16 जून : मधुबनी की मुख्य खबरें

0
swatva samachar

आयरन गर्ल गुड़िया साह अब महिलाओं को निःशुल्क सिलाई एवं कटाई का दिलवाएगी प्रशिक्षण

मधुबनी : जिले के हरलाखी प्रखंड में पिछले कई वर्षों से महिलाओं व बेटियों को आत्मनिर्भर बना रही सामाजिक कार्यकर्ता गुड़िया साह को साई की रसोई बेगूसराय की टीम ने सिलाई मसीन उपलब्ध कराया है, जिससे बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुफ्त में सिलाई कटाई बुनाई का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

दरअसल गुड़िया बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की सकारात्मक सोच से लगातार क्षेत्र में सक्रिय भूमिका निभाती आ रही है, और बेटियों को आत्मनिर्भर व ससक्त बनाने को लेकर मुहिम चला रही है। इतना ही नही वर्ष 2020 में विश्वव्यापी कोरोना महामारी के बीच अपने टीम के साथ जान को जोखिम में डाल लोगों से सहायता लेकर खुद ठेला चलाकर असहाय व जरूरतमंदों तक राशन सामग्रियों को पहुँचाई, ताकि कोई गरीब परिवार भूखे ना रहे।

महज एक छोटी सी उम्र से समाज मे उत्कृष्ट कार्य करती आ रही गुड़िया प्रेरणास्रोत बन चुकी है। इस कारण वो कई बार कई जगहों पर विभिन्न संस्थानों द्वारा सम्मनानित भी हो चुकी है। उन्होंने कहा कि बेटियों के हक और अधिकार के लिए हर सम्भव मदद करने का प्रयास जारी रहेगा। साथ ही बाल विवाह, दहेज प्रथा, भ्रूण हत्या, भोजपुरी अश्लील गीतों के खिलाफ सदैव आवाज उठाती रहूंगी।

वहीं, बेगूसराय से आए हुए साई रसोई के अमित जायसवाल, नितेश रंजन, पंकज कुमार व ज्ञान प्रकाश ने बताया कि प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से लगातार इनके कार्यों को देखने व सुनने को मिलता था। जिसको लेकर सोशल मीडिया के जरिए संपर्क कर हम अपने टीम के साथ मधुबनी जिला के उमगंव जाकर सहयोग के रूप में अपने संस्था की ओर से उपहार स्वरूप दो सिलाई मशीन प्रदान किया। इस मौके पर टीम के बैदेही कुमारी झा, प्रिया, अंजू समेत अन्य दर्जनों समाजसेवी मौजूद थे।

शुरू नहीं किया गया अभी तक कमला नदी पर डैम का निर्माण, कमला फिर ले सकती है रौद्र रूप

मधुबनी : जिले के झंझारपुर लोकसभा से जदयू सांसद रामप्रीत मंडल ने अपने संसदीय कोष से एक करोड़ रुपए विकास के लिए आवंटित है, जिसमे जयनगर और झंझारपुर में जलजमाव की समस्या के निदान को लेकर भी राशि आवंटित की गई। दूसरी तरफ बिहार में कोरोना के बाद बाढ़ का कहर भी आने वाला है।

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जयनगर में 400 करोड़ के डैम बनाने की बात कही थी, जिससे बाढ़ से होने वाले क्षति को रोका जा सके। लेकिन अब तक काम शुरू नहीं किया गया है। 2019 में आए कमला नदी के बाढ़ का रौद्र रूप सबने देखा है। कमला नदी में हर वर्ष बाढ़ से नुकशान आसपास के लोगों को भारी क्षति का सामना करना पड़ता है।

दर्जनों लाभुकों को पीडीएस विक्रेता द्वारा अनाज नहीं दिये जाने को लेकर अनुमंडल कार्यालय में विरोध प्रदर्शन

मधुबनी : जिले के जयनगर प्रखंड के पड़वा बेलही पंचायत के दर्जनों लाभुकों को पीडीएस विक्रेता के द्वारा अनाज नहीं दिये जाने को लेकर अनाज से वंचित लाभुकों ने अनुमंडल कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया। इस मौके पर लाभुक चंद्रवीर साह दिनेश कुमार साह, राम पतीसा, रंजू देवी, बबीता देवी, शीला देवी, राम कुमारी देवी, सुलेखा देवी, सुनीता देवी समेत अन्य ग्रामीणों ने बताया कि हम लोग दलित महादलित परिवार से आते हैं। सरकार के द्वारा हमें राशन मुहैया कराया गया, परंतु पीडीएस विक्रेता के लापरवाही के कारण हमें हमारे हक़ से वंचित रखा गया है।

बीते अप्रैल महीने के हम सभी को ने बताया कि पूर्व में पंचायत में पीडीएस विक्रेता बिंदेश्वर यादव के दुकान से अनाज उठाव करते थे। उन पर कार्रवाई होने के बाद उसी पंचायत के रुचि कुमारी नामक पीडीएस विक्रेता से अनाज का उठाव करते थे। अप्रैल महीने में अनाज देने पहुंचे, तो रुचि कुमारी के द्वारा किसी अन्य पीडीएस विक्रेता की दुकान से अनाज उठाव करने की बात की गई।

पीडीएस विक्रेता के पास पहुंचा तो वहां क्या देने से मना कर दिया क्या और नाम नहीं होने की बात कही गई। हम गरीब परिवार को लेकर दर्जनों मुलाकात कर वस्तु स्थिति से अवगत कराया है। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि पीडीएस विक्रेता की लापरवाही के कारण ही गरीब परिवारों को अनाज मुहैया नहीं कराई गई। वहीं, इस पूरे मामले में एसडीओ बेबी कुमारी मामले की जांच कर कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया है।

झाड़फूंक के नाम पर दुष्कर्म करने के मामले में एक आरोपी को पुलिस ने पकड़ा, भेजा जेल

मधुबनी : जिले के राजनगर थाना क्षेत्र के एक गांव में झाड़फूंक करने के बहाने नाबालिग बच्ची (16) के साथ दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है। मामले की शिकायत पर पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए आरोपित युवक को पटवारा चौक से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार अभियुक्त श्यामसुंदर शर्मा साहरघाट थाना क्षेत्र के रैयमा गांव का रहनेवाला है। वह पटवारा चौक पर फर्नीचर की दुकान करता है।

दर्ज प्राथमिकी के अनुसार नाबालिग बच्ची के सिर व पेट में दर्द होने की वजह से बीते कुछ दिनों से वह बीमार चल रही थी। इस दौरान पटवारा चौक पर झाड़फूंक करने की जानकारी हुई। तब झाड़फूंक कराने के लिए सोमवार को परिवार वाले बच्ची को लेकर पटवारा गांव आए।

झाड़फूंक के क्रम में कथित ओझा नीबू काटने का बहाना बनाकर नाबालिग बच्ची को सूनसान जगह में ले जाकर जबरन जबर्दस्ती की। उसने मुंह खोलने पर जान से मार देने का धमकी देते हुए चुप रहने को कहा। बच्ची डर गई, फिर भी वह घर पहुंचकर परिवार के लोगों को आपबीती बताई।

उक्त मामले में थानेदार अमृत कुमार साह ने बताया कि शिकायत मिलते ही आरोपित को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं मंगलवार को पीड़िता का मेडिकल जांच करायी गई, जबकि धारा 164 के तहत बयान दर्ज कराने के लिए आज न्यायालय में पेश किया जाएगा।

सुमित कुमार की रिपोर्ट

swatva

Leave a Reply