7 नवंबर : मधुबनी की मुख्य ख़बरें

0

अपर आयुक्त ने की दिव्यांगता अधिकार की समीक्षात्मक बैठक

मधुबनी : पण्डौल प्रखंड एवं रहिका प्रखंड के टीपीसी भवन में अपर आयुक्त निःशकता डॉ० शिवाजी कुमार की अध्यक्षता में नगर विधायक समीर कुमार महासेठ की उपस्थिति में विभागीय पदाधिकारियों संग सामजिक सुरक्षा कोषांग के दिव्यांगता अधिकार अधिनियम धारा 72 के अंतर्गत राज्य निःशकता प्रखंड स्तरीय एडवोकेसी एवं समीक्षात्मक बैठक की।

इस मौके पर अपर आयुक्त डॉ० शिवाजी कुमार ने कहा की दिव्यांगता अधिकार अधिनियम 2016 के धारा 72 के अंतर्गत राज्य एवं केन्द्र की ओर से सभी लाभकारी योजनाओं का लाभ सहजता से मिल सके। इसके लिए पंचायत स्तर पर दिव्यांगों के लिए बैठक आयोजित कर समूहों का निर्माण करना है।

उन्होंने बताया कि 21 प्रकार के दिव्यांग हैं। उनमें से शिक्षित दिव्यांगों को बैठक में शामिल कर 15 दिनों पर बैठक करने का निर्देश दिया।

प्रखंड एवं अंचल कार्यालय से सम्बंधित पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि दिव्यांग के योजनाओं के लाभ की सूची तैयार करने की जिम्मेवारी दी।

राज्य निःशक्ता आयुक्त ने शिक्षा, मनरेगा, पुलिस, कृषि, कल्याण, आवास, बाल विकास एवं स्वास्थ्य आदि विभागों के पदाधिकारियों से बारी बारी से निःशक्तजनों के लाभ अधिकार अधिनियम के तहत सुगमतापूर्वक लाभ प्रदान करने के निर्देश का अनुपालन करने की जानकारी दी।

सबसे आश्चर्य की बात यह रही कि दिव्यांगों के लिये बिहार सरकार की जो भी योजना है, दिव्यांगों के मौलिक अधिकर क्या है उस बात की जानकारी दिव्यांगों को नही थी यह समझ मे आ रहा था। लेकिन बहुत ऐसे पदाधिकारीयो को भी योजनाओ के बारे मे जानकारी नही थी, जिससे कार्य की प्रगति शून्य थी।

बैठक मे इस बात की जानकारी मिलते ही अपर आयुक्त बिफरे और संबन्धित पदाधिकारियों को समय सीमा में कार्य करने का निर्देश दिया  और तब तक वेतन रोकने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होने कहा कि सरकार की स्पष्ट नीति है कि दिव्यांगों के लिये जो भी योजनाये है, उनको उनके घऱ तक पूरी सहायता देकर पहुंचाई जाय। उनके कानूनी अधिकार क्या है उन्हें विस्तार से बताया जाय। जो भी पदाधिकारी दिव्यांगों के अधिकार से खिलवाड़ करेगा उसके लिये दंड का प्रावधान है।

अपर आयुक्त डॉ० शिवाजी कुमार ने नगर विधायक समीर कुमार महासेठ की तारीफ भी की उन्होने बताया कि विधायक समीर कुमार महासेठ दिव्यांगों के बेहतरी के लिये हमेशा लड़ते रहते है। विधानसभा मे सवाल उठाते रहते है। उनके सवाल पर राज्य सरकार कार्यवाई भी कर रही है। इस समय भी वें अपना कीमती समय निकालकर दोनो समीक्षात्मक बैठक मे उपस्थित है। विधायक समीर कुमार महासेठ ने कहा कि दिव्यांगों के खोज कर उन्हें उचित लाभ देने से समाजिक रुप से विकास तेजी से होगा।

उन्होंने कहा कि इसके लिए पदाधिकारियों को खासतौर पर मुहिम चलाने की आवश्यकता बल दिया। साथ ही विधायक समीर कुमार महासेठ ने अपर आयुक्त डॉ० शिवाजी कुमार की तारीफ भी किये। उन्होने बताया की जब से डॉ शिवाजी कुमार निःशकता अपर आयुक्त बनें है, दिव्यांगों के लिये वेहतर काम करने मे बिहार का पायदान नम्बर एक हो गया। यही पहले सोलहवाँ स्थान था, जिसके लिये वें बधाई के पात्र है। गौरतलब है की दिव्यांगों के लिये यह समीक्षात्मक बैठक जिले के सभी प्रखंडों मे होना तय है। ऑन स्पॉट दिव्यांगों से आवेदन भी लिये जा रहे है और समय से उनको लाभ देने की बात अपर आयुक्त कर रहे है।

डीएसपी ने लंबित मामलों को निष्पादन करने का दिया निर्देश

मधुबनी : अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बेनीपट्टी के कार्यालय प्रकोष्ठ में एसडीपीओ पुष्कर कुमार की अध्यक्षता में अनुमंडल के सभी एसएचओ की बैठक हुई। इस दौरान एसडीपीओ ने सभी आपराधिक कांडों का शीघ्र उद्भेदन करने व अपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने का निर्देश दिया।

उन्होंने सभी पुलिसकर्मियों से कहा कि हर हाल में अपराधियों को पकड़कर जेल भेजने का काम करें और अपराध नियंत्रण करना सुनिश्चित करें।

एसडीएम ने सुस्त बीएलओ को लगायी फटकार

मधुबनी : बेनीपट्टी स्थित मेघदूतम सभागार में निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी सह एसडीएम मुकेश रंजन की अध्यक्षता में बेनीपट्टी विधानसभा-32 निर्वाचन क्षेत्र के वैसे बीएलओ के साथ एक समीक्षात्मक बैठक हुई, जिनका मतदाता सत्यापन कार्य सबसे अधिक लंबित था। एसडीएम ने मतदाता के सत्यापन कार्य में शिथिलता बरतने लिये सभी बीएलओ को कड़ी फटकार लगायी। उन्होंने कहा कि सत्यापन कार्य बीएलओ नेट के माध्यम से 8 नवंबर तक हर हाल में पूर्ण करें। समीक्षा के दौरान पाया गया कि 19 ऐसे बीएलओ थे, जिनका बीएलओ नेट से सत्यापन कार्य शून्य था। इसके अलावे 14 ऐसे बीएलओ थे, जिनका बीएलओ नेट से सत्यापन कार्य 10 से भी कम था। ऐसे बीएलओ को एसडीएम ने फटकार लगाते हुए सुधार लाने का निर्देश दिया।

रेल प्रशासन के खिलाफ 20 नवंबर को रिक्शा तांगा यूनियन देगा धरना

मधुबनी : रिक्शा तांगा यूनियन जयनगर के द्वारा तांगा चालकों का +2 हाई स्कूल जयनगर के मैदान में तांगा चालक मोहम्मद साबिर के अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित किया गया।

इस बैठक में तांगा चालक की समस्याओं पर प्रकाश डाला गया और यूनियन के मजबूती हेतु कई योजना बनाई गई, और रेलवे स्टेशन परिसर में तांगा स्टेण्ड में शौचालय का निर्माण, पानी का व्यवस्था करने, सेड का निर्माण करने तथा रेल प्रसाशन के द्वारा चालकों पर किए जा रहे दमन पर रोक लगाने की मांग को लेकर 20 नवम्बर2019 को स्टेशन परिसर जयनगर में धरना देने का निर्माण लिया गया।

इस बैठक को संबोधित करते हुए रिक्शा तांगा यूनियन के अनुमंडल सचिव भूषण सिंह ने कहा की स्टेशन परिसर जयनगर में रेल परिचालन कार्यकाल से ही रिक्शा तांगा का पराव स्थल निर्धारित है। लेकिन स्थानीय जेल प्रशासन अपने व्यक्तिगत स्वार्थ व गरीबों पर दमनकारी प्रभाव जमाने के ख्याल से अन्य आवश्यक चालकों के साथ दमनकारी व्यवहार करते हैं, जिसके कारण रिक्शा तांगा चालकों में भय का माहौल उत्पन्न हो गया है। ज्ञात हो कि पूरे भारत मैं रिक्शा -तांगा चालकों के लिए रैन बसेरा वह कई तरह का व्यवस्था रेल प्रशासन के द्वारा किया गया है। लेकिन जयनगर के रेल प्रशासन एक मानवता के सीमा नांघ कर कठोर कठिन परिश्रमी रिक्शा -तांगा चालकों के साथ दुर्व्यवहार  कर दमनकारी नीति चला रहे हैं। हम उस तमाम रेल के सभी प्रकार के प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा चाहते हैं  कि पहले रेल क्षेत्रों में आम लोगों के सुरक्षा अपराध पर नियंत्रण का काम करें अन्यथा उक्त प्रकार के कार्य करने वाले उक्त प्रशासन को यूनियन चिन्हित कर मुंहतोड़ जवाब देने पर मजबूर होंगे और वरीय रेल प्रशासन से हम मांग करते हैं कि जयनगर में रिक्शा तांगा चालकों को सुरक्षा प्रदान करें और उक्त प्रकार के व्यवहार करने वाले स्थनीय रेल प्रशासन पर कठोर कार्रवाई करें।

इस बैठक को संबोधित किए मो० हसलेन, मो० मकबूल, दुखहरन मण्डल, सुरेन्द्र राम, सकलदेव राम, शत्रुघ्न राम, मोहन महरा, मुस्तफा, छोटू, नजम गुलशद परवेज ने संबोधित किए।

करंट लगने से लड़की हुई जख्मी

मधुबनी : हरलाखी थाना क्षेत्र के नहरनीया गांव में करंट की चपेट में आने से एक नाबालिग लड़की गंभीर रुप से जख्मी हो गई। जख्मी की पहचान बरकत अली की सोलह वर्षीय पुत्री रजीना खातून के रुप में हुई है।

आनन-फानन में परिजनों ने पीएचसी उमगांव में भर्ती कराया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सक ने बेहतर ईलाज के लिए डीएमसीएच रेफर कर दिया। परिजनों ने बताया की बुधवार की सुबह मेरी पुत्री आंगन में झाड़ू लगा रही थी उसी दौरान बिजली की अर्थ वाली तार के चपेट में आ गयी।

दिव्यांग ने आश्वासन के बाद अनशन किया खत्म

मधुबनी : बेनीपट्टी के ब्रहमपुरा पंचायत के चतरा गांव निवासी श्याम कुमार झा ने मंगलवार से शुरु किये गये अनशन को बुधवार को वार्ता के बाद तोड़ दिया।

वार्ता में बीडीओ मनोज कुमार, बीसीओ मिथिलेश कुमार, जिलाध्यक्ष घनश्याम ठाकुर व राजद प्रखंड अध्यक्ष राजेश यादव शामिल थें।

बता दें कि ब्रहमपुरा पैक्स के पिछले 10 वर्षों के कार्यकाल की जांच सहित 5 सूत्री मांग को लेकर श्याम कुमार झा अनशन पर बैठे थें।

बुधवार को सभी पदाधिकारियों और जनप्रतिनिधियों ने वार्ता शुरु किया। जहां 10 जनवरी तक सभी मांगो पर पहल और जांच कर कार्रवाई के आश्वासन पर श्री झा अनशन छोड़ने पर राजी हुए। जिसके बाद मधुबनी भाजपा जिलाध्यक्ष और राजद अध्यक्ष ने जूस पिलाकर अनशन तोड़वाया।

नाम जुड़वाने के लिये अंतिम दिन सैकड़ों लोगों ने जमा किया आवेदन

मधुबनी : बेनीपट्टी प्रखंड कार्यालय स्थित निर्वाचन शाखा में पैक्स मतदाता सूची में नाम जोड़ने और सुधारने के लिये अंतिम दिन सैकड़ों लोगों ने आवेदन जमा किया।

इस दौरान संलग्न सभी कागजातों की गहन जांच करतें हुए आवेदन जमा लिया गया। इस मौके पर उपस्थित बीपीआरओ ने कहा कि आज बुधवार तक पैक्स मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिये लोगों से आवेदन जमा लेने का अंतिम दिन था। उन्होंने कहा कि उक्त निर्धारित तिथि तक मतदाता सूची में नाम जुड़बाने व सुधारने के लिये आवेदन जमा करना था। इस अंतिम दिन काफी भीड़ उमड़ पड़ी।

महादलित का शव हुआ बरामद

मधुबनी : हरलाखी थाना क्षेत्र के उमगांव बासोपट्टी मुख्य मार्ग स्थित कलना के एक पेट्रोल पंप के निकट संदेहास्पद स्थित में एक महादलित का शव बरामद हुआ है।

जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह लोगों ने उक्त शव को देखा जिसके बाद किसी ने पुलिस को सूचना दी।

सूचना मिलते ही थाना पुलिस मौके पर पहुंची। छानबीन के क्रम में मृतक की पहचान उमगांव निवासी कल्लर मल्लिक के रुप मे हुई। जिसके बाद पुलिस ने मृतक के शव को उनके घर छोड़ आया।

इधर मृतक के पत्नी सुनिता देवी का आरोप है, की मेरे पति को किसी ने दुश्मनी से मार दिया है। उन्होंने बताया की मंगलवार की शाम से ही कहीं निकला हुआ था। मृतक के चार छोटे बच्चे है। घटना से आहत होकर उसके पत्नी व बच्चों का रो-रो कर बुरा हाल है।

इस बावत थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया की मृतक की मौत ठंढ लगने के कारण होने की आशंका जताई गयी है। फिलहाल पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।

जयनगर की बेटी ने एसबीआई सहायक क्वालीफाई कर  बढ़ाया जयनगर का मान

मधुबनी : शहर के खर्गा रोड निवासी एक मध्यम परिवार के दिपक खर्गा की छोटी बेटी रेशम ने न केवल बीएचयू से उच्च शिक्षा ग्रहण किया। बल्कि प्रथम प्रयास में ही चार प्रतियोगी परीक्षाओ में को भेदने का काम किया। वह एसबीआई सहायक पद के लिए फाईनल क्वालीफाई किया है।

इसके अतिरिक्त बैंक के स्केल टू ऑफिसर, आरआरबी, एफसीआई एकाउंडेड तथा लेबर नियोजनालय मंत्रालय के ईएसआईसी परीक्षा में किला भेदी है। पर फाईनल रिजल्ट वेटिंग में है।

किसी ने सच कहा है कि इरादा बुलंद हो तो, कामयाबी मिलना दूर नही। समाजिक कार्यकर्ता सह स्वर्ण आभूषण के व्यापारी दिपक खर्गा व अनिता देवी की प्रथम पुत्री स्नेहा भी उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक में पीओ है। पुत्र दिपांशु एमबीबीएस के छात्र है। रेशम में बताया कि फिलवक्त एसबीआई सहायक ज्वांईन कर रही है, उक्त रिजल्ट आने का इंतजार है। रेशम ने अपने संघर्षों का श्रेय निरंतर पढ़ाई तथा मां, पिता, गुरूजन का आशीर्वाद बताते हुये कहा कि हर माता पिता को अपने पुत्री पर पुरे भरोसे के साथ आगे बढ़ाना चाहिए। ताकि घर की बेटियों मायका व ससुराल व समाज को खुशहाल करने में तत्पर रहेगी।

विशेष शिविर में उमड़े दिव्यांग

मधुबनी : जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग, मधुबनी के द्वारा आयोजित भारत सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के अंतर्गत एडिप योजना के अंतर्गत दिव्यांगजनों के प्रशिक्षण एवं दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनवाने के लिए विशेष शिविर में काफी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया।

इस विशेष शिविर में 50 व्यक्तियों का उपकरण हेतु चयन किया गया एवं कुल 152 व्यक्तियों का प्रमाणीकरण के लिए निबंधन किया गया, जिससे दिव्यांगता प्रमाण पत्र निर्गत किया जा रहा है।

एडिप योजना के अंतर्गत निःशक्त व्यक्तियों को कृत्रिम अंग एवं उपकरण प्रदान करने हेतु उन्हें सर्वप्रथम परीक्षण किया जाता है  कि दिव्यांग व्यक्ति को किस प्रकार के उपकरण की आवश्यकता है।

उपकरण निःशुल्क उपलब्ध कराया जाता है, दिव्यांगजनों को ट्राईसाईकिल, व्हील चेयर, वैसाखी, छड़ी, रोलेटर, दृष्टिबाधित को बेल फोल्डिंग छड़ी, बेल स्लेट या बेल किट, मंदबुद्धिजनों के लिए एम०एस०आई०ई०डी० किट तथा श्रवण दिव्यांगजनों के लिए श्रवण यंत्र आदि प्रदान करने हेतु चिकित्सक या पुनर्वास विशेषज्ञों द्वारा जांच कर एडिप प्रपत्र उपलब्ध कराकर निबंधन कराया जाता है, और उसके पश्चात सामान की आपूर्ति अलग कैंप आयोजित कर चार-से-छह सप्ताह के पश्चात वितरण किया जाता है।

बाढ़ राहत में योगदान के लिए विवेक कुमार को मंत्री ने किया सम्मानित

मधुबनी : जयनगर के विवेक कुमार को बिहार सरकार के आपदा मंत्री लक्ष्मेश्वर राय  के द्वारा सम्मानित किया गया है , साथ ही उन्हें प्रोत्साहन राशि के तौर पर 5100 रुपये का चेक दिया गया है। इस अवसर पर पटना के डीएम कुमार रवि सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

मधुबनी जिले के जयनगर अनुमण्डल के जयनगर बस्ती पंचायत के विंदेश्वर ठाकुर के पुत्र हैं। इन्हें बाढ़ 2019 में जयनगर प्रखंड के डोरवाड़, सेलरा, बेलही पश्चिम आदि पंचायत में राज्य आपदा मोचन बल(SDRF) द्वारा किये जा रहे सहायता कार्य में सहयोग और साँप काटी एक वृद्ध महिला को अस्पताल पहुँचाने के लिए सेलेक्ट किया गया है। इसके अलावा इनके बारे में कहा गया है कि इन्होंने जागरूकता फैलाने के साथ ही सामुदायिक रसोई में अहम योगदान दिया है।

विवेक कुमार जयनगर में काफी चर्चित युवा हैं, और भाजपा के युवा नेता होने के साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) के स्वयंसेवक के रूप में हिंदुत्व की अलख जगाने के रूप में भी इनकी सक्रिय पहचान है।

राजद प्रखण्ड अध्यक्ष ने किया सड़क का शिल्यानास

मधुबनी : बिस्फी प्रखण्ड क्षेत्र के खैरी-बांका दक्षिण पंचायत में मुख्यमंत्री ग्राम सम्पर्क योजना के अंतर्गत 90 लाख रुपए की लागत से सड़क का शिलान्यास किया गया। जिसका शिल्यानाश राजद के प्रखण्ड अध्यक्ष जयजय राम यादव, मो जिलानी, शत्रुघ्न प्रशाद यादव ने संयुक्त रूप नारियल फोड कर सड़क की आधारशिला रखी।

सड़क का निर्माण धाई टोला बांका से धेपुरा राय जी टोला तक बनाया जायगा। सड़क 1300 मीटर लंबी बनेगी। यह सड़क मुख्यमंत्री ग्रामीण संपर्क योजना के अंतर्गत बनाया जायगा। इसमें दो पुलिया व 800 मीटर पीसीसी एवं 500 मीटर काली करण शामिल है।

इस मौके पर पूर्व विधायक प्रतिनिधि जयजयराम यादव ने कहा कि स्थानीय विधायक डॉ० फैयाज अहमद ने नौ साल के दौरान बिस्फी में सड़कों का जाल विछाया है। उनका उद्देश्य क्षेत्र के हर जर्जर सड़कों का निर्माण करवाएंगे।

इस मौके पर उपस्थित शत्रुघ्न प्रसाद यादव, तकी हैदर जिलानी, रजी अहमद, मो जैदी अन्य सैंकड़ो की संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

सुमित राउत  

Leave a Reply