7 सितंबर : मधुबनी की मुख्य ख़बरें

0
swatva samachar

11 सूत्री मांगो के ले नगर निकाय कर्मियों ने किया हड़ताल

मधुबनी : जिले के जयनगर अनुमंडल में नगर निकाय कर्मियों ने 11 सूत्री मांगो के समर्थन में हड़ताल किया।

बिहार लोकल बॉडीज इम्पलाइज फेडरेशन व बिहार राज्य निकाय कर्मचारी संध संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर जारी 11 सूत्री मांगो को ले अनिश्चित कालीन हड़ताल के समर्थन में नप कर्मी हड़ताल पर है, जिससे नगर पंचायत क्षेत्र के विभिन्न वार्डो में सफाई समेत अन्य व्यवस्था ठप है।

नप के अमीन सूर्यदेव सिंह, विमल चौधरी, शंकर श्रीवास्तव, सुमन्दा, सितली, भोगेन्द्र यादव, दिलीप राम, अरूण सिंह, गुरूचरण, देवनारायण समेत अन्य कर्मियों ने 11 सूत्री मांगो के सर्मथन में हड़ताल पर रहे।

मुख्य मांगो में आउटसोर्सिंग की प्रथा समाप्त करने, संविदा, दैनिक वेतन तथा कमीशन पर कार्य करनेवाले को नियमित करने, अनुकम्पा पर बहाली, सातवां वेतन पुनरीक्षण स्थानीय निकायो में लागु करने समेत अन्य मांगें शामिल थे।

पंचायत समिति सदस्य के हत्यारों की गिरफ्तारी हुई मांग

मधुबनी : जिले के जयनगर में जयनगर पंचायत जनप्रतिनिधियों ने पंचायत समिति सदस्य की हत्या के दोषियों को शीध्र गिरफ्तारी की मांग की तथा शोक सभा का किया गया आयोजन।

जयनगर के टीपीसी के सामुदायिक प्रशिक्षण भवन के सभागार में प्रखंड के पंचायत जनप्रतिनिधियों की बैठक हुयी। जिसकी अध्यक्षता प्रखंड प्रमुख सचिन सिंह ने किया।

इस बैठक में पंसस पुरषोत्तम झा उर्फ सतन झा की हत्या की घोर निंदा करते हुये शोक सभा आयोजन किया गया। शोक सभा में दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत पंसस के आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गयी।पंचायत प्रतिनिधियों ने पंसस सतन झा के हत्यारों को शीध्र गिरफ्तारी, उनके परिजनो को मुआवजा की मांग प्रशासन से किया गया, साथ ही दो अलग अलग डिलिगेशन एसपी व डीएसपी से मिलकर अपराधियों की गिरफ्तारी शीध्र करने के लिए मांग पत्र सौपेंगे।

इसके अतिरिक्त सभी अपने अपने निजी फंड से मृतक के परिवार को सहायता करने का निर्णय लिया गया।

इस बैठक में उप प्रमुख मिथिलेश पासवान, बैरा पंचायत के मुखिया ब्रजकिशोर यादव, मदन हाजरा, उमेश यादव, मोती यादव, धीरेंद्र कुमार सिंह, नागेश्वर ठाकुर, फुल सिंह, मो० रहमतुल्लाह, शशिभूषण सिंह समेत अन्य पंचायतों के मुखिया व पंचायत समिति सदस्य उपस्थित थे।

पीजीआरओ में नप के ईओ के विरुद्ध परिवाद दायर

मधुबनी : जिले के जयनगर अनुमंडल में जयनगर बाईपास सड़क के निर्माण में कई बार मरम्मत के नाम पर विर्तीय अनिमियता के विरूद्ध परिवाद दायर।

भाकपा(माले) सचिव भूषण सिंह ने पीजीआरओ में नप के ईओ के विरुद्ध परिवाद दायर किया। जयनगर नगर पंचायत के वार्ड न-10 स्थित बाईपास सड़क के निर्माण से इतर सड़क को पिछले वर्षों में कई बार मरम्मत करवाने तथा वित्तीय अनिमियता के खिलाफ पी०जी०आर०ओ० में परिवाद दायर का मामला प्रकाश में आया है।

परिवाद भाकपा माले के सचिव भुषण सिंह ने पी०जी०आर० अवधेश कुमार आंनद के न्यायलय में न०प० ईओ के खिलाफ दायर किया है। जिसमें आरोप लगाया गया है, कि नगर पंचायत जयनगर के अंतर्गत आनंदपुर मोहल्ला वार्ड नंबर-10 के अर्धनिर्मित सड़क को नगर पंचायत प्रशासन के द्वारा नगर विकास व आवास विभाग के नियमों को दरकिनार कर वर्ष 2006 से ही प्रत्येक वर्ष में एक-दो बार मरम्मत करा कर लाखों रुपया के वित्तीय अनियमितता एवं लूट का केंद्र बना दिया गया है।

परिवाद में परिवादी द्वारा बताया गया कि निबंधन कार्यालय जयनगर से आनंदपुर मोहल्ला, यूनियन टोल जाने वाली सड़क वर्ष 2006 में सीमा विकास योजना से पी०सी०सी० सड़क का निर्माण कराया गया था। निर्माण में व्याप्त अनियमितता को देखते हुए विभाग के द्वारा निर्माण पर रोक लगाया गया था। तथा थाना में एफआईआर दर्ज हुये थे।

उक्त कार्यकाल से यह सड़क नगर पंचायत जयनगर के लिए अनिमियता का केंद्र बना हुआ है। जबकि उक्त सड़क को निर्माण कराने की जगह, प्रत्येक वर्ष मरम्मत करवाने का कार्य होता है। परिवाद में यह भी आरोप लगाया गया कि उक्त सड़क  का निविदा हो चुका है, बावजूद अगस्त 2019 में भी सड़क का मरम्मत कराया गया है।

परिवादी ने वित्तीय अनिमियतता के विरूद्ध जांच व कारवाई की मांग है। वहीं, नप के ईओ अमित कुमार मोबाइल पर रिंग होने के बावजूद रिसिव नही होने के कारण उनका पक्ष नही मिल सका।

फ़रार चल रहा आरोपी गिरफ्तार

मधुबनी : जिले के देवधा थानाक्षेत्र में एक मामले में फरार चल रहे व्यक्ति को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

मामला जयनगर अनुमंडल के देवधा का है। देवधा पुलिस ने एक केस में फरार शराब धंधेबाज को गिरफ्तार किया, एवं अग्रेतर करवाई को मधुबनी कारा भेज दिया गया है। जानकारी देते हुए देवधा थानाध्यक्ष राजकिशोर कुमार ने बताया कि गिरफ्तार धंधेबाज शिलानाथ गांव का निवासी नंदा माझी है।

मुहर्रम को ले हुई शांति समिति की बैठक

मधुबनी : जिले के बिस्फी प्रखंड में मुहर्रम को लेकर शांति समिति की बैठक, एसडीएम ने कहा ताजिए का जुलूस के लिए लाइसेंस अनिवार्य।

बिस्फी प्रखण्ड क्षेत्र में मुहर्रम के दौरान सामाजिक सद्भाव बनाये रखने को लेकर प्रखण्ड के टी०पी०सी० भवन में शांति समिति की बैठक की आयोजन की गई।

इस बैठक की अध्यक्षता प्रमुख शीला देवी ने की। जिसमें जनप्रतिनिधि, सामाजिक कार्यकर्ता, बुद्धिजीवियों ने बैठक में भाग लिया।

बैठक में मुहर्रम का त्योहार मनाने को लेकर लोगों ने अपने-अपने बिचारो को रखें। इस मौके पर बेनीपट्टी एसडीएम मुकेश रंजन ने कहा कि कुछ दिन पूर्व बिस्फी के लोगों ने श्रावणी मेला और बकरीद का त्योहार एक साथ मनाकर सामाजिक सद्भाव की एक मिशाल कायम किया है।

यहां के लोगों ने प्रशासन को बहुत ही सहयोग किया है, जो सराहनीय है। पर्व मनाने का उदेश्य सामाजिक औरराष्ट्रीय एकता की भावना को मजबूत करना होता। हम ऐसा कोई भी काम नहीं करें जिससे सामाजिक सद्भाव की भावना कमजोर हो।

एसडीएम ने कहा कि बैठक में जो समस्या लोगों के द्वारा रखी गयी है, उसका निदान किया जायगा। वहीं बेनीपट्टी डीएसपी पुष्कर कुमार ने कहा कि श्रावणी मेला के दौरान मुस्लिम भाइयों ने सामाजिक सद्भाव की शानदार मिशाल दी। वैसी ही मिशाल हिन्दु भाई को मुहर्रम के अवसर पर देनी चाहिए।

डी०एस०पी० ने कहा कि सभी थानाध्यक्ष को निर्देश दिया गया है, कि संवेदनशील जगहों के समाज के अच्छे और बुरे लोगों की सूची बनाने को कहा गया है। बुरे लोगों को चिन्हित कर उसका नाम गुंडा रजिस्टर में दर्ज किया जायगा।

वहीं समाज के अच्छे लोगों को पुरस्कृत किया जाएगा। बीडीओ अहमर अब्दाली ने कहा कि क्षेत्र के लोग हमेशा से सभी पर्व मिलजुल कर मनाते रहे हैं, मुहर्रम का त्योहार भी लोग आपसी भाईचारा के साथ मनाते रहे हैं। उम्मीद है इस वार भी यह त्योहार सद्भावपूर्ण माहौल में मनाया जायगा।

इस वैठक में सी०ओ० प्रभात कुमार राय, प्रखंड पंचायत राज पदा धिकारी चन्देश्वर नारायण सिंह, बिस्फी थानाध्यक्ष उमेश कुमार पासवान, औंसी ओपी प्रभारी कुणाल कुमार, पतौना ओपी प्रभारी विजय पासवान, चांद उस्मानी, फिरोज अहमद, माकपा के मनोज यादव, बिजय यादव, महेंद्र यादव, अरुण यादव, कुलेश सिंह, शालिग्राम यादव, मो० जियाउद्दीन, अताउर रहमान सहित अन्य लोग मौजूद थे।

पचायत समिति व पूर्व जिला पार्षद हत्या की गुल्थी सुलझी

मधुबनी : पिछले दिनों जयनगर पंचायत समिति सदस्य एवं पूर्व जिला पार्षद पुरुषोत्तम झा उर्फ सतन झा की हत्या के मामले में पुलिस ने शनिवार को इसका उद्भेदन करते हुए बताया कि इस हत्या के पीछे  पुरानी रंजिश थी जिसमें दोनों की हत्या हुई।

मधुबनी पुलिस अधीक्षक डॉ० सत्यप्रकाश, एवं जयनगर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सुमित कुमार ने संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता कर मामले का खुलासा किया।

जयनगर थाना कांड संख्या-437/19 में हुए जयनगर पंचायत समिति सदस्य एवं पूर्व जिला पार्षद पुरुषोत्तम झा उर्फ सतन झा, दुल्लीपट्टी,जयनगर एवं राजनगर थाना कांड संख्या-207/19,दिनांक-26-07-19 के धारा-302/34 भादवी एवं 27 शस्त्र अधिनियम दिनांक-26-07-19 में सत्यनारायण यादव, ग्राम-बड़हारा, थाना-राजनगर की हत्या एवं जयनगर कांड संख्या-436/19,दिनांक-29-08-19,धारा-3/4 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम एवं 27 शस्त्र अधिनियम में जयनगर थाना अंतर्गत बरामद हुए जिंदा देशी बम को लेकर पुलिस अधीक्षक, मधुबनी के दिशा-निर्देश में गठित टीम का नेतृत्व जयनगर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के द्वारा की गई।

जिसमें उक्त कांड में अप्राथमिकी अभियुक्त 1).लाला मिश्रा, पिता-अनिल कुमार मिश्रा, ग्राम-लोरिका, थाना-बेनीपट्टी, जिला-मधुबनी तथा 2). मो० सद्दाम उर्फ छोटू, पिता-मो० साबिर, ग्राम-भेलवाटोल,थाना-जयनगर, जिला-मधुबनी, एवं 3). अभिषेक मिश्रा, पिता-सुशील कुमार मिश्रा, ग्राम-दुमंठा, थाना-पंडौल, जिला-मधुबनी को एक देशी पिस्तौल जिसमे एक मैगजीन एवं अलग से 03 जिंदा कारतूस के साथ  गिरफ्तार किया गया। अपने स्वीकारोक्ति बयान में अपने तथा अपने अन्य साथियों की संलिप्तता की बात स्वीकार की है।

इस पुलिस गठित टीम में पुनि अतुल कुमार मिश्र(एस०आई०टी०), पुअनि एसएनसारंग(जयनगर), पुअनि अनोज कुमार(पंडौल थानाध्यक्ष सह एसआईटी), पुअनि रमेश कुमार शर्मा(थानाध्यक्ष राजनगर),  पुअनि शिवनाथ शर्मा(जयनगर थाना), लालबाबु पासवान(जयनगर थाना), सी०-891 सुरेश कुमार(टेक्निकल सेल) थे।

9 सितंबर को अनिश्चिकालीन धरना देंगे जनप्रतिनिधि

मधुबनी : राजनगर के टीपीसी भवन में जनप्रतिनिधियों एवं गणमान्य लोगो की बैठक हुई। पिछले दिनों जनप्रतिनिधी के साथ उत्पाद विभाग के छापेमारी दल के द्वारा मारपीट एवं नगद लुटा गया था। जिसकी लिखित आवेदन प्राथमिकी दर्ज करने की लिए राजनगर थाना को दिया गया। लेकिन 20 दिन बीत जाने के बाद एक जनप्रतिनिधि के आवेदन को नहीं सुना गया।

उसके बाद सभी जनप्रतिनिधियो ने एक लिखित आवेदन मधुबनी पुलिस पदाधिकारी को भी दिया, लेकिन अभी तक दोषी के खिलाफकोई करवाई नही की गई।

शनिवार की इस बैठक में सभी जनप्रतिनिधियो ने यह निर्णय लिया कि आगामी 09 सितंबर, 2019 को दिन सोमवार सुबह 08:30 बजे राजनगर थाना परिसर में अनिश्चितकालीन धरना दिया जाएगा। इस बैठक की अध्यक्षता प्रखंड प्रमुख ने की।इस बैठक में सभी जनप्रतिनिधि एव गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

श्रवन कुमार ने किया नवनिर्मित प्रखंड-सह-अंचल का उद्घाटन

मधुबनी : ग्रामीण विकास एवं संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार के द्वारा शनिवार को लखनौर नवनिर्मित प्रखंड-सह-अंचल कार्यालय-सह-आवासीय परिसर का उद्घाटन फीता काट कर किया गया।                                              इस अवसर पर उप विकास आयुक्त, मधुबनी अजय कुमार सिंह, अध्यक्ष, जिला परिषद, मधुबनी शीला देवी, अनुमंडल पदाधिकारी,झंझारपुर, अंशुल अग्रवाल तथा अन्य पदाधिकारीगण एवं जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

जदयू प्रखंड चुनाव में हुआ हंगामा, चुनाव स्थगित

मधुबनी : जिले के बिस्फी प्रखंड में जदयू के प्रखंड अध्यक्ष के चुनाव में हुआ भारी हंगामा और मारपीट भी हुई। हुआ यूं कि जब जिला पर्यवेक्षक और निर्वाचन पदाधिकारी चुनाव करवाने पहुंचें तब वहां के दोनों  समर्थक आपस में भीड़ गए। मामला इतना गरमा गया कि हाथापाई होना शुरू ही गई। तत्पश्चात चुनाव करवाने आये पर्यवेक्षक और निर्वाचन पदाधिकारी को धक्के-मुक्के और आपसी झगड़े को  ख़त्म करने की भरपूर कोशिश की गई। फिलहाल चुनाव स्थगित कर दिया गया और मामले को समझ कर शांत करवाने का प्रयास किया जा रहा है।

उप-विकास आयुक्त ने किया वन स्टॉप सेंटर का उद्घाटन

मधुबनी : उप-विकास आयुक्त अजय कुमार सिंह के द्वारा शुक्रवार को परिषद बाजार, मधुबनी के सामने स्थित महिला हेल्पलाईन में वन स्टॉप सेंटर का शुभारंभ फीता काटकर किया गया।

इस अवसर पर डॉ० रश्मि वर्मा, जिला प्रोग्राम पदाधिकारी(आईसीडीएस), मधुबनी, पूनम कुमारी, सहायक निदेशक, सामाजिक सुरक्षा, मधुबनी, अनुग्रह नारायण टिग्गा, डीपीएम, महिला विकास निगम, मधुबनी, वीणा कुमारी, परामर्शी, महिला हेल्पलाईन, मधुबनी, हिना चंदेल, स्वस्थ भारत प्रेरक, मधुबनी समेत अन्य लोग उपस्थित थे। वन स्टॉप सेंटर महिलाओं के सुरक्षा एवं सम्मान से जुड़ी एक महत्त्वाकांक्षी योजना है।

केन्द्र संपोशित वन स्टॉप सेंटर को महिला हेल्प लाईन, मधुबनी के साथ तत्काल संयुक्त रूप से संचालित किया जायेगा, जहां एक ही छत के नीचे हिंसा से प्रभावित महिलाओं को एकीकृत सहायता प्रदान करना है।

साथ ही महिलाओं के खिलाफ हिंसा के पीड़ितों को चिकित्सा, कानूनी, मनोवैज्ञानिक और परामर्श समर्थन सहित कई सेवाओं के लिए तत्काल, आपातकालीन पहुंच की सुविधा के लिए आपातकालीन प्रतिक्रिया और बचाव सेवायें, चिकित्सा सहायता, मनोसामाजिक समर्थन, पुलिस सहायता, अल्पाश्रय तथा कानूनी सहायता आदि की सुविधा दी जायेगी।

शिक्षक दिवस पर सम्मान सह पुरस्कार वितरण कार्यक्रम का हुआ आयोजन

मधुबनी : शिक्षक दिवस के अवसर पर ‘दी इंस्टिट्यूट आफ कॉमर्स’ के द्वारा सम्मान सह प्राईज वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

मधुबनी नगर स्थित वाटिका होटल के सभागार मे शिक्षक दिवस के मौके पर कॉमर्स विषय में  कोचिंग कराने वाली अग्रणी संस्था, किशोरी लाल चौक स्थित दी इंस्टिट्यूट आफ कॉमर्स के डायरेक्टर ओपी गुप्ता के द्वारा एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम का उद्घाटन मुख़्य अतिथि विष्णु राऊत, सतीश सर, शेष नारायण, एसके सिंह, संस्था के संचालक ओपी गुप्ता एवं मैडम दीप्ति मोहन ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित करके किया।

इस कार्यक्रम मे आये हुये मुख़्य अतिथि को मिथिला की परंपरा के अनुसार पाग एवं दोप्ट्टा से सम्मानित किया गया। होटल वाटिका के सभागार मे संस्था के इंटर टॉपर अंजली, प्रतीक, काजल, पूजा, प्रीति, मोहित, आशुतोष एवं एमकॉम मे यूनिवर्सिटी टॉपर ब्यूटी चन्द्रा, प्रेरणा राऊत को प्राइज देकर सम्मनित किया गया।

इस मौके पर संस्था के छात्र -छात्रओं द्वारा एक से बढ़कर एक कई कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये , जिसे सभी ने मुक्त कंठ से प्रशंसा की। आकर्षण का केंद्र रहा संस्था के छात्राओं द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ थीम पर कार्यक्रम का प्रस्तुत करना जिसे सभी ने सराहा है।

संस्था के छात्र-छात्राओ मे बेस्ट परफॉर्मेंस देने वालों मे रानी, कविता, आराध्या, शालिनी, मानसी, श्वेता, मनीषा, प्रिन्जल, प्रिया, प्रेरणा, वर्षा, रोहित, रवि एवं अन्य थे।

शिक्षक दिवस पर सेमिनार का आयोजन

मधुबनी : शिक्षक दिवस के अवसर पर आरके कॉलेज छात्रसंघ के द्वारा छात्रसंघ कार्यालय में सेमिनार का आयोजन किया गया।

सेमिनार की अध्यक्षता छात्र संघर्ष समिति अध्यक्ष संतोष कुमार यादव ने किया। सेमिनार में मुख्य रूप से प्रधानाचार्य डॉ० अनिल कुमार मंडल, डॉ० नारायण यादव, डॉ० अशोक कुमार, डॉ० शशि भूषण कुमार, वरिष्ठ शिक्षक डॉ० खुशीलाल मंडल उपस्थित थे। सेमिनार को संबोधित करते हुए प्रधानाचार्य डॉ० अनिल कुमार मंडल ने  छात्रों को शिक्षक दिवस के बारे में विस्तार पूर्वक बताएं। उन्होंने सभी वर्ग के छात्र- छात्राओं से नियमित रूप से वर्ग संचालन में भाग लेने का अपील किए है।

उन्होंने कहा कि नियमित रूप से वर्ग में उपस्थित नहीं होने वाले छात्र- छात्राओं का नामांकन रद्द किया जा सकता है। सेमिनार में उपस्थित छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए छात्र संघर्ष समिति अध्यक्ष संतोष कुमार यादव ने कहा कि डॉ० सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 05 सितंबर 1888 को हुआ था। उनके जन्मदिन को ही  शिक्षक दिवस मनाया जाता है। डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन स्वतंत्र भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति और द्वितीय राष्ट्रपति थे। देश में सर्वप्रथम  डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन को नोबेल पुरस्कार मिला था।

उन्होंने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन की सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब हम उनके बताए रास्ते पर चलेंगे।

उन्होंने सभी छात्र-छात्राओं से महाविद्यालय में नियमित रूप से वर्ग संचालन में उपस्थित होने का अपील किए है। इस सेमिनार में मुख्य रूप से सुरेश कुमार सिंह, चंदन कुमार, विजय कुमार, मुलायम कुमार, सोनू कुमार सिंह, रंजीत कुमार यादव, मोहम्मद नसरुद्दीन, ज्योति कुमारी, मधु प्रिया, पूजा कुमारी, राहुल पासवान, पंकज पासवान, दीपक पासवान ,मुकेश कुमार यादव, छात्रसंघ अध्यक्ष मिंटू कुमार, जेएन कॉलेज छात्रसंघ अध्यक्ष किशन कुमार, सचिव सुनील कुमार पासवान, धर्मदेव रमन, मोहम्मद इकबाल, अंकित कुमार, लोटन कुमार, मुकेश कुमार साहनी, शिव कुमार, सीता राम कामत सहित सैकड़ों छात्र छात्रा सेमिनार में उपस्थित थे।

मुहर्रम पर विधि-व्यवस्था को ले प्रभारी जिला पदाधिकारी ने की बैठक

मधुबनी : प्रभारी जिला पदाधिकारी-सह-अपर समाहर्ता की अध्यक्षता में मुहर्रम के अवसर पर विधि-व्यवस्था को लेकर बैठक का आयोजन।

आज मधुबनी में दुर्गानंद झा(प्रभारी जिला पदाधिकारी-सह-अपर समाहत्र्ता),मधुबनी की अध्यक्षता में शनिवार को स्थानीय डीआरडीए स्थित सभाकक्ष में मुहर्रम त्योहार के अवसर पर विधि-व्यवस्था को लेकर बैठक का आयोजन किया गया।

इस बैठक में श्री सत्यप्रकाश(पुलिस अधीक्षक,मधुबनी), सुनील कुमार सिंह(अनुमंडल पदाधिकारी,सदर मधुबनी), गणेश कुमार(अनुमंडल पदाधिकारी, फुलपरास), सुशील कुमार(जिला परिवहन पदाधिकारी), मधुबनी समेत सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं सभी थानाध्यक्ष, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा अंचल अधिकारी उपस्थित थे।

इस अवसर पर प्रभारी जिला पदाधिकारी-सह-अपर समाहर्ता, मधुबनी के द्वारा सभी पदाधिकारियों को बताया गया, कि इस वर्ष मुहर्रम का त्योहार दिनांक 10 सितंबर, 2019 (चांद के दृष्टिगोचर होने पर) को मनाये जाने की सूचना है।

ऐसा देखा गया है  कि मुहर्रम का पहलाम दूसरे दिन सुबह तक होता है। अतः आवश्यक है कि सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी/पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल जबतक पहलाम नहीं हो जाता है और उसमें सम्मिलित सभी लोग गंतव्य स्थान के लिए नहीं चले जाते है, तब तक प्रतिनियुक्ति स्थान को नहीं छोड़ेगे।

प्रभारी जिला पदाधिकारी-सह-अपर समाहत्र्ता, मधुबनी द्वारा बताया गया कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी/अंचल अधिकारी/थानाध्यक्ष सभी संवेदनशील स्थानों का भ्रमण करने तथा आसूचना तंत्र को मजबूत करने का तथा स्थिति की समीक्षा कर आवश्यकता पड़ने पर निरोधात्मक कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

खासकर असामाजिक तत्वों की गतिविधियों पर विशेष निगरानी रखने एवं उनके विरूद्ध कड़ी कारवाई समय से पूर्व करेंगे, जिससे विधि-व्यवस्था बिगड़ने न पाये।

उन्होंने सभी पदाधिकारियों को असूचना संकलन करने हेतु सभी पंचायत के मुखिया/सरपंच/प्रखंड प्रमुख एवं विभिन्न राजनीतिक दलों के व्यक्तियों से संपर्क बनाये रखेंगे।

श्री सत्यप्रकाश(पुलिस अधीक्षक, मधुबनी) के द्वारा सभी थानाध्यक्ष, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल अधिकारी समन्वय बैठा कर विधि-व्यवस्था पर को बनाये रखने हेतु कार्य करेंगे, साथ ही जिले के सभी थानाध्यक्षों को दिनांक 08 सितंबर, 2019 (रविवार) को अपने-अपने थाना क्षेत्र के संवेदनशील स्थानों पर फ्लैग मार्च निकालने का भी निदेश दिया गया। सभी थानाध्यक्षों एवं अन्य पदाधिकारियों को नये यातायात नियमों का शत-प्रतिशत अनुपालन(हेलमेट तथा शीट बेल्ट) करने का निर्देश दिया गया। सभी थानाध्यक्षों को मुहर्रम त्योहार के दौरान विडियोग्राफी की व्यवस्था रखने का निदेश दिया गया, ताकि असामाजिक तत्वों की पहचान कर उन पर आवश्यक कार्रवाई की जा सकें। सभी संवेदनशील स्थानों पर वाच टावर के माध्यम से निगरानी करने का भी निर्देश दिया गया।

उन्होंने सभी पदाधिकारियों को शांति समिति का गठन कर अपने-अपने क्षेत्र में शांति समिति की बैठक का आयोजन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया, साथ ही मिथ्या अफवाह फैलाने वालों के विरूद्ध शीघ्र कार्रवाई करने एवं ऐसे अफवाहों के खंडन हेतु तत्काल यथोचित कार्रवाई करने का निदेश दिया गया।

सोशल मीडिया के माध्यम से फैलाये जा रहे अफवाह पर भी विशेष निगरानी बरतने एवं शीघ्र आवश्यक कार्रवाई करने  को कहा गया, साथ ही यह भी बताया गया कि मुहर्रम त्योहार के अवसर पर जुलुसों के मार्ग एवं समय निर्धारण के प्रश्न को लेकर झगड़ा हुआ करता है।

अतः सभी पदाधिकारी जुलुस को नियंत्रित करने में पुलिस एक्ट की धारा-30 तथा सी०आर०पी०सी० की धारा-144 की सहायता ले सकते है। साथ ही क्षेत्रीय स्तर पर जुलुस के लिए पूर्व निर्धारित मार्ग के आधार पर ही अनुज्ञप्ति दें।

मुहर्रम के अवसर पर विधि-व्यवस्था बनाये रखने हेतु सशस्त्र बल के साथ दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति दिनांक 09.09.19 के पूर्वा. से 11.09.2019 के अप.(पहलाम होने तक) के लिए की गयी है।

इस त्योहार के अवसर पर विधि-व्यवस्था एवं सांप्रदायिक सौहार्द बनाये रखने एवं स्थिति पर कड़ी निगरानी रखने हेतु मधुबनी समाहरणालय के सभाकक्ष में जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना की जायेगी, जिसका दूरभाष संख्या-06276-224425 है। सभी अनुमंडल पदाधिकारियों को अपने-अपने अनुमंडल मुख्यालय में दिनांक 9.09.19 के पूर्वा० से 11.09.19 के अप०(पहलाम समाप्त होने तक) अनुमंडल नियंत्रण कक्ष की स्थापना करने का निदेश दिया गया है।

इस त्योहार के अवसर पर विधि-व्यवस्था संधारण हेतु बड़े पैमाने पर दंडाधिकारी/पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति के कारण सभी प्रकार की छुट्टियां(सरकारी पदाधिकारियों/पर्यवेक्षीय कोटि के पदाधिकारियों के लिए) रद्द कर दी गयी है। सभी पदाधिकारियों को नित्य खैरियत प्रतिवेदन जिला मुख्यालय को भेजने का निर्देश दिया गया है।

प्रभारी जिला पदाधिकारी-सह-अपर समाहत्र्ता, मधुबनी एवं पुलिस अधीक्षक, मधुबनी द्वारा सभी पदाधिकारी एवं पुलिस जवानों को इस अवसर पर अपनी सेवा पूरी चुस्ती एवं सावधानी के साथ करने का निर्देश दिया गया है, साथ ही प्रतिनियुक्ति स्थल से अनुपस्थित रहनेवाले पदाधिकारियों के विरूद्ध सख्त अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी।

सांप्रदायिक हिंसा/तनाव आदि को रोकने,इससे निपटने की पूरी जिम्मेवारी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी/पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल की है। इस संबंध में कोई ढ़िलाई या किसी प्रकार की शिथिलता गंभीर कत्र्तव्यहीनता समझी जायेगी। साथ ही यह भी स्पष्ट किया गया कि सांप्रदायिक सौहार्द एवं शांति बनाये रखने के लिए स्थानीय अधिकारी जो भी कार्रवाई, बिना किसी भेदभाव से प्रेरित होकर निष्पक्ष पूर्वक करेंगे,उसमें पूर्ण समर्थन मिलेगा।

तत्पश्चात जिला परिवहन पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा उपस्थित सभी पदाधिकारियों को नये यातायात नियमों के अनुपालन तथा उसका आम लोगों में जागरूकता लाने के बारे में जानकारी दी गयी। उन्होंने कहा कि नये यातायात नियम को लाने का मुख्य उदेश्य दुर्घटना को रोकना है। अधिक-से-अधिक लोग हेलमेट तथा शीट बेल्ट का प्रयोग करें साथ ही अन्य यातायात नियमों का भी पालन करें, जिससे दुर्घटना को रोका जा सकें।

उन्होंने सभी पदाधिकारियों को यातायात नियमों का पालन करने एवं अपने अधीनस्थों को भी इसका पालन सुनिश्चित करने को कहा। साथ ही सभी थानाध्यक्षों को अपने-अपने थाना क्षेत्रों में वाहन जांच अभियान में तेजी लाने का निदेश दिया। जिससे कि लोग अधिक-से-अधिक यातायात नियमों का पालन करें।

शिक्षक दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन

मधुबनी : शहर के जाने-माने  गंगासागर चौक स्थित राजीव इंफोटेक कंप्यूटर शिक्षण संस्थान द्वारा शिक्षक दिवस समारोह का आयोजन किया गया।  इस अवसर पर छात्र-छात्राओं ने लोकनृत्य झिझिया की शानदार प्रस्तुति दी।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मधुबनी जिला के जाने माने पत्रकार एवं ब्युरो चीफ सह  जिलाध्यक्ष किशोर कुमार मुख्य अतिथि के रूप मे आमंत्रित किया एवं मिथिला की परंपरा के अनुसार पाग, दोपट्टा और पुष्पमाला से सम्मानित किया।

वहीं, मुख्य अतिथि के रूप में आये पत्रकार किशोर कुमार ने राजीव इंफोटेक के डायरेक्टर राजीव कुमार को शुभकामना एवं बधाई देते हुए कहा कि गुरु के अच्छे मार्गदर्शन से ही जीवन की उपलब्धि हासिल की जा सकती है।

उन्होंने कहा की राजीव इंफोटेक कम्प्यूटर संस्थान द्वारा दी गईं  शिक्षा पाकर कई छात्र एवं छात्राएं विभिन्न संस्थानों में रोजगार पा चुके हैं।

वहीं किशोर कुमार ने छात्रों को पत्रकारिता एवं आईटी के प्रति झुकाव के लिए भी प्रेरित किया और उन्होंने कम्प्यूटर शिक्षा को अब हर तरह की शिक्षा के लिए महत्वपूर्ण बताया साथ ही उन्होंने बताया कि इस डिजिटल युग में कंप्यूटर शिक्षा बहुत जरूरी है, जिसके माध्यम से आपके दैनिक जीवन में बहुत मदद मिलती है।

इस अवसर पर छात्रों द्वारा झिझिया नृत्य एवं और कई सांस्कृतिक कार्यक्रम किये गये। जिसमें सम्मिलित होकर किशोर कुमार ने बच्चों का हौसला बढ़ाया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

श्रवन कुमार ने की योजनाओं की समीक्षात्मक बैठक

मधुबनी : ग्रामीण विकास एवं संसदीय कार्य मंत्री श्रवन कुमार की अध्यक्षता में शनिवार को स्थानीय डीआरडीए सभागार में ग्रामीण विकास योजनाओं की समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर उप-विकास आयुक्त, मधुबनी एवं सभी प्रखंड विकास पदाधिकारीगण उपस्थित थे। बैठक में हर प्रखंड में हो रहे योजनाओं को समीक्षा की गई, एवं जरूरी निर्देश भी दिए गए।

प्राईवेट कोचिंग संस्थानों का रजिस्ट्रेशन की हुई शुरुआत

मधुबनी : जिले के प्राईवेट कोचिंग संस्थानों का रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया की शुरुआत हो गई है। जिला शिक्षा पदाधिकारी के कार्यालय से पूर्व के रेजिस्ट्रेशन के लिए आवेदक को एमओबी से सूचना दिया गया है  कि अपने-अपने सेंटर को रेजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को अविलंब पूरा करे।

तत्पश्चात मधुबनी शहर के प्राइवेट ट्यूशन शिक्षण संस्थान के डायरेक्टर्स और टीचर्स ने शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में जा कर सारी जानकारी विधिवत् प्राप्त किया। जिला शिक्षा पदाधिकारी से PICTA के प्रतिनिधि मंडल अध्यछ पिसी झा, सचिव शेष नारायण, कोषाध्यक्ष पवन कापड़ी, एस०के० सिंह, एवं अमित रंजन ने विस्तार से वार्ता कर जानकारी लिया।

इससे जिला के कोचिंग, ट्यूशन सेंटर के संचालनकर्ता अपने-अपने सेंटर का रजिस्ट्रेशन के लिए जिला शिक्षा ऑफिस से फॉर्म लेकर, उसमे मांगे गए जानकारी और जरूरी कागजातों के साथ संलग्न कर जमा कर सकेंगे।

इसके लिए जरूरी फॉर्म जिला शिक्षा कार्यालय मे उपलब्घ हो गया है, साथ ही PICTA के प्रतिनिधि मंडल अध्यक्ष, सचिव, कोषाध्यक्ष, एस०के० सिंह एवं अमित रंजन के आग्रह पर जिला शिक्षा पदाधिकारी ने सभी सम्मानित सदस्यों के साथ एक विशेष कार्यक्रम रखने की भी मांग को स्वीकार कर लिए, जो कुछ दिनों के अंदर ही जिला स्तर पर कोचिंग ट्यूशन सेंटर के संचालनकर्ता के साथ एक मीटिंग का आयोजन किया जाएगा।

राधाष्टमी पर निकाली गई शोभा यात्रा

मधुबनी : मधुबनी जिलान्तर्गत जयनगर शहर में राधाष्टमी के अवसर पर कलश शोभा यात्रा निकला गया । इस शोभा यात्रा में सैकड़ों महिला और कुंवारी कन्याओं ने भाग लिया।

जयनगर के दुल्लीपट्टी गांव से जयनगर शहर में यह कलश शोभायात्रा निकाला गया। यह कार्यक्रम नवयुवक सेवा समिति के तत्वावधान में निकाला गया।

समिति सदस्यों ने बताया कि दुर्गामन्दिर, दुल्लीपट्टी में प्रत्येक साल यह कार्यक्रम होता रहा है, परंतु अब इस साल से यह शोभायात्रा जयनगर शहर में भी घुमाई गयी है। इस मौके पर हजारों की संख्या में लोग शोभायात्रा में शामिल हुए।

ऑटो-पिकअप की टक्कर में महिला की मौत, सड़क जाम

मधुबनी : जिला के रहिका थाना क्षेत्र अंतर्गत धनुकी गावं के निकट ऑटो और तेज रफ्तार से आर ही पिकअप से साईड से टक्करा गई जिससे एक 22 वर्षीय महिला बुरी तरह से घायल हो गई। जिसके बाद स्थानीय लोगों के सहयोग से सदर हॉस्पिटल भेजा गया, लेकिन रास्ते मे ही उसकी मौत हो गई।

घटना से गुस्साए स्थानीय लोगों ने सड़क कों जाम कर दिया, जिस कारण घंटो यातायात बाधित हो गया। प्रशासन ने भीड़ कों समझा बुझा कर शव कों पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने इस बाबत मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दी है।

 प्रमोद गुप्ता बने जदयू प्रखंड अध्यक्ष

मधुबनी : जिले के हरलाखी प्रखंड में जदयू प्रखंड अध्यक्ष के लिए चुनाव संपन हो गया। हरलाखी प्रखंड के किसान भवन, उमगांव में जदयू के संगठनात्मक प्रखंड अध्यक्ष का चुनाव संपन हुआ।

प्रमोद गुप्ता को निर्विरोध जदयू का प्रखंड अध्यक्ष चुना गया। इस चुनाव के बाद इनके समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गयी। वहीं, इस चुनाव में जितने पर अन्य कार्यकर्ताओं ने उनको बधाई दिया।

मोटर चालक यूनियन ने निकाला नए मोटर अधिनियम के खिलाफ मार्च

मधुबनी : नए मोटर ट्रैफिक अधिनियम के खिलाफ मोटर चालक यूनियन जयनगर ने निकाला विरोध मार्च। मोटर चालक यूनियन जयनगर के द्वारा नए मोटर ट्रैफिक अधिनियम के खिलाफ रेलवे स्टेशन परिसर जयनगर से मोटर चालकों ने विरोध मार्च निकाला जिसका नेतृत्व मोटर चालक यूनियन के अनुमंडल सचिव भूषण सिंह ने किए।

विरोध मार्च बस स्टैंड, शहीद चौक, मैन रोड, महावीर चौक व विभिन्न चौक चौराहों से होते हुए स्टेशन चौंक पर सभा में तब्दील किया गया। सभा के अध्यक्षता युनियन के अनुमंडल अध्यक्ष मो० सद्दाम ने किया।

आयोजित सभा को संबोधित करते हुए मोटर चालक यूनियन जयनगर के अनुमंडल सचिव भूषण सिंह ने कहा की यह पूरी तरह गरीब विरोधी कानून है। ट्रैफिक नियमों में उल्लंघन करने पर जुर्माना पहले से लगभग 10 गुना बढ़ा दिया गया है, जो पहले से ही आर्थिक संकट झेल रही देश की जनता के साथ क्रूर मजाक है।

उन्होंने कहा कि सरकार के इन कदमों से वाहन चालकों पर बेहद नकरात्मक असर पड़ेगा। सरकार ने आॅटो-रिक्शा चालकों से 15 साल का रोड टैक्स व 5 साल के परमिट का पैसा वसूला लेकिन अब कह रही है, कि सभी डीजल वाहनों के परमिट रद्द कर दिए जाएंगे और सीएनजी सेवा चलाई जाएगी। सरकार प्रदूषण बढ़ने का तर्क दे रही है। यदि सरकार सचमुच सीएनजी वाहनों को चलाना चाहती है, तो इस बात की गारंटी करे कि पुराने वाहन चालक के वाहन की कीमत लगाकर सीएनजी वाहन खरीदने के लिए उन्हें 50 प्रतिशत सब्सिडी प्रदान की जाए। इस कार्य में शिक्षित बेरोजगारों की भारी संख्या लगी हुई है, इसलिए इसे आनन-फानन में नहीं किया जा सकता है. परमिट रहने तक इन वाहनों को चलने देना चाहिए।

प्रदूषण केंद्र सरकार के परिवहन विभाग द्वारा ही स्थापित किए गए थे, लेकिन अब इस कानून के तहत प्रदूषण के वे सारे सर्टिफिकेट रद्द कर दिए जाएंगे। सरकार यह बताए कि अपने ही संस्थानों के सर्टिफिकेट को रद्द कर वाहन चालकों को क्यों परेशान कर रही है?

वाहन चालकों की शिकायत है कि प्रशासन उनसे आॅन द स्पाॅट जुर्माना नहीं वसूलती. बाद में कई तरह के अन्य फर्जी चार्ज भी जोड़ दिए जाते हैं, इसलिए स्पाॅर्ट फाइन की ही व्यवस्था होनी चाहिए।आन्दोलन को मजबूती व यूनियन के विस्तर हेतु 14 सितम्बर को आम सभा आयोजित किया जाएगा, जिसमें सैंकड़ों संख्याओं में सभी प्रकार के मोटर चलाने वाले मोटर चालक सामिल होंगें ।

आयोजित विरोध मार्च व सभा मे अशोक गिरी, मो0 इम्तियाज, मो० शमी, मो० रजिया, पिंटू, मो० मुजिबुल, मो० लाल, मो० निसार, श्याम राय, उमेश सिंह, संतोष यादव, दिनेश यादव, संजीव यादव, प्रमोद कुमार साह, मो० जमाल, मो० छोटे, वीरेंद्र महारा, मनोज साह, दीपेश कुमार यादव  सहित कई चालकों ने संबोधित किए और भाग लिये।

सुमित राउत

swatva

Leave a Reply