09 जनवरी : मधुबनी की मुख्य खबरें

0
swatva samachar

सभी प्रखंड मुख्यालय स्थित पीएचसी व सीएचसी में बनाया गया है टीकाकरण केंद्र

मधुबनी : आज से जिले में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस बचाव के लिए स्वास्थ्य कार्यकर्ता, फील्ड वर्कर एवं 60 प्लस गंभीर रोग से ग्रसित व्यक्तियों को टीका का प्रिकॉशनरी डोज दिया जाएगा जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ एसके विश्वकर्मा ने बताया जिले में 12,521 स्वास्थ्य कार्यकर्ता 6,095 फील्ड कार्यकर्ता व 95,194 60 प्लस गंभीर रोग से ग्रसित व्यक्तियों को दिया जाएगा।

टीकाकरण के लिए सभी प्रखंड मुख्यालय स्थित पीएचसी व सीएचसी में सत्र स्थल बनाया गया है टीकाकरण केंद्र टीका दोनों खुराक लिए जाने के 9 माह के उपरांत ही प्रिकॉशनरी डोज दिया जाएगा। जिनके ड्यू होने की सूचना उनके पंजीकृत मोबाइल पर एस.एम.एस. कोवीन पोर्टल के माध्यम से प्राप्त होगी तथा इसके लिए उक्त लाभार्थी को नियोक्ता का साक्ष्य प्रस्तुत करना अनिवार्य है।उन्होंने बताया प्रथम दिन 90% लोगों का टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है तथा 2 दिनों में 10 एवं 11 जनवरी को शत प्रतिशत स्वास्थ्य कार्यकर्ता व फील्ड कार्यकर्ता को प्रतिरक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है।

किन लोगों को दी जाएगी प्रिकॉशन डोज

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 60 साल से ऊपर के बुजुर्ग प्रिकॉशन डोज के लिए पात्र होंगे। इसके अलावा, ये डोज दूसरी डोज के 9 महीने बाद यानी दूसरी खुराक देने की तारीख से 39 सप्ताह पर दी जाएगी। इसके अलावा, गाइडलाइन के अनुसार प्रिकॉशनरी डोज के लिए पात्र होने पर लाभार्थियों को कोवीन से एक टेक्स्ट मैसेज भेजा जाएगा, ताकि पता चल सके कि उन्हें वैक्सीन की तीसरी खुराक लेनी है. 60 साल से अधिक आयु के लाभार्थियों को “प्रिकॉशनरी डोज” दी जाएगी. अगर व्यक्ति किसी बीमारी से ग्रसित है एवं चिकित्सक द्वारा उन्हें कोविड-19 का प्रिकॉशनरी डोज लेने का सुझाव दिया है वैसे लाभार्थी द्वारा टीकाकर्मी को किसी प्रकार के प्रमाण पत्र की प्रस्तुत करने की आवश्यकता नहीं है।

कोवीन पोर्टल पर करना होगा स्लॉट बुक

लाभार्थी कोविन प्लेटफॉर्म पर वैक्सीनेशन स्लॉट बुक कर सकेंगे. इसके अलावा, गाइडलाइन्स के अनुसार खुराक लेने के लिए टीकाकरण केंद्र में ऑन स्पॉट भी स्लॉट बुक किया जा सकेगा और टीकाकरण करवाया जा सकेगा।

मिलेगा प्रिकॉशन डोज का सर्टिफिकेट

पात्र लाभार्थियों को प्रिकॉशन डोज मिल जाने के बाद एक सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा. जिस तरह पहली और दूसरी डोज लगने पर सर्टिफिकेट मिला था, उसी तरह प्रिकॉशन डोज लगने के बाद भी सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा।

इन मानकों का करें पालन और कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर

– मास्क का उपयोग और शारीरिक दूरी का पालन जारी रखें।

– नियमित तौर पर लगातार साबुन या अल्कोहल युक्त पदार्थों से अच्छी तरह हाथ धोएं।

– बारी आने पर निश्चित रूप से वैक्सीनेशन कराएं और दूसरों को भी प्रेरित करें।

– लक्षण महसूस होने पर कोविड-19 जाँच कराएं।

राहुल विद्यार्थी फाउंडेशन द्वारा आयोजित होगी टैलेंट सर्च एग्जाम, 100 बच्चे होंगे सम्मानित, पहली बार मधुबनी में जिला स्तरीय टैलेंट सर्च एग्जाम होगी

मधुबनी : राहुल विद्यार्थी फाउंडेशन के चेयरमैन ई० राहुल विद्यार्थी ने प्रेस विज्ञप्ति कर कहा है कि राहुल विद्यार्थी फाउंडेशन द्वारा टैलेंट सर्च एग्जाम आयोजित करने जा रही है। जिसका उद्देश्य जिले के प्रतिभाशाली बच्चों को प्रोत्साहित करना है, जिसमे 100 बच्चों को जिले के वरीय पदाधिकारियों द्वारा सम्मानित किया जाएगा।

प्रथम पुरस्कार के रूप में 10,000 रुपये, द्वितीय पुरस्कार के रूप में 5000 रुपये, तृतीय पुरस्कार 3500 रुपये, चौथी से 10वी तक पुरस्कार स्वरूप दिवाल घड़ी,10 से 20वी तक पुरस्कार स्वरूप हाथ घड़ी, 20 से 50वी तक पुरस्कार डायरी, वही 50 से 100वी पुरस्कार के रूप में राहुल विद्यार्थी फाउंडेशन द्वारा सर्टिफाइड सर्टिफिकेट दिया जाएगा। हमारी संस्था की कोशिश रहेगी कि एग्जाम सेंटर जिले में ब्लॉक स्तर पर हो।

मधुबनी जिले के सभी छात्रों के लिए पहली बार राहुल विद्यार्थी फाउंडेशन द्वारा इतनी बड़ी जिला स्तरीय टैलेंट सर्च एग्जाम आयोजित हो रही है। प्रेस विज्ञप्ति के दौरान वाइस चेयरमैन रणजीत पासवान, नीलाम्बर निराला,रौशन, चन्दन, सुधीर बबलू, सज्जन कुमार, कृष्णा सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

कोरोना टेस्टिंग की रफ्तार में आएगी तेजी

मधुबनी : जिले में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने जांच की संख्या बढ़ाने को लेकर कमर कस ली है. जिला स्वास्थ्य समिति की ओर से भी कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सकरात्मक पहल की जा रही है।

कोरोना जांच को सहज और सुलभ बनाने के उद्देश्य से रविवार को केयर इंडिया के सहयोग से कोविड केयर सेंटर रामपट्टी में 79लैब टेक्नीशियन को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। केयर इंडिया के डी टी एल महेंद्र सिंह सोलंकी ने बताया बताया कि जांच में तेजी लाने के उद्देश्य से लैब टेक्नीशियन को रिफ्रेशमेंट प्रशिक्षण गई है। बताया जितनी अधिक जांच होगी, कोरोना के खिलाफ लड़ाई उतनी ही मजबूत होगी. उन्होंने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि अगर कोरोना के माइनर लक्षण भी दिखे तो कोविड-19 जांच जरूर कराएं।

79 लैब टेक्नीशियन का रिफ्रेशर प्रशिक्षण

विदित हो कि जिले में 79 लैब टेक्नीशियन कोविड-19 जांच में लगे हुए हैं जो सदर अस्पताल सहित जिले के सभी अनुमंडल अस्पताल एवं पीएचसी, सीएससी में कोविड जांच कर रहे हैं वर्तमान में जिले में 5000 से अधिक लोगों की कोविड की जा रही है जिसे बढ़ाकर 9000 करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

सिविल सर्जन ने बताया कि आरटी-पीसीआर से जांच रामपट्टी कोविड-19 सेंटर में उपलब्ध हो गया है जांच चालू हो जाने से अब किसी भी प्रकार का सैंपल निजी संस्थान एवं डीएमसीएच दरभंगा नहीं भेजा जाएगा। बता दें कि वर्तमान में एंटीजन और ट्रूनेट जांच ही जिले में हो रही है। इसके अलावा आरटी-पीसीआर जांच के लिए सैम्पल निजी संस्थान एवं दरभंगा भेजे जा रहे थे। आरटी-पीसीआर मशीन चालू हो जाने से अब जांच रिपोर्ट के लिए लोगों को ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

वर्तमान में आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट आने में तीन से चार दिन का समय लग जाता था। अब लगभग छह से सात घंटे के अंदर जांच रिपोर्ट उपलब्ध हो जाएगी. आरटी-पीसीआर जांच कोरोना की अंतिम जांच होती है। इसमें आने वाली रिपोर्ट को ही सबसे बेहतर माना जाता है। एंटीजन किट से जांच में रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद लक्षण वाले मरीजों के कंफर्मेशन के लिए आरटी-पीसीआर जांच कराई जाती है। जिला स्तर से कोविड केयर सेंटर में चिकित्सकों एवं पारा मेडिकल स्टाफ की प्रतिनियुक्ति कर दी गई है डॉ. कुणाल कौशल को कोविड केयर सेंटर का नोडल ऑफिसर बनाया गया है।

कोरोना गाइड लाइन का पालन करते बैठक आयोजित

मधुबनी : जिले के खजौली प्रखंड क्षेत्र के सुक्की पंचायत के नव निर्वाचित मुखिया अशोक कुमार सिंह की अध्यक्षता में पंचायत भवन परिसर में रविवार को शारीरिक दूरी का पालन करते हुए आम सभा का आयोजन किया गया। बैठक का संचालन उप मुखिया कुन्ती देवी ने की। इस अवसर नव निर्वाचित मुखिया का आम लोगों द्वारा स्वागत किया गया।

आमसभा में सामाजिक सुरक्षा पेंशन, सभी प्रकार के प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, जीपीडीपी, 15वीं वित्त योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, कृषि, मनरेगा, जल जीवन हरियाली, कुआं, तालाब का सौंदर्यीकरण, नल जल योजना, जलजमाव क्षेत्र से जल निकासी सहित कई योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। मुखिया अशोक सिंह द्वारा ऐसे दर्जनो पेन्शन धारी जिनका किसी कारण से पेन्शन रुक गया है, उन्हें अपने स्तर से तत्काल चार चार सौ रुपये मदद दिया। वित्तीय वर्ष 22-23 के लिए 15वें वित्त आयोग योजना का रूपरेखा तैयार कर आम जनता के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

इस अवसर मुखिया श्री सिंह ने कहा कि पंचायत का चहुमुखी विकास उनकी पहली प्राथमिकता होगी। प्रधानमंत्री आवास योजना सहित सभी योजना का क्रियान्वयन पारदर्शी तरीके से होगा। उन्होंने कहा कि 1 से 14 वार्ड तक के सभी वार्ड सदस्य अपने वार्ड में आमसभा कर वार्ड क्षेत्र के विकास की योजना का प्रस्ताव पारित कर जमा किये, ताकि समय से क्षेत्र का विकास किया जा सके।

पंचायत सचिव हरिनंदन मंडल ने लोगों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने एवं टीका लेने की अपील की। इस मौके पर आवास सहायक मुकेश पासवान, विकास मित्र कृष्ण देव राम, किसान सलाहकार संपत्ति पासवान, सरपंच अरुण कुमार सिंह, उप सरपंच काशिन्द्र गोइत सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

बीडीओ ने प्रखंड कार्यालय के दीवारों पर चिपकवाया नोटिस, बिना मास्क आना पूर्णतः प्रतिबंधित

मधुबनी : कोरोना महामारी की तीसरी लहर तेजी से फैल रही है, जिसको लेकर सरकार के निर्देशानुसार बीडीओ अरविंद कुमार ने प्रखंड व अंचल कार्यालय में सभी आगंतुकों का प्रवेश वर्जित कर दिया है। इस संबंध में बीडीओ के निर्देश पर प्रखंड व अंचल कार्यालय के दीवारों पर नोटिस चिपकाया गया है।

बीडीओ ने कहा कि इस महामारी की घड़ी में हम सभी को एहतियात बरतने की जरूरत है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अनावश्यक घर से बाहर न निकले, भीड़भाड़ वाली जगहों पर न जाए, मास्क व सैनिटाइजर का नियमित प्रयोग में लाए। जिन लोगों ने टिका नही लगवाए है, वे अविलंब टिका लगवाए तभी इस महामारी से हम सभी का बचाव हो सकता है। उन्होंने प्रखंड व अंचल के कर्मियों समेत सभी आगंतुकों को बीना मास्क पहने कार्यालय व प्रखंड परिसर में प्रवेश वर्जित कर दिए है।

प्रगति समाज सेवी युवा समिति के द्वारा किया गया समान्य ज्ञान परिक्षा

मधुबनी : जिले के खजौली में रविवार को प्रगति समाज सेवी युवा समिति खजौली के द्वारा प्रखण्ड स्तरीय सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता परीक्षा का आयोजन ब्रह्मदेव चन्द्रकला अंतर महाविद्यालय खजौली में किया गया। जिसमें खजौली प्रखंड क्षेत्र के वर्ग 6 से 10 तक के कुल 124 छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया। इसमें 89 छात्र एवं 35 छात्राओं ने भाग लिया। इस परीक्षा में सामान्य ज्ञान, गणित, हिंदी, अंग्रेजी, विज्ञान एवं तर्कशक्ति से संबंधित कुल 50 बहुवैकल्पिक प्रश्न था। परीक्षा कुल 100 अंको का था।

कमिटी के अध्यक्ष अरुण कुमार यादव ने बताया कि सभी कॉपियों का मूल्यांकन किया जाएगा और जो भी प्रतिभागी सुपर-5 में अपना स्थान प्राप्त करेंगे, उन सभी को 23 जनवरी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती पर एक समारोह आयोजित कर कमिटी के द्वारा आकर्षक उपहार और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा, साथ ही सर्वाधिक अंक लाने वाले एक प्रतिभागी को साईकिल देकर सम्मानित किया जाएगा। इस मौके अरूण कुमार यादव, मिथिलेश कुमार, मुकेश यादव, रामकुमार सिंह, नवल किशोर, रौशन कुमार, संजीव कुमार, जितेंद्र प्रनामी, नवीन प्रभाकर, रविन्द्र कुमार, कृष्ण कुमार, अनीश झा, राजेश कुमार, प्रभाष कुमार सहित अनेकों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

खजौली में फिर मिले तीन कोरोना पॉजीटिव

मधुबनी : जिले के खजौली प्रखंड में कोरोना पॉजीटिव की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। रविवार को भी प्रखंड में कोरोना पॉजीटिव के तीन नए मामले सामने आए। इस प्रकार तीन दिनों में प्रखंड में कोरोना पॉजीटिव की संख्या 15 तक पहुंच गई है।

एलटी श्याम कुमार साह के अनुसार रविवार को एंटीजन कीट से कुल 60 लोगों की जांच की गई, जिनमें एक स्थानीय प्रखंड कार्यालय के कर्मी एवं स्थानीय सीएचसी के दो निजी गार्ड सहित तीन लोग पॉजीटिव पाए गए। उन्होने बताया कि सभी पॉजीटिव व्यक्तियों को सीएचसी स्तर से आवश्यक दवाएं दी गई एवं उन्हें होम क्वरंटाइन रहने की सलाह दी गई है।

सुमित कुमार की रिपोर्ट

swatva

Leave a Reply