22 सितंबर : मधुबनी की मुख्य खबरें

0
swatva samachar

गैर संचारी रोग नियंत्रण को लेकर एक दिवसीय कार्यशाला का हुआ आयोजन

मधुबनी : जिले में आशा नॉन कम्युनिकेबल डिजीज (गैर संचारी रोगों) पर नजर रखने की जिम्मेदारी होगी। आशा कार्यकर्ता के अधीन जिले में कार्यरत जीविका के संकुल क्षेत्र संघ (क्लस्टर फेडरेशन) के क्षेत्र में आयोजित कैंप पर प्रत्येक सोमवार, बृहस्पतिवार एवं शनिवार को संबंधित यूपीएचसी, एपीएचसी, एएचसी पर कार्यरत आशा, एएनएम स्टाफ, नर्स, सीएचओ, चिकित्सा पदाधिकारी एवं डाटा एंट्री ऑपरेटर आदि कर्मियों की एक टीम द्वारा सभी आवश्यक उपकरणों एवं सामग्रियों के साथ उपस्थित होकर लोगों का गैर संचारी रोग से संबंधित बीमारियों का स्क्रीनिंग करेगी।

कार्यक्रम के सफल संचालन के लिए जिले के एक निजी स्थानीय होटल में सभी प्रखंड के एमवाईसी, प्रखंड स्वास्थ्य, बीसीएम जीविका के बीपीएम का एक दिवसीय ओरियंटेशन का किया गया। आशा कार्यकर्ता यूपीएचसी एपीएचसी एवं एचएससी के अंतर्गत कार्यक्षेत्र में ग्रामीण विकास विभाग बिहार सरकार के अंतर्गत जिला स्तरीय जीविका दीदी एवं स्वयं सहायता समूह के प्रत्येक सदस्य एवं उनके घरों में रहने वाले प्रत्येक परिवारों का फैमिली फोल्डर एवं परिवार के 30 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्तियों का सी बैक फॉर्म रुप से भरेगी।

एनपीसीडीएस (कैंसर, मधुमेह, हृदय रोग और स्ट्रोक की रोकथाम और नियंत्रण के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम ) के अंतर्गत पॉपुलेशन बेस्ड मास स्क्रीनिंग फॉर एनसीडी के तहत 30 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के जिले के 4,06,207 व्यक्तियों का एनसीडी स्क्रीनिंग निर्धारित किया गया है। कार्यक्रम के तहत कैंसर, मधुमेह, हृदयवाहिका रोग और लकवा आदि के मरीजों की लक्षणों व सामान्य जांच के आधार पर ऐसे मरीजों को चिह्नित करेंगी। गंभीर बीमारियों से जूझ रहे मरीजों को स्वास्थ्य केंद्रों पर पहुंचाकर इलाज में मदद करेंगी। ताकि नियत समय पर ऐसे मरीजों को अस्पताल में भर्ती कर इलाज हो सकेगा।

गैर संचारी रोग पदाधिकारी डॉ. एस. पी. सिंह ने बताया कि सामान्य भाषा में ऐसा रोग जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता है, गैर संचारी रोग कहलाता है। ऐसे गैर संचारी पांच रोगों की पहचान और रोकथाम के लिए आशा जीविका दीदी काम करेंगी। इन रोगों में मधुमेह, उच्च रक्तचाप, मुंह का कैंसर, स्तन कैंसर, बच्चेदानी के मुंह का कैंसर शामिल है। ये सभी रोग खान-पान तथा रहन सहन के स्तर पर निर्धारित होते हैं।

आशा दीदी को दिया गया है प्रशिक्षण :

जिला कार्यक्रम प्रबंधक डॉ दया शंकर निधि ने बताया रोगों की पहचान व इलाज में मदद कराने के लिए आशा दीदी को प्रशिक्षण दिया गया है। आशा  अपने क्षेत्र के 30 की उम्र पार कर रहे स्त्री व पुरुषों का सी बैक फार्म व फैमिली फोल्डर फार्म भरेंगी। वेलनेस सेंटर पर कार्यरत एएनएम फार्म को एनसीडी एप्लीकेशन पर अपलोड करेंगी। बीमारी की पुष्टि होने पर पीड़ित को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर लाकर इलाज शुरू किया जाएगा। प्रबंधक ने बताया जीविका के माध्यम से अब हम लोग हर घर तक पहुंच और लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। जीविका का कार्यक्रम के तहत समन्वय एक सराहनीय कदम है इसके लिए  मजबूत माइक्रो प्लान बनाने की जरूरत है ताकि जहां पर आप कब कार्यक्रम ऑर्गेनाइज करना चाह रहे। उसका माइक्रो प्लान करना आवश्यक है साथ ही कार्यक्रम का नियमित पोर्टल पर एंट्री किया जाना चाहिए।

कुल छह बिदुओं पर ली जाएगी जानकारी :

अभियान को सफल बनाने के लिए सभी आशा को सी-बैक फॉर्म उपलब्ध कराया जाएगा। अपने-अपने क्षेत्रों में आशा जीविका दीदी के घर में जाकर लोगों से पूछताछ करेंगी और चिह्नित रोगों के बारे में जानकारी लेकर फॉर्मेट में भरेगी। भरे हुए फॉर्मेट की सहायता से एएनएम टेबलेट के जरिए जानकारियों को एनसीडी एप पर अपलोड करेगी। मरीजों से कुल 6 बिदुओं पर जानकारी ली जाएगी। जीविका दीदी द्वारा स्क्रिनिग किए गए मरीजों को सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर इलाज के लिए प्रेरित किया जाएगा।

40 प्रतिशत कैंसर तंबाकू तथा तंबाकू युक्त पदार्थ से होता है:

एसीएमओ डॉ. आर.के सिंह ने कहा 40% कैंसर सिर्फ तम्बाकू एवं तम्बाकू युक्त पदार्थ के सेवन से होता है। बिहार में सबसे ज्यादा मुंह का कैंसर होता है जिसमें 90% कैंसर तम्बाकू आदि के सेवन से होता है। कैंसर किसी का इंतजार नहीं करती है। तम्बाकू को किसी भी रूप में सेवन करने से मनुष्य की कम से कम 10 वर्ष आयु कम हो जाती है। तम्बाकू से सिर्फ कैंसर ही नहीं होता बल्कि नाखून और बाल छोड़कर ये मनुष्य के हर अंग को प्रभावित करता है। ज्यादातर लोग तम्बाकू का सेवन 17 से लेकर 22 उम्र तक  ही शुरू करते है।

ज्यादातर सेवन साथियों के दबाव के कारण ही होता है। जिससे उनके परिवार की आर्थिक स्थिति भी खराब हो जाती है। मुंह के कैंसर से ग्रसित 70 से 80 % लोगों की मृत्यु हो जाती है। कार्यक्रम में एसीएमओ डॉ. आर के सिंह, सीडीओ जी एम ठाकुर, जिला कार्यक्रम प्रबधक  डॉ. दया शंकर निधि, जीविका डीपीएम ऋचा गार्गी व एमवाईसी, प्रखंड स्वास्थ्य, बीसीएम जीविका के बीपीएम उपस्थित थे।

कॉमरेड मुर्तुजा की अध्यक्षता में देवधा शाखा यूनिट  में शाखा सम्मेलन प्रारंभ की गई

मधुबनी : जिले के जयनगर प्रखंड के देवधा में देवधा शाखा यूनिट का शाखा सम्मेलन प्रारंभ की गई है, जिसकी अध्यक्षता कॉमरेड मुर्तुजा ने की, तथा संचालन कॉमरेड मो० इब्राहिम ने की। आयोजित सम्मेलन में पर्यवेक्षक के रूप में पूर्व जिला मंत्री कॉमरेड राम जी यादव, अंचल मंत्री कॉमरेड उपेन्द्र यादव, राज्य कमिटी सदस्य कॉमरेड शशिभूषण प्रसाद, माकपा के युवा नेता सह (अधिवक्ता) कॉमरेड कुमार राणा प्रताप सिंह। मौजूद रहे।

इस आयोजित सम्मेलन में कॉमरेड मो० इब्राहिम, मो० मुर्तुजा, मो० नूर मोहम्मद, मो० नूर मोहम्मद शेख, मो० शमीम, मो० सलाम, मो० इसराईल, मो० कुर्बान, मो० अली हसन के अलावे अन्य साथियों ने भाग लिया। इस आयोजित सम्मेलन में कॉमरेड अलीहस को देवधा यूनिट का शाखा सचिव चुना गया।

संयुक्त किसान संगठन के आव्हान पर 27 सितम्बर को भारत बंद की बैठक में महागठबंधन के भाकपा(माले), माकपा, भाकपा, राजद, कांग्रेस हुए शामिल

मधुबनी : देश व खेती बचाने के लिए 27 सितंबर को भारत बंद को ऐतिहासिक बनाने में सहयोग करने की जयनगर जनता से अपील तीनों कृषि विरोधी कला कानून के खिलाफ संयुक्त किसान संगठनों के आव्हान पर 27 सितंबर को भारत बंद सफल बनाने हेतु पुराना नगर पंचायत जयनगर में महागठबंधन भाकपा-माले, भाकपा, माकपा, कांग्रेस, राजद की बैठक राजद के प्रखंड अध्यक्ष रामप्रसाद यादव के अध्यक्षता में आयोजित किया गया। इस बैठक को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि भारत बंद को ऐतिहासिक बनाने की जोरशोर से तैयारी किया जाएगा।

उन्होंने आगे कहा कि जिस तरह से कृषि कानून बनाए गए हैं, उसका असर न केवल खेती पर पड़ रहा है, बल्कि आम लोगों के महंगाई पर इसका असर पड़ने लग गया है।  “आवश्यक वस्तु अधिनियम कानून 2020” का असर इस तरह से होने लगा है कि लोग ₹200 से ज्यादा रुपए सरसो तेल खरीदने को विवश है,  जबकि इस बार तेलहन की उपज सबसे ज्यादा हुई है, फिर भी सरसों तेल का दाम दुगुना से भी ज्यादा हो गया है। ऐसा इसलिए हो रहा है कि महंगाई पर अंकुश लगाने वाले कानून आवश्यक वस्तु अधिनियम कानून जो 1955 में लागू हुआ था।

खाद्यान्न की कीमतों पर अंकुश लगाने का काम करता था. लेकिन उक्त कानून को निरस्त करके किसानों के नाम पर कारपोरेट को फायदा पहुंचाने वाला “आवश्यक वस्तु अधिनियम संशोधन कानून 2021” बना दिया गया। आज सारे सीमाओं को तोड़कर विरोध करने की जरूरत है। उन्होंने आगे कहा कि 27 सितंबर को सड़क पर उतरकर भारत बंद को सफल बनाने का महागठबंधन आह्वान किया। इस बैठक को राजद के प्रखंड अध्यक्ष रामप्रसाद यादव, भूषण सिंह भाकपा माले प्रखंड सचिव, शशि भूषण प्रसाद राज्य कमिटी सदस्य माकपा, उपेंद्र यादव अंचल मंत्री माकपा, रामचंद्र पासवान आंचल मंत्री भाकपा के अलावे माले के मुस्तुफा, तसलीम, भाकपा के जहांगीर ने संबोधित किए।

पंचायत चुनाव-2021 को शांत एवं सौहार्दयपूर्ण वातावरण में संपन्न कराने को लेकर जिला थाना तैनात

मधुबनी : बिहार अपराध नियंत्रण अधिनियम 1981 के तहत न्यायालय, समाहर्ता, मधुबनी द्वारा आगामी पंचायत निर्वाचन-2021 में विधि-व्यवस्था तथा शांति व्यवस्था व ग्रामीण आम लोगों एवं मतदाताओं में भय का माहौल के दृष्टिकोण से असामाजिक तत्व/सक्रिय अपराधकर्मी एवं संदिग्ध व्यक्तियों से साठगांठ रखने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध बिहार अपराध नियंत्रण अधिनियम, 1981 की धारा-3, उपधारा-3 के अंतर्गत मधुबनी जिला में आसन्न पंचायत चुनाव-2021 को शांत एवं सौहार्दयपूर्ण वातावरण में संपन्न कराने की प्रक्रिया पूर्ण (पंचायत चुनाव के अंतिम चरण) होने तक के लिए जिला-मधुबनी थाना बदर किया गया हैl

उल्लेखित तथ्यों के आधार पर आपराधकर्मी का सूची निम्नवत है :-

1. राहुल कुमार, पिता-रामभरोस सहनी, औसी जीरो माइल, थाना-बिस्फी

2.मोo इस्तइम, पिता-मोo शमीम, साo-गीदरगंज, थाना-अंधराथाढ़ी

3. श्याम मण्डल, पिता-स्वo दुःखी मण्डल, साo-तेनुआही, थाना-लदनियाँ

4. गोपाल महतो, पिता-चंद्रकांत महतो, साo- सफहा, थाना-अररिया संग्राम

5. रघुवीर पासवान, पिता-महेन्द्र पासवान, साo- गौरा अंधरा, थाना-रूद्रपुर

6. संजीत कुमार साह उर्फ़ बादल गुप्ता, पिता-स्वo गंगा प्रसाद गुप्ता, साo-माधवापुर, थाना-माधवापुर

7. रणधीर कुमार सिंह उर्फ़ कारी सिंह, पिता-स्वo राजेंद्र सिंह, साo- खानगाँव, थाना-पंडौल

8. अर्जुन यादव, पिता-रामचंद्र यादव, साo-वीरपुर, थाना-मधेपुर

9. विजय कुमार साह, पिता-स्वo- जयनारायण साह, साo-बिहारी, थाना- माधवापुर

10. रामबाबू यादव, पिता-स्वo-मन्नू लाल यादव, साo-लक्ष्मीपुर, थाना-कलुआही

11. मुकेश झा, पिता-राज कुमार झा, साo-नरुआर, थाना- भैरवास्थान

12. संजय यादव उर्फ़ लक्ष्मण यादव, पिता-वैद्यनाथ यादव, साo-टोकना टोल, थाना-भेजा

13. जीवछ साह उर्फ़ मखन साह, पिता-कृष्णचंद्र साह उर्फ़ दुखन साह, साo- मधेपुर, थाना-मधेपुर

14. मोo वशीम, पिता- मोo शमीम, साo-गीदरगंज, थाना-अंधराथाढ़ी

15. राजाराम मण्डल, पिता-लक्ष्मी मण्डल, साo-जेo पीo कॉलोनी, थाना-नगर मधुबनी

16. महेन्द्र मुखिया, पिता-अधिक लाल मुखिया, साo-तमुरिया, थाना-लखनौर

17. मोo मुन्ना, पिता-मोo मुस्लिम, साo-गीदरगंज, थाना-अंधराथाढ़ी

18. लक्षणदेव मण्डल, पिता-स्वo- शिवनन्दन मण्डल, साo-बिहारी, थाना-माधवापुर

19. जय श्री पासवान उर्फ़ जयसो पासवान, पिता-स्वo-अयोधी पासवान, साo-लक्ष्मीपुर, थाना-कलुआही

20. ओम साह, पिता-दुःखी साह, साo-सुभाष चौक गंज, वार्ड नंo-14, थाना-नगर मधुबनी

उक्त सभी अपराधकर्मी को आदेशा दिया गया है की वे आदेश प्राप्ति के तिथि से प्रत्येक तिथि को सदेह उपस्थित होकर अपने-अपने सम्बंधित थाना में 10:00 बजे पूर्वांहन से 11:00 बजे पूर्वांहन तथा संध्या 05:00 बजे से 06:00 बजे के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज कराएँगे एवं सम्बंधित प्रखंडो के चुनाव में मतदान की तिथि के दिन अपने मत का प्रयोग करने की स्तिथि में सम्बंधित थानाध्यक्ष को, मतदान केंद्र पर पहुंचने हेतु यात्रा रूट, चलने का समय एवं वापसी का समय अंकित कर पूर्ण ब्यौरा समर्पित करना होगा, तदुपरांत थानाध्यक्ष से अनुमति प्राप्त के हीं मतदान केंद्र पर मतदान करने हेतु प्रस्थान करेंगे l

18वीं वाहिनी सशस्र सीमा बल, राजनगर ने ज़रूरतमंदों के बीच खाध सामग्री का किया वितरण, 250 लोगों को किए सहायता प्रदान

मधुबनी : कोविड-19 राहत कोष से लोगों को पहुँचाया गया मदद, आगे भी सहायता कि प्रदान किया जाएगा। अनुमंडल मुख्यालय सदर मधुबनी के अन्तर्गत 18वीं वाहिनी एसएसबी राजनगर स्थित राज परिसर में 18वीं वाहिनी एवं स्वयं सेवी संस्था के सर्वो प्रयास संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में न्यू लोकेशन परिहारपुर में गरीबों एवं जरूरतमंदों के मध्य खाद्य सामग्रियों का वितरण किया गया। एसएसबी के 18वीं वाहिनी के सेनानायक अरविंद कुमार वर्मा एवं सर्व प्रयास के पदाधिकारियों द्वारा संयुक्त रुप से प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न भागों में से आए तकरीबन ढाई सौ जरूरतमंदों के बीच फूड पैकेट का वितरण किया गया।

इस मौके पर मौजूद एसएसबी के 18वीं वाहिनी के कमांडेंट अरविंद वर्मा ने बताया कि कोविड-19 राहत कोष से गरीबों एवं जरूरतमंदों के बीच फूड पैकेट का वितरण किया गया है। फूड पैकेट के माध्यम से लाभुकों को दैनिक उपयोगी से जुड़ी खाद सामग्रियों मसलन चावल, दाल, आटा, सरसों तेल, चुरा, बिस्कुट, मिक्चर आदि प्रदान किया गया। मौके पर मौजूद 18वीं वाहिनी एसएसबी के डिप्टी कमांडेंट अमित कुमार कुशवाहा व बृजेश यादव निरीक्षक, निरीक्षक समान प्रदीप मंडल, उपनिरीक्षक समान मुकेश कुमार सहित दो दर्जन एसएसबी जवान उपस्थित थे।

घटिया निर्माण की बाली चढ़ा शहीद अकलू साह एवं गणेशी ठाकुर द्वार

मधुबनी : प्रो० शीतलाम्बर झा अध्यक्ष, जिला कांग्रेस कमिटी मधबनी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है मधुबनी नगर निगम द्वारा पिछले वर्ष 2020 में शहीद अकलू साह एवं गणेशी ठाकुर द्वार कई लाख रुपये से निर्मित हुआ था। आज आलम यह है की घटिया किस्म के सामाग्री का प्रयोग कर उसकी गुणबत्ता पर प्रश्नचिन्ह खड़ा हो गया है। इस संबंध में कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रो० शीतलाम्बर झा ने जिलापदाधिकारी को एक पत्र देकर इसकी सम्पूर्ण निर्माण की गुणवत्ता की जांच तकनीकी विभाग से कराकर दोषी ठीकेदार एवं विभाग पर कठोर कार्रवाई की मांग की है।

प्रो० झा ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि द्वार में लगे पत्थर गिरना शुरू हो गया है। पिछली रात में ऊपर में लगे कुछ पत्थर गिरा है। यह द्वार शहर के ब्यस्तम चौक पर अवस्थित है, जहां से प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग इस रास्ते से गुजरते है। कभी भी बड़ी हादसा हो सकती है, और लोगों की जान जा सकती है। यह एक संगीन जुल्म है, इसे अविलम्भ निष्पक्ष जांच कर दोषी पर कार्रवाई एवं द्वार की शीघ्र मरम्मती करबाने का आग्रह किया है।

मधुबनी जिला परिषद क्षेत्र संख्या-26 से प्रत्याशी रजनी कुमारी का विकास के प्रति अलग नजरिया

मधुबनी : जिले में पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के लिए मधुबनी जिला के पन्डौल प्रखंड एवं रहिका प्रखंड मे चुनाव होने है, जिसकी मतदान 29सितंबर को निर्धारित है।पंचायत चुनाव मे कुल 06पदो के लिए मतदान होने है, इसके लिए पंचायतो मे गहमागहमी तेज हो गई है। चौक-चौराहों पर ग्रामीणो द्वारा चर्चाओं का बाजार गर्म है। पंचायत चुनाव मे एक पद के लिए कई प्रत्याशियों द्वारा नामांकन किया गया है, जिसमे सिटिंग प्रत्याशी भी अपना भाग्य आजमा रहे है। जनता सिटिंग प्रत्याशी के कार्यो का आकलन कर रही है, वही नये प्रत्याशी की नब्ज टटोल रही है। प्रत्याशियों द्वारा जनसंपर्क किया जा रहा है, साथ ही कई प्रकार के विकास के दावे किए जा रहे है।

वही जिला परिषद पद क्षेत्र संख्या-26 से रजनी कुमारी पहली बार चुनावी मैदान मे उतरी है, जिसे लेकर वह लगातार जनसंपर्क कर रही है।जिला पार्षद प्रत्याशी रजनी कुमारी बताती है की वह शिक्षित परिवार से आती है, एवं खुद एमए की पढ़ाई कर रही है। मेरा परिवार आर्थिक रूप से सम्पन्न है। मै नौकरी करके भी अच्छा जीवन व्यतीत कर सकती हूँ, लेकिन अपने क्षेत्र की बदहाली देखकर दुखी रहती हूँ। जनता के दुख-दर्द को महसूस कर रही हूँ। पूर्व के प्रत्याशियों द्वारा इस क्षेत्र के विकास के लिए कुछ नही किया है, सभी ने ठगने का काम किया है।जनता की मांग पर मैने जिला परिषद क्षेत्र संख्या-26 के लिए नामांकन किया है। जनता के द्बारा मिल रहे समर्थन से अभिभूत हूँ।

जनता अगर हमे मौका देती है, तो सबसे पहले इस क्षेत्र की सबसे जटिल समस्या कई गांवो मे फैली जलजमाव की समस्या को खत्म करूंगी। इस जलजमाव के कारण कई एकड़ मे फैली खेती की जमीन बर्बाद हो रही है, जिससे किसानो की आर्थिक स्थिती खराब हो गई है। यूरिया की कालाबाजारी हो रही है।भ्रष्टाचार, स्वास्थ्य सेवा, शिक्षा, सरकारी योजनाओ को पारदर्शी तरीके से धरातल पर उतारने, जनता के बीच चौबीस घंटा उपल्बध एवं अन्य मूलभूत समस्याओ पर काम करूंगी। साथ ही जिला परिषद के अधिकार क्षेत्र से बाहर की इस क्षेत्र की समस्याओ के निदान ले लिए आवाज उठाऊंगी।

जेएमडीपीएल महिला कॉलेज मे सभी विषयो की पोस्ट ग्रेजुएट पढ़ाई शुरू करने को लेकर विधायक ने कुलपति को लिखा पत्र

मधुबनी : विधानसभा के आरजेडी विधायक सह प्रवक्ता समीर कुमार महासेठ ने नगर के जेएमडीपीएल महिला कॉलेज मे सभी विषयो की पोस्ट ग्रेजुएट पढ़ाई शुरू करने को लेकर ललित नारायणा मिथिला विश्वविधालय के कुलपति को पत्र लिखा है, जिसकी प्रतिलिपि प्रधानाचार्य जेएमडीप़ीएल महिला कॉलेज,मधुबनी को भी दी गई है।

कुलपति को लिखे पत्र मे विधायक समीर कुमार महासेठ ने लिखा है की मधुबनी जिला की लगभग 50लाख की आबादी मे छात्राओ के पठन-पाठन के लिए यह एक मात्र महिला कॉलेज है, जिसमे करीब पांच से छह हजार छात्राओ का विभिन्न विषयो मे नामांकन होता है। परंतु पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई नही होने के कारण इन छात्राओ को आगे की पढ़ाई के लिए विभिन्न महाविद्यालय की ओर रुख करना पड़ता है, जिसके कारण इन छात्राओ को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

इस महिला कॉलेज मे पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई नही होने के कारण बहूत सी छात्राएं आगे की पढ़ाई नही कर पाती है।अतः आग्रह है की महिला सशक्तिकरण को आगे बढ़ाने के लिए एवं महिलाओ के स्वावलंबन हेतू सभी विषयो की पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई जेएमडीपीएल महिला कॉलेज,मधुबनी मे शुरू करवाने की कृपा की जाय।

सुमित कुमार की रिपोर्ट 

swatva

Leave a Reply