20 सितंबर : मधुबनी की मुख्य खबरें

0
swatva samachar

अन्नप्राशन दिवस के अवसर पर छः माह के उपर के बच्चों को पौष्टिक आहार खिलाकर कराया गया अन्नप्राशन

मधुबनी : जिले में सितंबर माह पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। इसके अंतर्गत बच्चों को कुपोषण से बचाने तथा गर्भवती महिलाओं में एनीमिया दर में कमी लाने के लिए कई तरह के कार्यक्रम किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में सोमवार को जिला प्रोग्राम पदाधिकारी शोभा सिन्हा के द्वारा पंडौल प्रखंड के पश्चिमी पंचायत के मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 07 पर अन्नप्राशन दिवस मनाया गया एवं आंगनबाड़ी परिसर में फलदार वृक्ष लगाया गया। जिला प्रोग्राम पदाधिकारी ने पोषण माह के इस साल के थीम “कुपोषण छोड़ पोषण की ओर,थामे क्षेत्रीय भोजन की डोर” को समझाते हुए विस्तृत जानकारी दी।

आंगनबाड़ी केंद्रों पर मेहंदी प्रतियोगिता का भी आयोजन कर पोषण का संदेश दिया गया। बच्चों का अन्नप्राशन कराते हुए डीपीओ शोभा सिन्हा ने बताया 6 माह से ऊपर के बच्चों को किस तरीके से पूरक आहार का सेवन करवानी है, इसकी भी जानकारी परिजनों को दी। डीपीओ ने बताया कि हर महीने की 19 तारीख को यह आयोजन करवाया जाता है। बच्चों में कुपोषण खत्म करने के लिए आईसीडीएस लगातार अपना कार्यक्रम चला रहा है। उन्होंने बताया अन्नप्राशन कराने के लिए सेविका अपने से तैयार कर खिचड़ी और खीर ले जा रही हैं। सेविका गांव के चिन्हित घरों में जहां छह माह के बच्चे हैं, वहां अन्नप्राशन करवा रही हैं।

6 माह के बाद सिर्फ स्तनपान पर्याप्त नहीं :

6 माह पूर्ण होने के बाद शिशु को अधिक उर्जा की जरूरत होती है। इस दौरान उनका शारीरिक एवं मानसिक विकास तेजी से होता है। इसके लिए सिर्फ स्तनपान पर्याप्त नहीं होता है। इसलिए 6 माह के बाद स्तनपान के साथ अनुपूरक आहार की भी जरूरत होती है।

अर्धठोस आहार के बारे में दी गयी जानकारी :

अन्नप्राशन के दिन बच्चों को गाढ़ी दाल, अनाज, हरी पत्तेदार सब्जियां, स्थानीय मौसमी फल और दूध व दूध से बने उत्पाद खिलाया जाता है. तरल व पानी वाला भोजन जैसे दाल का पानी या माढ़ आदि न देकर उतना ही अर्धठोस आहार दिया जाता है, जितना बच्चे खा सकें। धीरे-धीरे भोजन की मात्रा, भोजन का गाढ़ापन बढ़ाये जाने की सलाह दी जाती है।

मेहंदी लगा कर दिया पोषण का संदेश :

आंगनबाड़ी केंद्रों पर मेहंदी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मेहंदी लगा कर सेविकाओं और महिलाओं ने पोषण का संदेश दिया। इस दौरान महिलाओं ने जागरूकता के लिए अपने हाथों पर मेहंदी से पोषण के महत्व से संबंधित सन्देश लिखवाया। जहां उन्होंने उपस्थित महिलाओं को 6 माह तक सिर्फ स्तनपान( ऊपर से पानी भी नहीं) एवं बोतल दूध पिलाने के नुकसान आदि बातों की चर्चा की।

इन बातों का रखें ख्याल :

• 6 माह बाद स्तनपान के साथ अनुपूरक आहार शिशु को दें।
• स्तनपान के अतिरिक्त दिन में 5 से 6 बार शिशु को सुपाच्य खाना दें।
• शिशु को मल्टिंग आहार (अंकुरित साबुत आनाज या दाल को सुखाने के बाद पीसकर) दें।
• माल्टिंग से तैयार आहार से शिशुओं को अधिक ऊर्जा प्राप्त होती है।
• शिशु यदि अनुपूरक आहार नहीं खाए तब भी थोड़ा-थोड़ा करके कई बार खिलाएं।

मौके पर जिला प्रोग्राम पदाधिकारी शोभा सिन्हा, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी रोमा कुमारी, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के जिला समनव्यक अंजनी कुमार झा, प्रखंड समन्वयक शिशु सिन्हा, सहायक अजय शंकर, महिला पर्यवेक्षिका एवं सेविका मौजूद थी

पाँच केन्द्रों पर महिला मतदान को पदाधिकारी ने दिया प्रशिक्षण

मधुबनी : जियाउर रहमान, नोडल पदाधिकारी, प्रशिक्षण प्रबंधन कोषांग-सह-लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, झंझारपुर के अध्यक्षता में एवं आफाक अहमद, पवन कुमार लाल कर्ण तथा सभी केन्द्रों के प्रभारी मास्टर ट्रेनर साबिर हुसैन, शंकर प्रसाद सिंह, विजय कुमार, संजय श्रीवास्तव, राजेश रंजन, सतीश सिंह के द्वारा जिले के पाँच केन्द्रों पर महिला मतदान पदाधिकारी को प्रशिक्षण दिया गया।

प्रशिक्षण के दौरान उपस्थित सभी प्रशिक्षणार्थियों को ई०वी०एम० क संचालन, मतदान प्रक्रिया, ई०वी० एम० मतपेटी को सिलिंग एवं मतदान पदाधिकारियों के कर्तव्य के बारे में विस्तार से जानकरी दिया गया एवं सभी मतदान पदाधिकारियों को उनके अपने -अपने दायित्वों से संबंधित प्रश्नों को पूछकर उनकी शंकाओं का विस्तार पूर्वक समाधान किया गया।

जिला पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक

मधुबनी : अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग, बिहार एवं पुलिस महानिदेशक, बिहार के अध्यक्षता में पंचायत आम निर्वाचन-2021 के विधि-व्यवस्था एवं तैयारी को लेकर सभी क्षेत्रीय आयुक्त, पुलिस उपमहानिरीक्षक, जिला पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक आहुत की गई। जिसमें जिला पदाधिकारी, मधुबनी अमित कुमार एवं पुलिस अधीक्षक, मधुबनी डॉ० सत्यप्रकाश एवं विशेष कार्य पदाधिकारी, मधुबनी सुरेन्द्र राय भी शामिल हुए।

बैठक के दौरान अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग, बिहार एवं पुलिस महानिदेशक, बिहार द्वारा सभी जिलों से पंचायत आम निर्वाचन-2021 को लेकर विधि एवं व्यवस्था संबंधित जानकारी लिया गया तथा उक्त के संबंध में विस्तृत चर्चा किया गया।

जिला स्तरीय अनुश्रवण एवं सतर्कता समिति की त्रैमासिक बैठक जिला पदाधिकारी के कार्यालय प्रकोष्ठ में हुई सम्पन

मधुबनी : जिला पदाधिकारी, मधुबनी अमित कुमार की अध्यक्षता में अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1995 के समय पर संशोधित नियम के अन्तर्गत जिला स्तरीय अनुश्रवण एवं सतर्कता समिति की त्रैमासिक बैठक जिला पदाधिकारी के कार्यालय प्रकोष्ठ में सम्पन हुई।

बैठक के दौरान अपर समाहर्त्ता मधुबनी, उप विकास आयुक्त, मधुबनी, ए.पी.पी., पुलिस उपाधीक्षक जिला मुख्यालय, एस.सी./एस.टी.थानाध्यक्ष, राम बाबू, कैलास एवं विधान पार्षद घनश्याम ठाकुर एवं अन्य सदस्य बिहार विधान सभा के प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

बैठक के दौरान अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1995 के समय पर संशोधित नियम के अन्तर्गत जिला स्तरीय अनुश्रवण एवं सतर्कता समिति की त्रैमासिक द्वारा विस्तृत चर्चा किया गया एवं बैठक के अंतिम क्षण में उपस्थित सभी पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधिगण को जिला कल्याण पदाधिकारी, मधुबनी द्वारा धन्यवाद ज्ञापन की गयी।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर सरकार और प्रशासन पूरी तरह से सख़्त

मधुबनी : बिहार में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर सरकार और प्रशासन पूरी तरह से सख़्त है। लेकिन, एक पंचायत के मुखिया जी का आचार संहिता में एक अनोखा प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। बिहार के एक मुखिया जी का ऐसा प्रचार-प्रसार करना या फिर आम मतदाताओं को रिझाने का यह तरीक़े बहुत ही अजूबा है। पहले ऐसा भी होता था कि प्रत्याशियों के द्वारा शराब साड़ी और पैसे बांट कर मतदाताओं को प्रोलभन देकर बहुमूल्य वोट ले लिया जाता था।

लेकिन, जब से सरकार और प्रशासन अलर्ट हुई है, तब से प्रत्याशियों को रुपये, शराब और साड़ी बांटना बंद हो गया है। एक मुखिया जी रूपए, शराब और साड़ी तो नही बांट रहे हैं, लेकिन बार-बालाओं से नाच करवा कर मतदाताओं को लुभाने के काम किया है।दरअसल, मामला मधुबनी जिले के हरलाखी प्रखण्ड स्थित गंगौर पंचायत से सामने आया है जहां, के मुखिया जी शिवचंद्र मिश्रा इन दिनों अपने पंचायत के आम मतदाताओं को रिझाने के लिये एक नया तरक़ीब सोचा है।

जो कि अपने पंचायत में विश्वकर्मा पूजा के बहाने बार-बालाओं से नचवाया और ख़ुद का बैनर पोस्टर लगवा कर आचार संहिता का उल्लंघन भी किया है। स्टेज पर ही बैनरों में मुखिया जी का फ़ोटो दिख रहा है, जिससे लगता है कि गंगौर पंचायत के निवर्तमान मुखिया जी यह नया तरक़ीब सोचा है प्रचार प्रसार करने के लिये, जो पूरी तरह से अद्भुत और अनोखा है। लेक़िन अब सवाल यह है कि पंचायत चुनाव को लेकर चुनाव आयोग भी सख़्त है, आखिर अब इस प्रकरण पर क्या एक्शन होगा।

सेलीब्रेटिंग प्राइड ऑफ मधुबनी अवॉर्ड से सम्मानित हुए विधायक व पूर्व विधान पार्षद, समाजसेवी गुड़िया के कार्यो की हुई जमकर सराहना

मधुबनी : जिला अंतर्गत हरलाखी प्रखंड मुख्यालय के प्रक्षिक्षण भवन में उन्नति युवती फाउंडेशन की संचालिका सह समाजसेवी गुड़िया साह के द्वारा सेलीब्रेटिंग प्राइड ऑफ मधुबनी अवॉर्ड प्रोग्राम का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता पूर्व विधान पार्षद सुमन महासेठ व मंच संचालन जिले के वरिष्ठ पत्रकार उदय झा ने की। कार्यक्रम की शुरुआत सभी अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्वलित के बाद जय जय भैरवी स्वागत गीत के साथ किया गया।

उसके बाद अयाची नगर युवा संगठन के संचालक सह समाजसेवी विक्की मंडल के नेतृत्व में मंचासीन 31 खजौली विधानसभा के विधायक अरुण शंकर प्रसाद साह, पूर्व विधान पार्षद सुमन महासेठ, महिला हेल्पलाइन का अध्यक्ष वीणा चौधरी, ग्लोबल हार्ट हॉस्पिटल उमगांव के संचालक डॉ० गगन कुमार गिरी, डॉ० सुनील कुमार, लाईफ लाइन हॉस्पिटल के संचालक डॉ० संतोष सिंह कुशवाहा, पीएनबी उमगांव के कैशियर भूषण कुमार व अतिथि के रूप में प्रिया राज, गायिका निधि राज, ग्रामरक्षा दल के जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र दास,अजीम शेख, प्रिया झा, पत्रकार संजय राउत, सरोज कुमार समेत दर्जनों अतिथियों को पाग, दोपट्टा, मोमेंटो व मेडल से स्वागत किया गया। इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि के रूप में विधायक अरुण शंकर प्रसाद ने कहा कि बेटी कोई अभिशाप नही, बल्कि ओ नही तो हम और आप नही। आज बहुत ही गर्व की बात है कि गुड़िया हमारे समाज के बेटियों को आत्मनिर्भर बना रही है, और करीब चार वर्षों से समाज के हित मे इनके द्वारा अनेको उत्कृष्ट कार्य किया गया है।

बेटियों को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने के लिए बाल विवाह, दहेज प्रथा, भ्रूण हत्या व भोजपुरी अश्लील गीतों समेत समाज के अन्य कुरुतियों के खिलाफ मुहिम चलाकर समाज के लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इसी प्रकार विश्वव्यापी कोरोना महामारी के बीच अपने टीम के साथ उन्होंने जान को जोखिम में डाल लोगों को सहायता की। इतना ही नही खुद ठेला चलाकर असहाय व जरूरतमंदों तक राशन सामग्रियों को पहुँचाई, ताकि कोई गरीब परिवार भूखे ना रहे। महज एक छोटी सी उम्र से समाज मे उत्कृष्ट कार्य करती आ रही गुड़िया हम समाज के लोगों के लिए प्रेरणास्रोत बन चुकी है। उन्होंने कहा कि गुड़िया को मदद के लिए हम सबको आगे आने की जरूरत है।वहीं पूर्व विधान पार्षद सुमन महासेठ ने कहा कि गुड़िया के कार्यो को जितना तारीफ किया जाय कम है।

महज एक गरीब घर की बेटी आज हिम्मत और साहस के साथ सुदूर ग्रामीण क्षेत्र के महिलाओं व बेटियों को आत्मनिर्भर बना रही है, और कई वर्षों से अपने टीम के साथ मिलकर सामाजिक कुरीतियों के साथ लड़ रही है। इस कार्यक्रम के दौरान सभी अतिथियों ने संचालिका गुड़िया के कार्यो का जमकर सराहना की और उन्हें आगे बढ़ने का हौसला बढ़ाते हुए हर सम्भव मदद करने की बात कही। वहीं छोटी सी बच्ची कृति कुमारी व तृप्ति कुमारी ने अपने मधुर गीतों से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस मौके पर आब भेल बिहान के संस्थापक राधे पासवान, मनोज पासवान, अजीत कुमार, रागनी कुमारी सताक्षी कुमारी, पल्लवी कुमारी, मुन्नी कुमारी, अंजू कुमारी समेत दर्जनों लोग मौजूद थे।

मार्क्सवादी अंचल कमिटी द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में बैठक कर यूनिट की गई कमिटी की गठन

मधुबनी : भारत की कम्युनिस्ट पार्टी(मार्क्सवादी) अंचल कमिटी जयनगर द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में बैठक कर यूनिट कमिटी की गठन की गई, बेला बांध चौक के बगल में स्वागत समिति की बैठक की गई। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया की सम्मेलन का स्वागताध्यक्ष कॉमरेड जागेश्वर यादव, स्वागत मंत्री कॉमरेड उपेन्द्र यादव, कोषाध्यक्ष कॉमरेड सुकेन्द्र प्रसाद का चुनाव किया गया। वहीं, पिटवा टोल यूनिट सम्मेलन में सर्वसम्मति से रत्नेश्वर प्रसाद को यूनिट सचिव के पद पर चुनाव हुआ। वहीं, खैरामाट “ख” में बैठक कर वहां के यूनिट सचिव चमक यादव सर्वसम्मति से चुना गया।

बता दें कि आगामी 26/09/2021 को होगा अंचल सम्मेलन बेलही उच्च विद्यालय में आयोजित हो रही है। इस बैठक में अंचल मंत्री उपेन्द्र यादव, शशिभूषण प्रसाद, महादेव यादव, चन्देश्वर प्रसाद, कुमार राणा प्रताप सिंह, राम औतार यादव, कृष्णदेव यादव, श्याम प्रसाद गुप्ता, सुकेन्द्र प्रसाद एवं अन्य लोग उपस्थित रहे।

मधुबनी में जेएमडीपीएल महिला कॉलेज मे भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद द्वारा राष्ट्रीय सेमिनार आयोजित

मधुबनी : नगर के जेएमडीपीएल महिला कॉलेज मे राजनीति विभाग द्वारा आयोजित एवं भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली के द्वारा एक भव्य राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। जिसका विषय था आधुनिक भारत के लिये स्वराज के दर्शन मे बाल गंगाधर तिलक द्वारा दृष्टि अभियान, और कार्य प्रणाली की कल्पना,कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि प्रोफेसर डॉक्टर आरपी श्रीवास्तव, पूर्व कुलपति बीएन मंडल विश्वविद्यालय, मधेपुरा, उद्घाटनर्ता ,डॉक्टर मुश्ताक अहमद, कुलसचिव एलएनएमयू, दरभंगा, विशिष्ट अतिथि समीर कुमार महासेठ,नगर विधायक मधुबनी, श्याम किशोर, प्रशासक, बिहार राज्य परिवहन विभाग,पटना, विशाल राज,उप विकास आयुक्त,मधुबनी एवं डॉक्टर कल्पना कुमारी झा शामिल हुये।

सभी आगत अतिथियों का स्वागत मिथिला की परंपरा के अनुसार पाग, चादर एवं माला पहनाकर किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉक्टर कल्पना कुआंरी द्वारा किया गया। कार्यकम की शुरुआत कॉलेज की छात्राओ ने स्वागत गान गाकर किया। उसके बाद आगत अतिथियों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर राष्ट्रीय सेमिनार का उद्घाटन किया। इस अवसर पर कॉलेज के कई प्रोफेसरकर्मी एवं छात्राएं उपस्थित थी।

सेमिनार को विधायक समीर कुमार महासेठ सहित अन्य कई वक्ताओं ने संबोधित किया। उन्होने कहा की बाल गंगाधर तिलक का नाम सुनते ही स्वराज हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है, और हम इसे लेकर रहेंगे का नारा हमारे कानो मे गूंजता है। आंखो के सामने एक ऐसे लाल पगड़ीधारी व्यक्ति का चेहरा उभर आता है, जिसने स्वतंत्रता आंदोलन को लोक आंदोलन मे परिवर्तित कर भारत की आजादी मे बड़ी भूमिका निभाई। सच पूछा जाय शेष स्वतंत्रता आंदोलन की रूप रेखा तैयार कर गाँधी जी को सौप कर तिलक 1920मे अलविदा हो गये। 40वर्ष के सार्वजनिक जीवन मे उन्होने स्वतंत्रता आंदोलन को प्रखर नेतृत्व, आयाम,दिशा और नई ऊंचाइयां दी।

मुंबई, दिल्ली के रास्ते एक फिर दबे पांव कोरोना ने मधुबनी में दी दस्तक, 50 के करीब पहुंचा कोविड पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा

मधुबनी : बिहार के मधुबनी जिले मे कोरोना के ग्राफ में एक बार फिर तेजी से उछाल आना शुरू हो गया है।
जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 50 तक पहुंच गया है. सबसे चौंकाने व खतरे की बात यह है कि यह आंकड़ा बीते दो दिनों में आया है. जानकारी के अनुसार पिछले दो दिनों में अन्य राज्यों से आने वाले 45 यात्री कोरोना संक्रमित पाए गए. जिसकी पुष्टि सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने की. इसे संभावित तीसरी लहर की प्रारंभिक स्थिति मानी जा रही है. स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है.

स्वास्थ्य प्रशासन द्वारा टेस्टिंग, ट्रेसिंग तथा ट्रीटमेंट पर जोर दिया जा रहा है। प्रतिदिन 5 से 6 हजार लोगों का कोरोना संक्रमण का जांच किया जा रहा है। जिले में अब तक 13.59 लाख लोगों का कोरोना संक्रमण का जांच किया जा चुका है। वहीं टीकाकरण अभियान भी वृहत पैमाने पर चलाया जा रहा है। शहरी क्षेत्रों में घर घर जाकर लोगों को कोरोना का टीका दिया जा रहा है। टेस्टिंग के लिए अन्य राज्यों से ट्रेन से आने वाले यात्रियों का रेलवे स्टेशन पर ही कोविड संक्रमण की जांच की जा रही है।

रविवार को भी अनुमंडल पदाधिकारी अश्विनी कुमार ने स्वयं स्टेशन पहुंचकर बाहर से आने वाले यात्रियों का स्टेशन पर कोविड-19 टेस्ट कराया। इस दौरान नई दिल्ली से आने वाली स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस में 24 व लोकमान्य तिलक जयनगर पवन एक्सप्रेस में 13 यात्री कोरोना संक्रमित पाए गए। जिसके बाद जिले में केवल अन्य राज्यों से आने वाले संक्रमित मरीजों की संख्या 45 हो गया। वहीं एक अन्य मरीज जिले में संक्रमित पाया गया, जबकि जिले में आरटीपीसीआर जांच में 3 संक्रमित पाया गया है। जिससे संक्रमित की संख्या 49 हो गया, 1 मरीज एक सप्ताह पूर्व पाया गया था।

मधुबनी जिला स्वास्थ प्रबंधक दयाशंकर निधि ने बताया कि सभी संक्रमित मरीजों का कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग कर उनके संपर्क में आने वाले व्यक्तियों का सैंपल टेस्टिंग कराया जा रहा है। इसके साथ ही सभी संक्रमित मरीजों का आरटी पीसीआर जांच कराकर भी संपष्टि प्राप्त किया जाएगा। यदि बाहर से आने वाले यात्री आरटी पीसीआर जांच में भी पॉजिटिव पाए जाते हैं, तो निसंदेह यह खतरे की घंटी होगी।

उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी अमित कुमार के निर्देश के आलोक में जिले में 10 कंटेनमेंट जोन बनाया गया है, जिसमें बेनीपट्टी में 2, बाबूबरही में 2, फुलपरास में 3, कलुआही में 1, खुटौना में 1 व राजनगर में 1 कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी द्वारा अभी और कंटेनमेंट जोन बनाने का निर्देश दिया गया है।

इधर, आईडीएसपी से मिली जानकारी के अनुसार अन्य राज्यों से आने वाले सभी संक्रमित मरीजों का ट्रैकिंग किया जा रहा है। गंभीर लक्षण पाए जाने वाले संक्रमित मरीजों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया जाएगा, जबकि ए सिंप्टोमेटिक को होम आइसोलेशन में रखा जाएगा। मधुबनी सिविल सर्जन डॉ० सुनील कुमार झा ने सभी पीएचसी प्रभारी को आदेश दिया है, कि ज्यादा से ज्यादा लोगों का टेस्टिंग किया जाए। संक्रमित पाए गए लोगों पर आईडीएसपी, केयर इंडिया तथा डब्ल्यूएचओ के द्वारा नजर रखी जा रही है।

छापा मारकर पुलिस कई नशेबाज एवं दारूबाज को पकड़ा, भेजा गया जेल

मधुबनी : नगर थाना पुलिस ने विशेष अभियान चलाकर शराब तीन धंधेबाजों एवं दस नशेबाजों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस मामले में चार अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस इंस्पेक्टर सह नगर थानाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि छापेमारी व गश्त के दौरान शक के आधार पर खजुरी निवासी महेश महतो को उसके घर के पास से ही पकड़ा गया। उसके घर की तलाशी लेने पर कई बोतल शराब बरामद हुआ। इसी गांव के सुभाष कुमार ठाकुर के घर से भी शराब बरामद किया गया। पुलिस ने महेश महतो व सुभाष कुमार ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं शिवसागर पोखरा के पास शराब के नशे में हंगामा कर रहे चार नशेबाजों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार किए गए नशेबाजों में चकदह निवासी राम शरण दास, तिलक चौक निवासी ऋतिक कुमार व श्रवण मंडल एवं बासोपट्टी थाना क्षेत्र के छतौनी निवासी सुनील कुमार ङ्क्षसह शामिल है। राम शरण दास के पास से एक बोतल शराब भी बरामद किया गया। वहीं संतुनगर चौक पर भी शराब के नशे में हंगामा कर रहे छह नशेबाजों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। यहां से गिरफ्तार किए गए नशेबाजों में संतुनगर निवासी मो. सुल्तान, लहेरियागंज निवासी मो. जनीफ व मो. मुश्ताक, आरके कॉलेज गेट निवासी मो. फिरोज, 13 नंबर गुमटी निवासी मनोज कुमार यादव एवं समस्तीपुर जिला के उजियारपुर थाना क्षेत्र के चंदौली निवासी वसंत कुमार शामिल है।

शराब के नशे में हंगामा करने के दौरान गिरफ्तार किए गए उक्त सभी दस नशेबाजों का मेडिकल जांच कराने पर शराब सेवन करने की पुष्टि हुई। इसके बाद पुलिस ने महिला कॉलेज रोड से राजीव कुमार को गिरफ्तार किया। पूछताछ में राजीव कुमार ने पुलिस को बताया कि वे और उनका भाई कीर्तन भवन रोड निवासी राहुल कुमार एवं अजीत कुमार, बाटा चौक निवासी गुंजन कुमार उर्फ राजन कुमार राम सभी मिलकर सरोज झा का मकान किराए पर लेकर उसमें शराब

रखकर बिक्री करते हैं। पुलिस को यह भी जानकारी दिया कि अभी भी किराए के मकान में शराब रखा हुआ है। जब पुलिस किराए वाले उस मकान की तलाशी लिया तो कई लीटर शराब बरामद हुआ। पूछताछ में पुलिस का राजीव कुमार ने यह भी बताया कि शराब लक्ष्मीपुर चौक, मधेपुर से अरूण कुमार के यहां से लाए थे। पुलिस शराब के धंधे में संलिप्त फरार लोगों को गिरफ्तार करने के प्रयास में जुट गई है।

सुमित कुमार की रिपोर्ट

swatva

Leave a Reply