। इस मौके पर डीआरसीसी, मधुबनी से संचालित योजनाओं के स्टॉल भी रहेंगे। इनके अतिरिक्त जिले के लीडिंग बैंक का स्टॉल भी रहेगा, जहां युवाओं को केंद्र की योजनाओं जैसे मृदा ऋण, स्टार्ट अप लोन आदि के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की जाएगी।

swatva

उल्लेखनीय है कि नियोजन मेला में शामिल होने के लिए आवेदकों को तीन प्रति में अपना रिज्यूम/ बायोडेटा, तीन पासपोर्ट साइज फोटो, आधार कार्ड/मतदाता पहचान पत्र/ड्राइविंग लाइसेंस की छायाप्रति एवं अन्य शैक्षणिक प्रमाण पत्रों/अंक पत्रों की तीन छायाप्रति समर्पित करनी होगी। बताते चलें कि जिला प्रशासन, मधुबनी द्वारा नियोजन के लिए केवल सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। किसी भी रोजगार के संबंध सभी अहर्ता एवं दायित्व के शर्तों के लिए नियोजक जिम्मेवार होंगे।

विदित हो कि वैश्विक महामारी के कारण से वित्तीय वर्ष 2020/21 एवं 2021/22 में नियोजन सह व्यवसायिक मार्गदर्शन मेला का आयोजन नहीं किया जा सका। इस बार वृहद पाने पर इसका आयोजन किया जा रहा है। इस नियोजन मेले का उद्घाटन मंत्री श्रम संसाधन विभाग के द्वारा किया जाएगा। मेले में प्रवेश निःशुल्क होगा एवं पूर्वाह्न 10 बजे से अपराहन 04 बजे तक इसमें भाग लिया जा सकता है। आवेदन मेला स्थल पर भी ऑन स्पॉट पंजीकरण किया जा सकेगा। परंतु, भीड़ भाड़ से बचने के लिए मेले से पूर्व भी nsc.gov.in पर ऑनलाइन निबंधन किया जा सकता है। इस मेले में नियोक्ता के रूप में राज्य एवं राज्य के बाहर के कुल एक दर्जन संस्थाओं ने सहमति प्रदान की है।

जिलाधिकारी ने जिला स्तरीय रोजगार सह व्यवसायिक मार्गदर्शन मेले के आयोजन के अवसर पर जिले के युवाओं का आह्वान करते हुए कहा है कि इस मेले के दौरान युवा रोजगार से सीधे तौर पर तो जुड़ ही सकते हैं, साथ ही साथ नए स्टार्ट अप के लिए बेहतर मार्गदर्शन भी हासिल कर सकते हैं। आज केंद्र व राज्य सरकार द्वारा कई प्रकार की महत्वकांक्षी योजनाएं संचालित की जा रही हैं। जिनकी जानकारी से स्वरोजगार के नए द्वार खुल सकते हैं। ऐसे में उक्त अवसर पर पंहुचकर, मेले में सही जानकारी प्राप्त कर, युवा वर्ग अपने लिए कैरियर के बेहतर विकल्प हासिल कर सकते हैं। अतः जिन युवाओं को रोजगार की तलाश है, वे इस मौके का लाभ अवश्य उठाएं।

जिलाधिकारी के निर्देश पर जिले में खराब पड़े चापाकलों की मरम्मती के कार्य में आई तेजी, 3084 चापाकलों की अब तक हुई मरम्मती

मधुबनी : जिलाधिकारी के निर्देश पर जिले में खराब पड़े चापाकलों की मरम्मती के कार्य में तेजी आई है। इस संबंध में जानकारी देते हुए कार्यपालक अभियंता पीएचईडी ने कहा है कि मधुबनी जिला अंतर्गत सभी प्रखंडों में चापाकलों की मरम्मत हेतु चलंत मरम्मती दल का गठन किया गया है। इन मरम्मती दल द्वारा चापाकल की मरम्मती से संबंधित सूचना प्राप्त होने पर दो दिनों के अंदर इसकी मरम्मती कराई जाती है।

आमजनों की सुविधा हेतु खराब पड़े चापाकलों की मरम्मती किए जाने से संबंधित सूचना प्रेषित करने हेतु जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है। जिसके दूरभाष संख्या 06276296190 एवं मोबाइल नंबर 8544428697 है। पूर्व में सभी प्रखंडों से संबंधित कनीय अभियंता/सहायक अभियंता की दूरभाष संख्या प्रकाशित की जा चुकी है। उन नंबरों पर भी चापाकल की मरम्मत हेतु सूचना दर्ज कराई जा सकती है। इसके अतिरिक्त विभाग के टोल फ्री नंबर 1800 123 1121 पर सूचना दी जा सकती है।

ज्ञातव्य हो कि 15 मई 2022 तक लोक स्वास्थ्य प्रमंडल, मधुबनी में कुल 1450 एवं लोक स्वास्थ्य प्रमंडल झंझारपुर में कुल 1634 मरम्मत योग्य चापाकलों की मरम्मत पूर्ण की जा चुकी है। इस प्रकार संपूर्ण मधुबनी जिले में कुल 3084 अदद मरम्मती योग्य चापाकलों की मरम्मती पूर्ण की जा चुकी है।

राष्ट्रीय डेंगू दिवस पर एएनएम सभागार में कार्यशाला आयोजित

मधुबनी : दुनिया भर में डेंगू एक गंभीर बीमारी के तौर पर उभरा है। हर साल इस घातक बीमारी की वजह से लाखों लोगों की जान जाती है। हमारे देश में भी हर साल बड़ी संख्या में लोग इस बीमारी की चपेट में आते हैं। यही वजह है कि डेंगू बीमारी के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 16 मई को राष्ट्रीय डेंगू दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को लेकर मधुबनी सदर अस्पताल के एएनएम सभागार में कार्यशाला का आयोजन हुआ।

मधुबनी जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ० विनोद कुमार झा ने बताया इस वर्ष राष्ट्रीय डेंगू दिवस का थीम “डेंगू इज प्रिवेंटिएबल : लेट्स जॉइन हैंड्स ” रखा गया है। उन्होंने बताया डेंगू की बीमारी एडीज मच्छर के काटने से होती है। इसमें मरीज के शरीर में प्लेटलेट्स तेजी से कम होने लगते हैं। अगर प्लेटलेट्स बेहद कम हो जाए तो इससे मरीज की मौत भी हो जाती है।

डेंगू के मामले मानसून के शूरू होने के बाद से ही सामने आने लगते हैं। दरअसल, डेंगू का लार्वा रुके हुए 7 दिन या उससे अधिक ठहरे हुए साफ पानी में ही पनपता है। ऐसी सूरत में लापरवाही बरतने पर डेंगू फैलने की आशंका बढ़ जाती है। डेंगू एक फ्लू जैसी बीमारी है जो डेंगू वायरस के कारण होती है। डेंगू वायरस मच्छर के दिन में काटने से फैलता है। मौके पर डॉ० विनोद झा ने डेंगू से बचाव को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

एडीज मच्छर के काटने से होता है डेंगू

जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ० विनोद कुमार झा ने बताया कि एडीज मच्छर दिन में काटता और स्थिर एवं साफ पानी में पनपता है। तेज बुखार, बदन, सिर एवं जोड़ों में दर्द और आंखों के पीछे दर्द हो तो सतर्क हो जाएं। त्वचा पर लाल धब्बे या चकते का निशान, नाक- मसूढ़ों से या उल्टी के साथ रक्त स्राव होना और काला पखाना होना डेंगू के लक्षण हैं। इन लक्षणों के साथ यदि तेज बुखार हो तो तत्काल सदर अस्पताल जाएं और अपना इलाज करवाएं। उन्होंने बताया कि यदि किसी व्यक्ति को पहले डेंगू हो चुका है तो उसे ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। ऐसे व्यक्ति दोबारा डेंगू बुखार की आशंका होने पर सरकारी अस्पताल या फिर डॉक्टर से संपर्क करें।

समय पर इलाज कराने पर मरीज हो जाता स्वस्थ्य

डॉ० झा ने बताया कि सभी तरह का बुखार डेंगू नहीं होता है। बुखार होने पर बिना समय गंवाए डॉक्टर से संपर्क करें। डॉक्टर जांच के बाद जैसा कहेंगे, उसके अनुसार अपना इलाज करवाएं। डेंगू होने की स्थिति में सभी मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। सिर्फ गंभीर मरीजों को ही भर्ती होना पड़ता है। समय पर इलाज कराने पर मरीज पूरी तरह से स्वस्थ्य हो सकता है।

दिन में सोते समय भी लगाएं मच्छरदानी

डॉ० झा ने बताया कि दिन में भी सोते समय मच्छरदानी का इस्तेमाल करें। इसके साथ-साथ मच्छर भगाने वाली क्रीम या दवा का प्रयोग दिन में भी करें। पूरे शरीर को ढकने वाले कपड़े पहनें। घर के सभी कमरों को साफ- सुथरा रखें। टूटे-फूटे बर्तनों, कूलर, एसी, फ्रीज में पानी जमा नहीं होने दें। पानी टंकी और घर के आसपास अन्य जगहों पर भी पानी नहीं जमने दें। घर के आसपास साफ-सफाई का ध्यान रखें और कीटनाशक दवा का इस्तेमाल करें। गमला, फूलदान का पानी हर दूसरे दिन बदल दें। घर के साथ-साथ सार्वजनिक स्थलों पर सतर्कता जरूरी है। मॉल व दुकान चलाने वाले लोग भी खाली जगहों पर रखे डिब्बे और कार्टनों में पानी जमा नहीं होने दें। जमे हुए पानी पर मिट्टी का तेल डालें।

डेंगू के लक्षण

•अचानक तेज सिर दर्द व तेज बुखार
•मांसपेशियों तथा जोड़ों में दर्द होना
•आंखों के पीछे दर्द होना जो कि आंखों को घुमाने से बढ़ता है
•जी मिचलाना एवं उल्टी होना
गंभीर मामलों में नाक, मुंह व मसूड़ों से खून आना
•त्वचा पर चकत्ते उभरना

बचाव के उपाय

•एडीज के मच्छर साफ स्थिर पानी में पनपते हैं
•कूलर, पानी की टंकी, पक्षियों के पीने के पानी का बर्तन, फ्रीज की ट्रे, फूलदान इत्यादि को प्रति सप्ताह खाली करें एवं धूप में सुखाकर प्रयोग करें
•घरों के दरवाजे व खिड़कियों में जाली परदे लगाएं।

एक बाइक समेत चार लीटर शराब के साथ एक धंधेबाज धराया

मधुबनी : जिले के बिस्फी थाना के चौकीदार व ग्रामीणों ने एक शराब धंधेबाज को पकड़ बिस्फी पुलिस के हवाले कर दिया। बता दे कि आज़ सुबह स्थानीय थाना क्षेत्र के बोखरी गांव में एक आंगनबाड़ी केंद्र के पास एक बाइक पर सवार एक शराब धंधेबाज चार लीटर महुआ शराब लेकर किसी को देने जा रहा था, जिसकी भनक स्थानीय चौकीदार एवं ग्रामीणों को मिली। इस बात की सुचना बिस्फी पुलिस को दी गई।

सुचना मिलते ही बिस्फी थाना के एएसआई सुभाष सिंह, महेश सिंह, राहुल देव सहित अन्य पुलिस बल मौके पर पहुंच उक्त शराब धंधेबाज को गिरफतार कर थाना लाया। शराब धंधेबाज की पहचान स्थानीय थाना क्षेत्र के ककोरवा गांव निवासी शिवू चौपाल के रूप में हुई है। थानाध्यक्ष ने बताया कि गिरफ्तार शराब धंधेबाज के विरुद्ध मध निषेध उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर बाइक व शराब जप्त कर धंधेबाज को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

डीएम ने महाराजी बांध का किया निरीक्षण, दिए कई सख्त निर्देश

मधुबनी : जिले के बिस्फी प्रखंड क्षेत्र के पश्चिमी भाग में करीब 3 दर्जन गांव में विनाशकारी बाढ प्रत्येक वर्ष तबाही मचाती है। अलवारा समूह की धौंस नदी के पानी से जान माल की नुकसान के साथ कई सड़कें क्षत-विक्षत हो जाती है। प्रखंड क्षेत्र के लगभग 15 किलोमीटर में महराजी बांध की सुरक्षा को लेकर संवेदक के द्वारा उदासीनता से लोगों में भय का माहौल बना हुआ है। इसी को लेकर डीएम अरविंद कुमार वर्मा, एसडीएम अशोक कुमार मंडल सहित जिला एव अनुमंडल के आला अधिकारियों ने प्रखंड क्षेत्र के दूधौल, रघौली, सिंगिया, जगवन का औचक निरीक्षण किया।

मौके पर उपस्थित संवेदक को 30 मई तक हर हाल में जर्जर बॉघ को सही करने के निर्देश दिए। इस मौके पर स्थानीय लोगों ने घौस नदी की तबाही से अवगत भी कराया और महाराजी बांध की मरम्मत करने में संवेदक की संवेदनहीनता को भी विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर डीएम ने संवेदक को मरम्मत कार्य सही से ससमय सहित कई दिशा निर्देश दिये।

मौके पर कई बार बीडीओ और सीओ को भी खोजा लेकिन यह सब उपस्थित नहीं थे। जानकारी के अनुसार जगवन रघौली सिंगिया सहित एक दर्जन स्थानों पर महाराजी बांध की स्थिति बहुत ही खराब बताया जा रहा है, जिससे एक दर्जन से अधिक पंचायत के लोगों में भय बना हुआ है। इस मौके पर एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह, बीएसओ मुकेश कुमार, बीपीआरओ चंदेश्वर नारायण सिंह बिस्फी थाना अध्यक्ष राज कुमार राय, सीआई बसंत कुमार झा, सहित कई लोग उपस्थित थे।

गोल टैलेंट सर्च एग्जाम में सफल होने वाले छात्र छात्राओं को किया गया सम्मानित

मधुबनी : जिले बिस्फी गोल टैलेंट सर्च एग्जाम 2022 बिहार पटना के सफल होने वाले छात्र छात्राओं को एमके इंस्टिट्यूट बेनीपट्टी के तत्वाधान में पुरस्कृत एवं सम्मानित की गई। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता एम.के. इंस्टीट्यूट के निदेशक मुकेश कुमार ने किया। इस मौके पर गोल टैलेंट सर्च एग्जाम में सफलता छात्रों को स्कूल बैग, मेडल, प्रशस्ति पत्र सहित पाठ्य सामग्री देकर सम्मानित की गई।

वही छात्रों को और अधिक सफल करने की कामना की गई। इस मौके पर आरएन हेड ऑफ गोल इंस्टीट्यूट के आनंद कुमार एवं मार्केटिंग इंचार्ज अभिषेक कुमार ने बताया कि एमके कोचिंग के द्वारा एग्जाम मे कुल 82 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया था, जिसमें 77 छात्र छात्रा सफल हुये। इसमें 8 छात्र-छात्रा टॉप टेन में भी शामिल हुए हैं। टॉप टेन शामिल होने वाले छात्र-छात्राओं में वर्ग नवम से राहुल कुमार, प्रणब कुमार झा, आलोक कुमार व माधव कुमार शामिल है। वही वर्ग 8 से भव्य कुमारी एवं कारुणिक कुमार एवं कथा सातवां के अभय कुमार व सिद्धार्थ कुमार शामिल है। इनमें पॉच हजार से अधिक छात्रों ने परीक्षा में शामिल हुए थे।

इस मौके पर छात्रों को संबोधित करते हुए डायरेक्टर मुकेश कुमार कहा की किसी भी परीक्षा की तैयारी लक्ष्य निर्धारित कर करने से सफलता निश्चित होगी। सीमित समय में अच्छे अंक लाकर बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। सभी को कड़ी मेहनत और लगनता से पढ़ने की सलाह दी। इस मौके पर सुबोध कुमार, अजय कुमार, केशव मिश्रा, महेश कुमार, रामा शंकर कुमार सहित कई शिक्षक उपस्थित थे।

माकपा नेता के निधन पर शोक

मधुबनी : जिले के बिस्फी प्रखंड के ग्राम पोआरी निवासी कामरेड अयोधी यादव का आज निधन हो गया। मिली जानकारी के मुताबिक एक सप्ताह पहले उनका ब्रेनहेमरेज हो गया था, इनका इलाज आइ.जी.एम.एस., पटना में चल रहा था। वे 70 वर्ष के थे। उन्होंने 1988 मे सामंती जुल्म के खिलाफ सी.पी.एम. के सदस्य बने 1991 मे पार्टी का प्रथम अंचल सम्मेलन अपने गांव में करबाए थे, और आज तक पार्टी के सदस्य थे।

उनके निधन पर विस्फी के पूर्व प्रखंड प्रमुख शीला देवी, माकपा के जिला मंत्री मनोज कुमार यादव, पूर्व जिला मंत्री भोगेन्द्र यादव, बाबू लाल महतो, विन्दु यादव, आमोद झा, महेश सहनी, ललित कुशवाहा, अखिलेश पजियार, सुमित्रा देवी, पुरनी देवी ने उनके निधन पर गहरा शोक संवेदना व्यक्त किया है। पार्टी के जिला मंत्री ने कहा कामरेड अयोधी जी 1990 के जनवरी का महिना था, तब मेरे घर पर जाकर पार्टी का सदस्य बनाए थे। आज उनके निधन से लग रहा है, कि मैंने अपने गार्जियन स्वरूप सच्चे साथी को खो दिया है।

अलग अलग मामले की तीन वारंटी गिरफ्तार

मधुबनी : जिले के हरलाखी थाना की पुलिस ने अलग-अलग मामले के तीन वारंटी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार व्यक्ति की पहचान करुणा गांव निवासी पंकज पांडेय व अरुण पांडेय के रूप में किया गया है।

वहीं एक अन्य मामले के वारंटी की पहचान कलना गांव निवासी सुकन साह के रूप में किया गया है। थानाध्यक्ष अनोज कुमार ने बताया कि गिरफ्तार तीनों व्यक्ति के विरुद्ध न्यायालय से वारंट जारी था, तीनों वारंटी को न्यायायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

250 बोतल शराब जब्त, तस्कर फरार

मधुबनी : जिले के हरलाखी थाना की पुलिस ने वाहन चेकिंग के क्रम में 250 बोतल शराब के को जब्त किया है, हालांकि तस्कर भागने में सफल हो गये। जानकारी के अनुसार एएसआई आर.पी. प्रसाद यादव सशस्त्र बल के साथ संध्या गश्ती पर निकले हुए थे। इसी क्रम में चौकीदार रामबिलास पासवान के द्वारा सूचना मिला कि स्थानीय थाना क्षेत्र के सोठगांव पंचायत अंतर्गत मधुबनी टोल निवासी बैजू सहनी शराब लेकर अपने गांव की ओर जा रहा है, जिसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उक्त तस्कर को दुर्गापट्टी गांव से खदेड़ना शुरू किया।

जहां पुलिस को पीछा करते देख बलुआहा मुसहरी के समीप शराब की बोरी को फेंक तस्कर भागने में सफल हो गये। इस बाबत थानाध्यक्ष अनोज कुमार ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

जदयू की बैठक में पार्टी को अधिक मजबूत बनाने पर दिया गया बल

मधुबनी : जिले के हरलाखी प्रखंड के दिन दयाल प्लस टू उच्च विद्यालय के प्रांगण में प्रखंड अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता की अध्यक्षता में जदयू कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित की गयी। बैठक की शुरुआत मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे कार्यक्रम प्रभारी सह जिला उपाध्यक्ष डॉ० अमरनाथ झा को मिथिला परंपरा के अनुसार पाग व दोपट्टा से स्वागत किया गया।

इस बैठक को संबोधित करते हुए श्री झा ने बिहार सरकार के द्वारा चलायी जा रही जनसरोकार योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा की। उन्होंने सरकार के द्वारा चलायी जा रही सभी योजनाओं की जानकारी लोगों तक पहुंचाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि श्री गुप्ता के नेतृत्व में हरलाखी के जदयू कार्यकर्ता पार्टी के प्रति काफी सक्रिय है।

वहीं श्री गुप्ता ने पार्टी को पहले से अधिक मजबूत बनाने पर बल देते हुए कहा कि सरकार के निर्देशानुसार बूथ लेबल पर कार्यकर्ताओं को मजबूत बनाने का कार्य चल रहा है, जिसका उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों को पार्टी में शामिल करना और सभी का संपर्क नंबर जिला कार्यालय में जमा करना बताया गया है। ताकि जमीनी स्तर पर होने वाली किसी भी समस्याओं की जानकारी सरकार तक पहुंचे और उसका निदान हो सकें।

इस बैठक में सिसौनी पंचायत के मुखिया यदुवीर साह, युगेश्वर दास, दीपक राय, मो० आलम, डोमा पासवान, अशोक साह, रणधीर सिंह, मनीष राय, राजकुमार, महावीर कामत, शिव लोचन यादव, राजाराम राय, जितेन्द्र झा, देबु पुर्बे, कैलाश राय, बगिश कर्ण समेत दर्जनों कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।

प्रसव के बाद प्रसूता की मौत, बच्चे की हालत नार्मल

मधुबनी : जिले के हरलाखी प्रखंड मुख्यालय उमगांव के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रविवार को प्रसव कराने के बाद एक महिला की मौत हो गई, जबकि बच्चे की हालत नार्मल बताई जा रही है। मृत महिला की पहचान हरलाखी थाना क्षेत्र के हाट परसा गांव निवासी विनोद सादा की 20 वर्षीय पुत्री काजल देवी के रूप में हुई है, जो बासोपट्टी गांव के मेहतरपट्टी निवासी विनोद सादा की पत्नी थी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक उमगांव के सरकारी अस्पताल सीएचसी में प्रसव कराने के लिए महिला को भर्ती कराया गया। जहां सुबह करीब 9 बजे महिला को प्रसव पीड़ा हुई और अस्पताल में मौजूद नर्सों ने महिला का…

लौकहा पुलिस ने शराब के साथ एक महिला को किया गिरफ्तार

मधुबनी : जिले के खुटौना प्रखंड के लौकहा थाना क्षेत्र के लौकहा बॉडर से पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि यहां से शराब की एक खेप जाने वाली है। लौकहा पुलिस ने बॉर्डर पर अपनी तैनाती कर ली थी। एक महिला पिलर संख्या 246 पर जा रही थी। पुलिस को शक हुआ उसे रोका और तालाशी ली गयी, तो 445 बोतल कस्तूरी शराब बरामद हुई।

पूछताछ करने पर महिला अपना नाम लारुवती देवी पति स्वर्गीय बिंदा सदाए बताई। मिली जानकारी के अनुसार उनका घर लौकहा थाना क्षेत्र के कमलपुर निवासी बताई जा रही है। पुलिस उन्हें कांड संख्या 116/22 के तहत उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पूर्व मंत्री ने की सहायता राशि दिलाने की बात

मधुबनी : राज्य के पूर्व आपदा प्रबंधन मंत्री लक्ष्मेश्वर राय ने प्रखंड के दुर्गीपट्टी गांव पहुंचकर पीड़ित परिवार वालों से मिलकर सरकार द्वारा दिए जा रहे सहायता राशि दिलाने का भरोसा दिलाया। पूर्व मंत्री श्री राय ने तालाब में डूबने से बचे हुए छह बच्चों से मिलकर उनके मनोबल को बढ़ाया। मंत्री ने उन 11 वर्षीय जीतू कुमार मंडल से भी मिला, जिन्होंने खुद पानी में डूब कर अपनी जान बचाई थी, बल्कि उन्होंने एक के बाद एक 6 बच्चों को तालाब से निकालकर उनकी जान बचाई थी।

यहां बताना आवश्यक होगा कि बीते 10 मई को हुई इस घटना से अभी भी गांव में मातम छाया हुआ है, तो वही मंत्री श्री राय ने इस किशोर की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। घटना की चर्चा करते हुए जीतू ने बताया कि वह अपने अन्य साथी अमर, उमेश, सौरभ, नेहा, रौशन, कार्तिक और रूपा कुमारी के साथ तालाब में नहाने गया था। तालाब में जाते ही बदल के गड्ढे में उनके सभी 8 साथी एक के बाद एक नीचे जाता रहा।

बच्चों ने बताया कि वे तैरना जानते थे और उचित पुकार के बीच बारी-बारी से सौरभ, नेहा, रौशन, कार्तिक तथा रूपा को भी पानी से खींचकर बाहर निकाला, जिससे उनकी जान बच गई लेकिन अमर और उमेश अधिक गहरा पानी के बीच चला गया था, जिसे वे उन्हें नहीं निकाल पाए। गांव की ओर चिल्लाते हुए दौड़ लगाया जब तक गांव वाले तालाब के निकट पहुंचते तब तक देर हो चुकी थी। फिर मृत दोनों बच्चों को पानी से बाहर निकाला गया।

इधर इस बच्चे की साहस पर मंत्री श्री राय ने कहा कि जीतू की साहस के कारण ही गांव के 5 बच्चे बच पाए इनकी साहस की जितनी भी चर्चा की जाए बहुत ही कम है। इस अवसर पर जदयू के प्रखंड अध्यक्ष देवदत्त साह, पूर्व जिला परिषद सदस्य अरविंद कुमार महतो, रामवीर मंडल तथा प्रवीण कुमार मंडल समेत अन्य ग्रामीण भी उपस्थित थे।

श्रवण कपड़ी हत्याकांड का बारीकी से की जा रही हैं जाँच, जल्द होगा मामले का उद्भेदन : सुशील कुमार

मधुबनी : जिला के नये पुलिस कप्तान सुशील कुमार ने पद भार ग्रहण करते ही क्षेत्र का दौरा और थाना का निरक्षण करना प्रारंभ कर दिया हैं। जिला क्षेत्र का निरक्षण के दौरान सोमवार को एसपी सुशील कुमार जयनगर थाना पहुँचे। पुलिस अधीक्षक सुशिल कुमार जयनगर थाना परिसर पहुँच कर थाना का औचक निरक्षण किया। निरक्षण के दौरान डीएसपी विप्लव कुमार, सर्किल इंस्पेक्टर आर.के. भानू, जयनगर थाना अध्यक्ष संजय कुमार समेत अन्य पुलिस पदाधिकारी और पुलिस कर्मी मौजूद थे।

निरक्षण के पश्चात एसपी के द्वारा थाना अध्यक्ष के कार्यालय कक्ष में डीएसपी विप्लव, सर्किल इंस्पेक्टर आर.के. भानू, पुलिस निरीक्षक सह थाना अध्यक्ष संजय कुमार के साथ समीक्षा बैठक कर क्षेत्र की विस्तृत जानकारी ली। नव पदस्थापित पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार के द्वारा निरक्षण और समीक्षा बैठक के पश्चात मिडियाकर्मियों से मुखातिब हुए उन्होंने बताया कि यह रूटीन निरक्षण और समीक्षा बैठक बताया। जयनगर पहुँच कर थाना का निरक्षण करते हुए पुलिस पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई। पुलिस पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर क्षेत्र और विधि व्यवस्था को लेकर की विस्तृत जानकारी ली गई।

शांति और विधि व्यवस्था बनाये रखने को लेकर, विभिन्न कांडों की समीक्षा की गई। अभिलेखों, सिरिस्ता की गहन जाँच कर विस्तृत जानकारी लेते हुए लंबित कांडो का जल्द से जल्द निष्पादन करने। बॉर्डर क्षेत्र होने को लेकर एसएसबी, नेपाल पुलिस से आपसी समन्वय बना कर असामाजिक तत्वों पर पैनी रखने की बात कही। बिहार में पूर्णतः शराब बंदी हैं, शराबबंदी कानून को सख्ती से लागू कर पालन करने शराब कारोबारी, धंधेबाजों की धर-पकड़ और नकेल कसने में तेजी लाने, क्षेत्र में दिवा-सन्ध्या रात्रि गश्ती में तेजी लाने, फरार चल रहे अपराधियों, अभियुक्तों वारंटियों की गिरफ्तारी जल्द से जल्द करने, कुर्की जब्ती के मामले, जेल से छूटे अपराधियों पर पैनी नजर रखने, आम लोगों की सुरक्षा समेत कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

पुलिसकर्मियों की संख्या की कमी को लेकर विभाग को जानकारी दी जाएगी। जल्द ही पुलिस बल की कमी को भी दूर किया जायेगा। बीतें कुछ दिन पूर्व अज्ञात अपराधी के द्वारा जयनगर के किराना व्यवसायी श्रवण कपड़ी की हत्या कर दी गई थी। श्रवण कपड़ी की हत्या की भी उद्भेदन को लेकर विस्तृत जानकारी ली गई हैं। पुलिस हत्या मामले को गम्भीरता से ली हैं। हत्या मामले को पुलिस हर पहलुओं पर बारीकी से गहन जाँच कर रही हैं, बहुत जल्द मामले का उद्भेदन किया जायेगा।

शराब माफियाओं पर नकेल कसने और क्राईम कंट्रोल पहली प्राथमिकता होगी। एसपी इसके पश्चात पुलिस अधिकारियों के साथ इंडो-नेपाल बॉर्डर क्षेत्र के कमला बीओपी स्थित इनर्वा बेतोंन्हा समेत अन्य बॉर्डर क्षेत्र नो मेंस लैंड पिलरों की विस्तृत जानकारी लेते हुए और कमला पुल कमला नदी का भी निरक्षण कर जायजा लिया। बॉर्डर क्षेत्र के निरक्षण के क्रम में उन्होंने बॉर्डर क्षेत्र के खुली सीमा क्षेत्रों रूट का भी निरक्षण किया।

निरक्षण के क्रम एसपी सुशील कुमार के द्वारा बॉर्डर क्षेत्र में तैनात एसएसबी के पदाधिकारियों जवानो से भी वार्ता कर बॉर्डर क्षेत्र सीमा की विस्तृत जानकारी ली और कई आवश्यक दिशा निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की लापरवाही या कोताही बरतने वाले पुलिकर्मियों को किसी भी सूरत में बक्शा नही जाएगा। इस मौके पर कई पुलिस पदाधिकारी एसएसबी के जवान मौजूद थे। नव पदस्थापित पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार पद जयनगर क्षेत्र में यह पहला दौरा हैं।युवा संगठन ने मंत्री से की पुस्तकालय सह सेमिनार हॉल निर्माण करवाने की मांग

मधुबनी जिले के अंधराठाढ़ी प्रखंड के मरुकिया गांव के युवा संगठन गांव विकास संघर्ष कमिटी ने पीएचईडी मंत्री से गाँव में पुस्तकालय सह सेमिनार हॉल निर्माण करवाने की मांग की है। बताते चलें कि यह संघर्ष कमिटी गांव के पढे लिखे युवाओं का एक संगठन है, और वर्षों से गांव के विकास के मुद्दे पर संघर्षरत है। पीएचईडी मंत्री रामप्रीत पासवान मरुकिया गांव में बीते दिनों सड़क निर्माण के शिलान्यास के लिए आये थे। कमिटी के संयोजक डॉ० लाल कुमार साह ने बताया है कि मरुकिया गांव के वार्ड संख्या पांच के रामचन्द्र राय के घर के बगल में गैर मजरुआ खास सरकारी जमीन है। इसका खेसरा 236,151 रखवा है। डॉ० लाल साह के अनुसार मंत्री जी का पुस्तकालय सह सेमिनार हॉल निर्माण की मांग के प्रति सकारात्मक रुख दिखा और प्रयास करने का आश्वासन दिया है।

रात्रि गश्ती अपराध नियंत्रण में मददगार :- थानाध्यक्ष

मधुबनी : जिले के अंधराठाढ़ी थानाध्यक्ष ने अपने क्षेत्र में रात्रि गश्ती बढ़ा दी है। रविवार की रात प्रखण्ड मुख्यालय बाजार की बिभिन्न गलियो और मोहल्लों में उन्होंने गश्ती की। उनके साथ आर.के. सहनी सहित आधे दर्जन पुलिस कर्मी थे।

थानाध्यक्ष जितेंद्र कुमार सहनी ने बताया कि रात्रि में चोर सहित बहुत सारे अपराधियों का मूवमेंट होता है। रात्रि गश्ती के दौरान सड़क बाहनो की चेकिंग, तलाशी, कागज पत्रों की जांच आदि से बहुत सारे अपराधकर्मी और उनके अपराध पर लगाम लगता है।

शराब पियक्कड़ गिरफ्तार, भेजा गया जेल

मधुबनी : जिले के अंधराठाढ़ी पुलिस ने थाना क्षेत्र के धकजरी गांव निवासी किसुंदेव कामत को पकड़ कर सोमवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। वह शराब पीकर गाली-गलौज, हो-हंगामा कर रहा था। इस बाबत अंधराठाढ़ी थानाध्यक्ष जितेंद्र कुमार सहनी ने बताया कि किसुंदेव कामत शराब पीकर अपने गांव धकजरी में हो-हंगामा, एवं गाली-गलौज कर रहा था।

गुप्त सूचना मिलने पर पुलिस मौके बारदात पहुंचकर उसे गिरफ्तार किया था। मेडिकल जांच करवाने के बाद उसे सोमवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। थानाध्यक्ष जितेंद्र कुमार सहनी ने बताया कि पियक़्कर या शराब धंधेबाज बख्शे नहीं जाएंगे।

रात में दरबाजे पर सोये वृद्ध को अज्ञात अपराधियों ने पीटकर किया जख्मी, हालत गम्भीर

मधुबनी : जिले के बेनीपट्टी अनुमंडल के पतौना ओपी क्षेत्र के मधपुर गांव में बीते रविवार की रात अपने दरबाजे पर सोये एक वृद्ध के साथ अज्ञात अपराधियों के द्वारा मारपीट किये जाने का मामला सामने आया है, जिसमें वृद्ध गंभीर रूप से घायल हो गये। घायल की पहचान बेनीपट्टी अनुमंडल के बिस्फी प्रखंड के पतौना ओपी क्षेत्र के मधपुर गांव निवासी 70 वर्षीय महेश नारायण सिंह के रूप में की गयी है।

मिली जानकारी के अनुसार घायल हुए वृद्ध रविवार की रात में अपने दरवाजे पर अकेले सोये हुए थे। जहां सोये हुए अवस्था में ही अज्ञात अपराधियों ने उनके साथ मारपीट की और मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। सोमवार की सुबह ग्रामीणों ने जब उन्हें खून से लथपथ हालत में हाथ पैर और गर्दन बंधा हुआ देखा तो परिजनों को सुचना दी। इस सम्बन्ध में घायल वृद्ध के भाई उमेश सिंह ने बताया कि सोमवार की सुबह जब हमें घटना की जानकारी मिली, तो इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को देकर इन्हे प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बेनीपट्टी में इलाज के लिए भर्ती कराया।

बता दें कि बेनीपट्टी पीएचसी में भर्ती कराते ही चिकित्सकों ने घायल की स्थिति गंभीर देख प्राथमिक उपचार कर बेहतर इलाज के लिये उन्हें सदर अस्पताल मधुबनी के लिये रेफर कर दिया।

सुमित कुमार की रिपोर्ट

Leave a Reply