3 दिसंबर : मधुबनी की मुख्य ख़बरें

0
madhubani

विश्व निःशक्तता दिवस पर प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

मधुबनी : बिहार शिक्षा परियोजना, समग्र शिक्षा अभियान के तहत मधुबनी नगर के वाटसन उच्च विद्यालय के सभागार में विश्व निःशक्तता दिवस मनाया गया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन जिला शिक्षा पदाधिकारी मोहम्मद नसीम अहमद के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।

इस अवसर पर दिव्यांग बच्चों के बीच खेलकूद, संगीत एवं चित्रांकन प्रतियोगिता करायी गई। इस प्रतियोगिता में पुरे जिले से आये दिव्यांग बच्चे पुरे तन्मयता से भाग ले रहे थे और काफी खुश लग रहे थे। इस प्रतियोगिता में चयनित दिव्यांग बच्चों के बीच पुरस्कार भी वितरण किया गया।

मातृ वंदना सप्ताह पर निकाली गई जागरूकता रैली

मधुबनी : वाटसन हाई स्कूल के प्रांगण से प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत समाज कल्याण विभाग की योजना के पहले दिन जागरूकता रैली डीपीओ रश्मि वर्मा, सीएस मिथिलेश झा एवं अन्य पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से झंडा दिखाकर रवाना किया। रैली शहर के विभिन्न मार्गो से होते हुए  सदर अस्पताल जायेगी जहाँ होने वाले कई कार्यक्रम में हिस्सा लेगी।

मुख्यालय सहित मातृ वंदना सप्ताह के अंतर्गत विभिन्न अनुमंडलो एक प्रखंडों में भी सप्ताह भर रैली एवं जागरूकता के लिये कई कार्यक्रम चलाये जायेंगे और जो लाभुक है उनको योजना के मुताबिक राशि दी जायेगी। मौके पर कई सीडीपीओ सहित सैकड़ो आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिका मौजूद थी।

अस्पताल का कचरा कमला नदी में फेंका, सीएस ने लिया संज्ञान

मधुबनी : जयनगर अनुमंडल अस्पताल का कचड़ा कमला नदी में फेके जाने का मामला प्रकश में आया है। इस मामले पर संज्ञान लेते हुए मधुबनी सिविल सर्जन ने शॉकाउज नोटिस जारी कर जवाब माँगा है।

मौके पर पहुंचे रिपोर्टर ने जब कर्मचारियों से पूछा तो बेझिझक उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसा करने के लिए कहा गया इसलिए उन्होंने कचड़ा कमला नदी में फेक दिया।

छात्रसंघ चुनाव संपन्न, ऋषि कुमार सिंह बने अध्यक्ष

मधुबनी : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के अंगीभूत कॉलेज दलश्रृंगार बलदेव सिंह महाविद्यालय (D B College), जयनगर में मतगणना शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ। रविवार को विभिन्न पदों के लिए वोट डाला गया था और सोमवार को परिणाम आ गए। नतीजे के दिन चुनाव में खड़े उम्मीदवारों की धड़कनें तेज हो गई थी। परंतु अब स्थिति स्पष्ट है छात्रसंघ चुनाव 2019 का नतीजा सोमवार को स्पष्ट हो गया।

महाविद्यालय के प्रिंसिपल एवं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. नंद कुमार ने फाइनल रिजल्ट घोषित किया।जिसमें मिथिला स्टूडेंट यूनियन ने 4 पदों पर, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने 4 पदों पर तो, वहीं महागठबंधन ने 1 पद पर जीत हासिल करने में कामयाब रहे।

सभी जीते हुए उम्मीदवारों का कहना है कि हम सभी छात्र मिलकर D B College के हित में जो भी कदम उठाने होंगे हम उठाएंगे। कॉलेज में अभी कुछ विषयों के प्रोफेसर हैं तो कुछ के नहीं भी हैं। जिसके कारण पठन-पाठन ठप रहता है। साथ ही मतगणना के दिन ड्यूटी पर तैनात प्रोफेसरों का कहना है, कि जिस तरह चुनाव के लिए सभी संगठन जोर आजमाइश कर रहे थे ठीक उसी तरह कॉलेज में विद्यार्थियों को लाने के लिए भी करें तो इससे छात्रों को ही फायदा होगा।

छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष ऋषि कुमार सिंह, उपाध्यक्ष- जय किशोर ठाकुर, महासचिव- निखिल तिवारी, संयुक्त सचिव- अनिल कुमार यादव, कोषाध्यक्ष- बिश्वास कुमार मांझी, काउंसिल मेम्बर- पुष्पा कुमारी, आरती कुमारी, रानी कुमारी, भवनाथ कुमार ने जीत दर्ज की।

पैक्स चुनाव : 24 अभ्यर्थियों ने किया नामांकन

मधुबनी : पैक्स चुनाव को लेकर नामांकन शुरु हो गया है। पहले दिन पैक्स अध्यक्ष चुनाव के लिए कुल 24 अभ्यर्थियों ने नामांकन का पर्चा बढा। पैक्स अध्यक्ष के लिए नामांकन करने वालों में पवन कुमार सिंह, नवेंद्र झा, शशि कुमार सिंह आदि शामिल थे।

निर्वाची पदाधिकारी जयनगर बीडीओ चन्द्रकान्ता ने बताया कि नामांकन कार्य 04 दिसंबर तक चलेगा। इस बीच दुल्लीपट्टी पैक्स अध्यक्ष के लिए नवेंद्र झा ने बताया वो 2003 से ही ओएस अध्यक्ष रह रहे हैं और इस बार वो चनाव लड़ना नही चाहते थे परंतु ग्रामीणों ओर किसानो के दवाब में वो मजबूरी में नामांकन किये हैं। जानकारी देते हुए नवेंद्र झा ने बताया की वो जितने के बाद किसानों के हित का कार्य करेंगे।

विश्व विकलांगता दिवस पर लोक संवाद का हुआ आयोजन

मधुबनी : विश्व दिव्यांग  दिवस के अवसर पर संभव ट्रस्ट के द्वारा पंडौल प्रखंड के सलेमपुर पंचायत भवन में दिव्यांगजन समूह के साथ संस्था का लोकार्पण एवं लोक-संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के संस्थापक मुकेश पंजियार ने किया और उद्घाटन शिला देवी ने किया। कार्यक्रम में 150 से अधिक दिव्यांगों ने भाग लिया।

संस्था के संस्थापक मुकेश पंजियार ने उपस्थित जन प्रतिनिधि, सरकारी कर्मी एवं दिव्यांगजन को बताया कि दिव्यांगजन हमारे समाज के महत्वपूर्ण अंग हैं। उनके सेवा, सुरक्षा, शिक्षा, स्वास्थ्य, सम्मान, अवसर, आरक्षण और रोजगार को सुनिश्चित करना केन्द्र और राज्य सरकार के साथ साथ त्रिस्तरीय पंचायती राज्य व्यवस्था एवं समाज का भी दायित्व है। केंद्र एवं राज्य सरकार के द्वारा कुल 124 तरह की योजना दिव्यांगजन के लिए चलाया जाता है। लेकिन जानकारी के अभाव दिव्यांगजन अब तक इन सारी सुविधाओं से वंचित हैं।

भारत सरकार ने वर्ष 2016 में दिव्यांगजन अधिकार संरक्षण अधिनियम लागू किया। जिसके तहत दिव्यांगजन को अनेकों तरह की सेवा मिलनी है। लेकिन पारिवारिक, सामाजिक और सरकारी उदासीनता के वजह से इन्हें इनका वाजिब हक नही मिल पाता है। संभव ट्रस्ट मधुबनी जिला के हर एक दिव्यांग को उनका हक और अधिकार दिलाने के लिए कृतसंकल्पित है। जिसकी शुरुआत आज से हो चुकी है। संभव ट्रस्ट हर पंचायत में लोक-संवाद का आयोजन करेगी और हर प्रखण्ड में महापंचायत का आयोजन करेगी। जिसके माध्यम से उन्हें जागरूक किया जाएगा।

शिला देवी ने कहा कि सम्भव ट्रस्ट के माध्यम से इन वंचितों को एक सशक्त आवाज और साथ मिलेगा। दिव्यांगजन को अब तक सिर्फ पेंशन और उपकरण के बारे में जानकारी थी। लेकिन इस इस लोक-संवाद कार्यक्रम के माध्यम से उन्हें विभिन्न विभाग में प्रदत्त सुविधा के बारे जानकारी मिली है।

मौके पर संभव ट्रस्ट के जिला संयोजक रवि शंकर ठाकुर, प्रखण्ड संयोजक शैलेश कुमार, सी एस सी प्रभारी दिनेश कुमार, उप मुखिया फ़क़ीर सदाय, देव चंद्र राय, पंकज कुमार, संस्था के पंचायत संयोजक सुधीर कुमार सुमन, मंगली देवी, गोविंद मिश्र आदि ने भाग लिया।

जिला कोर्ट में मनाया गया अधिवक्ता दिवस

मधुबनी : देशरत्न डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर मंगलवार को जिला बार एसोसिएशन में अधिवक्ता दिवस समारोह मनाया गया। संघ के अध्यक्ष शशि भूषण यादव एवं अन्य अधिवक्ताओं संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर समारोह का उद्घाटन किया।

अधिवक्ता दिवस समारोह की शुरुआत स्वागत गान से हुआ। इस मौके पर बतौर अधिवक्ता लगातार 50 वर्षों से काम कर रहे न्यायविदों को सम्मानित किया गया। 50 वर्षों से अधिवक्ता के रूप में काम कर रहे कपिलदेव सिंह, दिनानाथ झा, कमल नारायण यादव, हरिशचंद्र झा, सोमेश्वर झा एवं मोहम्मद अंजार असर को मिथिला के परंपरा के अनुसार फूलमाला एवं पाग दोपटा से सम्मानित किया गया।

लोगों ने प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद के बारे विस्तार से चर्चा की। अन्य कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया है। जिला अधिवक्ता संघ के महासचिव संजीव कुमार झा ने कार्यक्रम का संचालन किया। मौके पर अधिवक्ता रानी विक्रमशीला देवी,पूनम देवी सहित सैकड़ों अधिवक्ता मौजूद थे।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना सप्ताह के तहत निकाली गई जागरूकता रथ

मधुबनी : प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना सप्ताह कार्यक्रम के तहत मंगलवार को स्थानीय डीआरडीए परिसर, मधुबनी से अजय कुमार सिंह, उप-विकास आयुक्त, मधुबनी के द्वारा जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

इस अवसर पर डॉ रश्मि वर्मा, जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, आईसीडीएस, मधुबनी, श्रीमती किरण कुमारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, रहिका, सुश्री रेखा कुमारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, झंझारपुर, सुश्री प्रिया कुमारी, महिला पर्यवेक्षिका, श्रीमती सुषमा साव, महिला पर्यवेक्षिका, श्रीमती पुनीता कुमारी, महिला पर्यवेक्षिका, अंजनी कुमार झा, जिला समन्वयक, मधुबनी, प्रधानमंत्री मातृ वंदना, पवन कुमार, परियोजना सहायक, संतोष कुमार, कार्यपालक सहायक समेत काफी संख्या में सेविकाओं एवं अन्य कर्मियों ने जागरूकता रथ को रवाना करने में हिस्सा लिया।

जागरूकता रथ के माध्यम से दिनांक 03 दिसंबर को रहिका, पंडौल तथा कलुआही प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में मातृ वंदना योजना सप्ताह कार्यक्रम का प्रचार-प्रसार ऑडियो तथा बैनर-पोस्टर के द्वारा किया गया।

जागरूकता रथ के माध्यम से राजनगर, खजौली तथा बाबूबरही प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में प्रचार-प्रसार किया जायेगा। जागरूकता रथ रवाना होने के क्रम में सेविकाओं के द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना को प्रेरित नारा स्वस्थ राष्ट्र निर्माण की ओर-सुरक्षित जननी विकसित धरनी लगाया गया। मातृ वंदना सप्ताह के अंतर्गत तीन दिसंबर को दूसरे दिन योजना का उदेश्य एवं कार्यान्वयन पर ग्राम पंचायत/नगर निकाय स्तर पर बैठक एवं प्रभातफेरी तथा आंगनवाड़ी केन्द्र स्तर पर पंपलेट/बैनर/पोस्टर आदि के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया गया। तीसरे दिन लाभार्थी का शून्य पंजीकरण वाले आंगनवाड़ी केन्द्र को फोकस करते हुए गृह भ्रमण कर आंगनवाड़ी सेविका/सहायिका/महिला पर्यवेक्षिका द्वारा आवेदन प्रपत्रों का संग्रह किया जायेगा। चौथे दिन आवश्यकतानुसार लाभुकों का आधार एवं बैंक खाता से संबंधित समस्याओं का समाधान किया जायेगा। साथ ही जागरूकता हेतु बैंक, आधार के लीडिंग ऑफिसर के साथ समन्वय बैठक किया जायेगा।

पांचवें दिन करेक्शन क्यू तथा द्वितीय एवं तृतीय किस्त के लिए लंबित आवेदन प्रपत्रों का निष्पादन के लिए विशेष कैंप का परियोजना स्तर पर आयोजन किया जायेगा। जिसमें दिनांक 01.12.2019 तक प्राप्त आवेदनों एवं नए आवेदन की इंट्री की जायेगी। छठें दिन स्वास्थ्य विभाग, असैनिक शल्य चिकित्सक तथा संबंधित डेवलपमेंट पार्टनर से समन्वय कर आंगनवाड़ी केन्द्र स्तर पर लाभुक महिलाओं सहित जन समुदार से पी0एम0एम0वी0वाई0 से संबंधित प्रश्न-उत्तर एवं सूचना संबंधी खेल आदि गतिविधियों का आयोजन/रंगोली आदि कार्यक्रम किया जायेगा। सांतवें दिन जिला/परियोजना स्तर पर संबंधित डेवलपमेंट पार्टनर एवं अन्य के साथ समापन समारोह तथा संबंधित कार्यशाला में अच्छा प्रदर्शन करने वाले परियोजना पदाधिकारी/महिला पर्यवेक्षिका/आंगनवाड़ी सेविका/सहायिका को प्रोत्साहन हेतु प्रशस्ति पत्र/पुरस्कार आदि दिया जायेगा।

सुमित राउत

Leave a Reply