25 जनवरी : मधुबनी की मुख्य ख़बरें

0
madhubani news

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर पदाधिकारी व कर्मियों को दिलायी गयी शपथ

मधुबनी : राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर शनिवार को समाहरणालय स्थित सभाकक्ष, मधुबनी में विभिन्न कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम का शुभारंभ प्रभारी, जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिला आपूर्ति पदाधिकारी, मधुबनी, अशोक कुमार त्रिपाठी की अध्यक्षता में एक समारोह का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर उप-विकास आयुक्त, मधुबनी, अजय कुमार सिंह, अनुमंडल पदाधिकारी, सदर मधुबनी, सुनील कुमार सिंह, वरीय उप-समाहत्र्ता, मधुबनी, विकास कुमार, अवर निर्वाचन पदाधिकारी, जयनगर, विवेक कुमार समेत अन्य पदाधिकारीगण तथा सभी विभागों के कर्मीगण उपस्थित थे।

इस कार्यक्रम में प्रभारी, जिला निर्वाचन पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा सभी पदाधिकारियों/कर्मियों को मतदान करने को लेकर शपथ दिलायी गई।

शपथ कार्यक्रम के पष्चात उत्कृष्ट कार्य करनेवाले बी०एल०ओ० अखिलेश कामत, मतदान केन्द्र सं०-17 32-बेनीपट्टी विधानसभा को ₹2000 नकद पुरस्कार, डायरी पेन एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर नव पंजीकृत निर्वाचकों यथा- शंकर प्रसाद, शिवम राज, सत्यम राज, अल्का सिंह एवं अन्य को मतदाता पहचान पत्र उपलब्ध कराया गया। साथ ही मुख्य निर्वाचन आयुक्त, बिहार का विडियो संदेश प्रदर्शित किया गया।

इसके साथ ही सभी बी०एल०ओ० के द्वारा अपने मतदान केन्द्र लोकेशन पर भी मतदाता दिवस मनाया गया। साथ ही सभी नव पंजीकृत निर्वाचकों को मतदाता पहचान पत्र भी उपलब्ध कराया गया।

इसके साथ ही सभी ईआरओ/एईआरओ द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर ईपिक का वितरण एवं अन्य कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। साथ ही सभी विभागों/कार्यालयों में सभी पदाधिकारी/कर्मी के द्वारा मतदाताओं द्वारा ली जानेवाली शपथ भी दिलायी जायेगी।

अनिश्चितकालीन धरना में सरिक हुए पपू यादव

मधुबनी : समाहरणालय के सामने संविधान बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले एनआरसी, सीएए एवं एनपीआर के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना 19वें दिन भी शांति पूर्वक जारी है। अनिश्चितकालीन धरना के समर्थन में आम जनमानस के साथ देश के कई राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने धरना को संबोधित किया।

आज इस मौके पर जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने अनिश्चितकालीन धरना का समर्थन किया।

संविधान बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक तुल्लाह खान बिस्फी विधानसभा के युवा नेता परवेज हसन दानिश की अध्यक्षता में आयोजित अनिश्चित कालीन धरना को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद पप्पू यादव ने कहा, कि ये लड़ाई हिन्दू या मुसलमान की नहीं बल्कि संविधान और देश बचाने की है। मैं अपनी मां या बीवी के आंचल में मरने के लिए नहीं दुनिया में आया हूं, बल्कि संविधान और देश बचाते हुए अपनी जान देना चाहता हूं।

पप्पू यादव ने कहा कि हमारे देश का बागडोर गलत हाथों में चला गया है। हम लोगों को देश बचाने के लिए एक लम्बे संघर्ष की आवश्यकता है।

जिस प्रकार दिल्ली के शाहीन बाग़ की महिलाओं ने अपनी हिम्मत दिखाई है। उसी तरह जगह-जगह शाहीन बाग़ बनना है। संविधान बचाने की लड़ाई संवैधानिक तरीके से लङी जाएगी।

वहीं धरना के समर्थन में आए बिस्फी विधानसभा के विधायक डाक्टर फैयाज अहमद ने कहा कि मैं उन नौजवानों को सलाम करता हूं। जिन लोगों ने इस धरना की शुरुआत की क्योंकि ये क्रांतिकारी नौजवानों ने मधुबनी ही नहीं बल्कि पूरे बिहार सहित देश की आम जनता को जगाने का काम किया है।

इस धरना की अध्यक्षता कर रहे परवेज हसन दानिश ने कहा कि लड़ाई आर पार की है। और ये तब तक चलती रहेगी, जब तक सरकार इस विभाजनकारी कानून को वापस नहीं लेती हैं।

इस दौरान मधुबनी नगर विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी असलम अंसारी, संविधान बचाओ संघर्ष समिति के सदस्य फहीम बकर मुसा, लखनऊ युनिवर्सिटी के छात्र नेता ज्योति राय, वरिष्ठ पत्रकार संतोष सिंह,जाप के जिला अध्यक्ष ब्रुजकिशोर यादव, लखनऊ युनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता अहमद रजा चिश्ती, मजहर कमाल, समीउर रहमान मुंसी, कामिल हुसैन, साहित्य दर्जनों लोगों ने संबोधित किया।

CAA,NRC व NPR के खिलाफ बनाया मानव श्रृंखला

मधुबनी : CAA,NRC ओर NPR पर इस देश में विरोध और प्रदर्शन रुकने का नाम ही नही ले रहा है। आज इसी कड़ी में बिहार में विपक्ष की कई पार्टियों के द्वारा गणतंत्र दिवस के पूर्व संध्या पर मानव श्रृंखला बना कर विरोध दर्ज किया जा रहा है।

मधुबनी जिले में भाकपा(माले) के नेतृत्व में शहर भर में आज “संविधान बचाओ-लोकतंत्र बचाओ-नागरिकता बचाओ” नारे के साथ असंवैधानिक व सांप्रदायिक CAA,NRC और NPR एवं गरीबी के खिलाफ भाकपा(माले) ध्रुव नारायण कारण के नेतृत्व में गंतब्य6दिवस के पूर्व संध्या पर मानव श्रृंखला बना कर जबरदस्त विरोध दर्ज किया जा रहा है।

इस मौके पर जानकारी देते हुए ध्रुव नारायण कारण ने बताया कि ये कानून काला कानून है। हम मार जाएंगे पर देश मे इसको लागू नही होने देंगे। इससे देश के अल्पसंख्यक समुदायों को टारगेट करके उनको देश से बाहर कर दिया जाएगा। साथ ही इससे देश में गरीबी भी बढ़ेगी। सरकार जब तक इस कानून को वापस नही लेगी, तब तक हमारा विरोध यूं ही चलता रहेगा।

ये मानव श्रृंखला CAA, NRC, NPR(नागरिक संशोधन कानून, नागरिकता रजिस्टर, जनसंख्या रजिस्टर) के खिलाफ में संबिधान बचाओ अभियान के तहत बाम दलों की ओर से मधुबनी समाहरणालय-थाना चौक-वाटसन स्कूल से लगातार सघन व बिशाल हजारों लोगों की भागीदारी बाला मानव श्रृंखला बनाकर फासीवादी मोदी सरकार का बिरोध किया गया।

इस मानव श्रृंखला में भाकपा (माले) के अलावे सीपीआई, सीपीएम एवं अन्य कई अल्पसंख्यक समुदाय के बैनर तले लोगों की भागीदारी थी।

इस मानव श्रृंखला में मुख्य रूप से भाकपा (माले) के अनिल कुमार सिंह, प्रेम कुमार झा, उत्तीम पासवान, दानी लाल यादव, बिशंमंभर कामत, मनीष मिश्रा, गणेश यादव, सीपीआई के मिथिलेश झा, सीपीएम के कई नेतागण शामिल थे।

नागरिकता संसोधन कानून के खिलाफ वाम दलों ने बनाया मानव शृंखला

मधुबनी : CAA, NRC और NRC के खिलाफ देश में धरना-प्रदर्शनों का दौर थमने का नाम नही ले रहा है। आज इसी क्रम में मधुबनी जिले के बाबूबरही प्रखंड में CAA, NRC और NPR के विरोध मे मानव श्रृंखला का आयोजन मूस्लिम तंजीम-इमारत-ए-शरिया के आह्वान पर पुरे बिहार मे किया गया है, जिसमे वाम दल माले और कई विपक्ष की पार्टी ने समर्थन किया है।

इस मौके पर जानकारी देते हुए शाहिद अंजुम ने बताया कि ये इस देश के लिए  काला कानून साबित हो रहा है। इस कानून से इस देश के अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की नागरिकता खत्म हो जाएगी। नरेंद्र मोदी की सरकार हमें इस देश से बाहर करने में लगी है, पर हम अपने इस देश को छोड़ कहीं और नही जाएंगे।

उन्होंने बताया कि इससे हमें अपने ही देश मे पराया बनाया जा रहा है, हमसे ऐसे-ऐसे कागज मांगें जाने वाले हैं जो शायद अब किसी के पास शायद ही मिल पाएं। ऐसे ही किसी कारण को लगा कर इस देश के अल्पसंख्यक समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है। इस मौके पर सैकड़ों की संख्या में अल्पसंख्यक समुदाय के लोग एवं बच्चे और महिलाएं मानव श्रृंखला में शामिल हुए।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर बीडीओ ने दिलाया शपथ

मधुबनी : राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर आज मधुबनी जिले के लौकही प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी के द्वारा आमजन और कर्मियों को शपथ दिलाई।

इस मौके पर लौकही थानाध्यक्ष, लौकही प्रखंड प्रमुख, लौकही प्रखंड के नाजिर एवं अन्य कई लोग उपस्तिथ थे। आज मतदाता दिवस के अवसर पर अपने मत का प्रयोग करने और मत किसी के बहकावे या नासमझी में प्रयोग नही करने को कहा गया।

लौकही प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि आज राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर लोगों को अपने मत की शक्ति और मत का अधिकार के बारे में जानकारी दी गयी है।

आर्ट एंड क्राफ्ट प्रतियोगिता को ले प्रतिभागियों ने किया रिहल्सल, कल मुकाबला

मधुबनी : जयनगर में किशोर कला मंदिर और जीवनदीप चैरिटेबल ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में आर्ट एंड क्राफ्ट की प्रतियोगिता हुई है। हर साल इस मौके पर इस ट्रस्ट के द्वारा कुछ-न-कुछ प्रतियोगिता बच्चों के बीच करायी जाती रही है।

इस मौके पर संस्था के परियोजना निर्देशक बिमल मस्कारा ने बताया कि प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी हम स्कूली बच्चों के बीच प्रतियोगिता आयोजित करवाते हैं। कल हमलोगों ने बच्चों के ग्रुप बना कर इस प्रतियोगिता को आयोजित करवा रहे हैं, जिसमे प्रथम, द्वितीय आने वाले बच्चों या उनके ग्रुप को पुरस्कृत किया जाएगा।

CAA, NRC और NRC के खिलाफ बरसे पप्पू यादव

मधुबनी : जिले में पहुंचे जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने मधुबनी समाहरणालय के सामने बिस्फी पूर्व विधानसभा प्रत्याशी तुल्लाह खान के नेतृत्व में किये जा रहे इस कानून के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन को समर्थन दिया, और उसी मंच से जोरदार हमला किया केंद्र की मोदी सरकार और बिहार की राज्य सरकार पर।

उससे पहले उन्होंने प्रेसवार्ता आयोजित किया था। इस प्रेसवार्ता में उन्होंने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि ये कानून इस देश मे रह रहे अल्पसंख्यक समुदाय को देश से बाहर निकालने का षड्यंत्र है। इस कानून से हमारे देश के मुसलमान भाईयों को मोदी सरकार देश से निकालना चाहती है। पर हमारे जीते जी ऐसा नही हो पायेगा। ये जो कानून है इसको हम लागू नही होने देंगे। जब तक सरकार इसको वापस नही लेती तब तक हम इसका इसी तरह से विरोध करते रहेंगें।

वहीं उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने NRC और NPR पर अपना रुख साफ नही किया हुआ है। अगर इसपर उनके अपने पार्टी के नेता भी पूछते हैं तो वे उनको पार्टी से जाने की बात करते हैं। ये बिहार की डबल इंजन की सरकार हर मोर्चे पर फैल है। फिर चाहे ये नागरिकता कानून हो, या अपराधियों पर लगाम लगाना, या फिर शराबबंदी हो, या दहेजप्रथा। किसी भी मोर्चे पर नीतीश कुमार सफल नही हैं। उन्होंने कहा कि अगर बिहार में हालात नही सुधरे तो वो सड़क पर आ जाएंगे।

10वें मतदाता दिवस निकाली गयी रैली

मधुबनी : बेनीपट्टी प्रखंड क्षेत्र के दामोदरपुर-आहपुर गांव स्थित बूथ संख्या-49 और 50 मध्य विद्यालय परिसर में कार्यपालक दंडाधिकारी ब्रजकिशोर मिश्र की अध्यक्षता में 10 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस दौरान आगामी होने वाले विधानसभा चुनाव में पहली बार अपने मतों का प्रयोग करने वाले दर्जनों नये मतदाता के बीच इपीक सह पहचान पत्र का वितरण किया गया। साथ ही पदाधिकारियों द्वारा सभी लोगों को मतदान से संबंधित शपथ भी दिलायी गयीं।

इस अवसर पर दंडाधिकारी मिश्रा ने कहा कि मतदान ही लोकतंत्र की खूबसूरती का राज है। वहीं, बीडीओ मनोज कुमार ने कहा कि सभी मतदाता आनेवाले चुनाव में अपने अपने मतों का प्रयोग जरूर करे।

इस कार्यक्रम के समापन के दौरान पदाधिकारियों, बीएलओ, आंगनबाड़ी सेविकाओं, शिक्षकों सहित अन्य लोगों द्वारा रैली भी निकाली गयीं। जिसको दंडाधिकारी, बीडीओ, बीपीआरओ, सीडीपीओ, बीईओ सहित अन्य पदाधिकारियों ने झंडी दिखा रवाना किया।

मंहगाई, भ्रष्टाचार व बेरोजगारी से ध्यान भटका रही सरकार : पप्पु यादव

मधुबनी : मनुवादियों के चोट जब हमारी संस्कृति और तहजीब पर हुई, तो कुछ लोगों ने इस्लाम तो कुछ ने बौद्ध धर्म स्वीकार कर लिया। पर इन सभी की मंजिल हजरत हुसैन, टीपू सुल्तान, अब्दुल हमीद, इकबाल, अब्दुल कलाम, मो. रफी, बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर जैसे महान विभूतियों की मिट्टी भारत की मिट्टी ही रही। जिस वतन में हजरत हुसैन ने अपनी शहादत दी, जिस मुल्क की आजादी के लिये 64 हजार मुसलमानों ने अपनी कुर्बानी दी, वह मुल्क हमारा भारत है।

बीजेपी सत्ता और वोट की लड़ाई का बहाना मुसलमानों को बनाकर राजनीतिक रोटी सेकने का काम कर रही है। एनपीआर एनआरसी का ही छद्म रुप है, जिसे केंद्र सरकार लागू कर संविधान और देश को बर्बाद करने पर तुली है। इसके लिये हम सभी को एकजुटता के साथ अपने हक की लड़ाई लड़नी जरुरी है।

उक्त बातें मधुबनी के नजरा गांव में आयोजित संविधान बचाओ देश बचाओ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जनअधिकार पार्टी लो. के राष्ट्रीय संरक्षक सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कही।

उन्होंने सरकार पर जोरदार हमला बोला और कहा कि सरकार को वापस लेना होगा ये कानून नही तो हमलोग यूँही सड़क पर आके कई और शाहीन बाग बनाएंगे।

सुमित राउत 

Leave a Reply