14 दिसंबर : मधुबनी की मुख्य ख़बरें

0
swatva samachar

लक्ष्य योजन की रैंकिंग में सदर अस्पताल का ऑपरेशन थिएटर फेल

मधुबनी : लक्ष्य योजना के तहत चयनित सदर अस्पताल ने लक्ष्य हासिल कर लिया है। राज्य स्तरीय टीम ने रैंकिग जारी की है। इसमें सदर अस्पताल के प्रसव कक्ष को कुल 85 प्रतिशत एवं ऑपरेशन थिएटर को 57 प्रतिशत अंक मिले हैं। जबकि मानक के अनुसार 65 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करना अनिवार्य होता है।

राज्य स्तरीय टीम अपनी रैंकिग की रिपोर्ट केंद्रीय टीम को भेज चुकी है। अब केंद्रीय टीम सदर अस्पताल का निरीक्षण करेगी। लक्ष्य योजना के तहत चयनित अस्पताल की तीन स्तर पर रैंकिग की जाती है। हालांकि, ऑपरेशन थियेटर को 57 प्रतिशत अंक ही प्राप्त हुआ है। यह तय मानक से आठ प्रतिशत कम है। इसमें सुधार के लिए निर्देश भी दिए गए हैं। अब केंद्रीय टीम करेगी जांच।

सिविल सर्जन डॉ. मिथिलेश मिश्र ने बताया कि राज्यस्तरीय टीम अपना जांच रिपोर्ट सरकार को सौंप चुकी है। सरकार यह रिपोर्ट केंद्रीय टीम को भेजेगी। इसके बाद केंद्रीय टीम सदर अस्पताल का निरीक्षण कर गुणवत्ता की जांच करेगी। अगर रैंकिग में 70 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त होता है तो सदर अस्पताल को तीन लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा। मुख्य रूप से अस्पतालों के प्रसव कक्ष तथा ऑपरेशन थिएटर को लक्ष्य कार्यक्रम के मानक के अनुरूप विकसित किया गया है। 70 प्रतिशत उपलब्धि पर सांत्वना पुरस्कार तय मानकों के सापेक्ष 70 प्रतिशत उपलब्धि पर सांत्वना पुरस्कार दिए जाने का भी प्रावधान बनाया गया है। सांत्वना पुरस्कार के रूप में सदर अस्पताल को तीन लाख, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों या अनुमंडलीय अस्पतालों को एक लाख एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को 50 हजार रुपये दिए जाते हैं। अस्पताल की गुणवत्ता की जाती है मैपिग।

सदर अस्पताल अस्पताल की गुणवत्ता की मैपिग की जाती है। इसमें कुल आठ तरह का मूल्यांकन पैमाना है। इसमें अस्पताल की आधारभूत संरचना के साथ अस्पताल में सा़फ-सफाई का स्तर, स्टाफ की उपलब्धता, लेबर रूम के अंदर जरुरी संसाधनों की उपलब्धता के साथ ऑपरेशन थिएटर की भी मैपिग की गई है। सदर अस्पताल का लक्ष्य कार्यक्रम के तहत प्रमाणीकरण किया जा रहा है।

लक्ष्य कार्यक्रम के तहत तीन स्तरों पर रैंकिग की जाती है। पहले जिला स्तर पर, उसके बाद रीजनल स्तर पर और तृतीय चरण में राष्ट्रीय स्तर पर रैंकिग की जाती है। प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने के लिए न्यूनतम 70 अंक प्राप्त करना अनिवार्य होता है।

इन मानकों पर तय होते हैं पुरस्कार :

  • अस्पताल की आधारभूत संरचना
  • साफ-सफाई एवं स्वच्छता
  • जैविक कचरा निस्तारण
  • संक्रमण रोकथाम
  • अस्पताल की अन्य सहायक प्रणाली
  • स्वच्छता एवं साफ-सफाई को बढ़ावा देना

आठ शराब कारोबारियों को पुलिस ने दबोचा

मधुबनी : मधुबनी नगर थानाध्यक्ष अरुण कुमार राय ने एक प्रस ब्रीफिंग में पिछले दिनों लाल रंग की पैशन प्रो बाइक की चोरी कोर्ट परिसर से हुई थी। कोर्ट कैंपस से लागातार मोटरसाईकिल चोरी की वारदात की बात प्रकाश में आ रही थी। इसको देखते हुये कोर्ट कैंपस में निगरानी टीम लगायी गई थी। इसी क्रम में कोर्ट कैंपस के आसपास दो संदिग्ध लड़के देखे गये। पूछताछ के क्रम मे उसका आचरण संदिग्ध लगा, जब उसकी तलाशी ली गई तो उसके पास से सात मोटरसाईकिल की सात मास्टर चाभी मिली।

पकड़े गये दोनो मोटरसाइकिल चोर के निशानदेही पर मधुबनी जिला के वासोंपट्टी थाना क्षेत्र के मढ़िया एवं जयनगर थाना क्षेत्र मे छापेमारी कर पुलिस टीम ने और 6 मोटरसाइकिल चोर को गिरफ़्तार किया साथ ही इसके पास से दो मोटरसाईकिल की भी बरामदगी हुई है। इसमे तीन लड़के का आपराधिक इतिहास भी है। इन लोगो ने नगर थाना क्षेत्र से दर्जनो मोटरसाईकिल चोरी करने की बात स्वीकार की है, जिसका सत्यापन कर आवश्यक कार्यवाई की जा रही है।

जानकारी देते हुए नगर थानाध्यक्ष अरुण कुमार राय ने बताया कि ये लोग मोटरसाईकिल चोरी की वारदात कर नेपाल के बॉर्डर इलाके से शराब की तस्करी करने का काम करते है।

दो दिवसीय विद्यापति महोत्सव का हुआ उदघाटन

मधुबनी : राजनगर प्रखंड क्षेत्र भटसिमर नीलमणि नाथ स्थान में दो दिवसीय महोत्स्व का उदघाटन दीपप्रज्वलित कर विधायक रामप्रीत पासवान, अमरनाथ प्रसाद,  प्रमुख ममता देवी, उप प्रमुख संजय पटेल, पंचायत समिति ममता देवी, मनवा अधिकार प्रकोष्ट के गजेंद्र झा,  मनोज झा, मुखिया शेखर सुमन,  अबधेश ठाकुर आदि लोगो ने संयुक्त रूप से दीप प्रजवलित कर किए। वही युवा मंच के सदस्यों के द्वारा सभी अतिथियों को मिथिला परंपरा अनुसार पाग, दोपट्टा एवं पूष्प गुच्छ  से सम्मानित किया गया।

राजनगर प्रखंड क्षेत्र नीलमणी नाथ भटसिमर में कुमारिल्ल भट्ट महोउत्सव सह विद्यापति समारोह का आयोजन को लेकर कुमरिल्ल

भट्ट युवा मंच भटसिमर के तत्वाधान में दो दिवसीय महोउत्सव की अधयक्षता कमिटी सदस्य सुभाष झा ने किया, वही मंच संचान राजीव झा ने किया।

इस कार्यक्रम को 13 से 14 दिसम्बर को मनाया जाता है। जिसमें इस बार मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक रामप्रीत पासवान,  एवं संदीप यूनिवर्सिटी के चेयरमैन संदीप झा थे।

जिसमे कुमारील्ल भट्ट पर परिचर्चा अजित आजाद सहित अन्य कवि एव बुद्धिमान, जो देश के कोने-कोने से आएगें। इस समारोह में डाइरेक्टर मनोज झा सहित कई नामचीन हस्तियॉं समिलित होंगे।

इस महोउत्सव मे मिथलांचल मैथली के सुप्रसिद्ध गायक कुंजन बिहारी मिश्र, पवन नारायण, राजनीति रंजन, रामसेवक ठाकुर हास्य कलाकार एव गायक कलाकार, सुरेश पंकज जो पाहुन कैसेट के माध्यम मिथलांचल प्रसिद्ध कलाकार, प्रेम सागर मिथला में रफ़ि कैसेट कलाकर, ने अपनी गायकी से लोगो झूमा दिए।

14 दिसंबर 19 को पूनम मिश्रा, कुमकुम मिश्रा,  देवानन्द झा, दिया चौधरी, कंचन पाण्डेय, रचना झा, किसलेकृष्ण आदि लोगों ने भाग लिया।

आपको बता दे विगत दो वर्षों महोउत्सव कुमारिल्ल भट्ट युवा मंच भटसिमर के द्वारा सफल आयोजन किया जा रहा है, जिसको लेकर इस वर्ष कार्यक्रम को लेकर कई महीनो तैयारी में कमिटी कोई कसर नही छोड़ती है।

युवा कमिटी के सदस्य अवधेश ठाकुर(वरिष्ट समाजसेवी युवाओं उत्साहित हौसला बढ़ाने प्रयासरत), संजय राय (युवा समाजसेवी सह वर्तमान पंचायत समिति सदस्य पति), मिथलेश चौरसिया(मैथली फ़िल्म अभिनेता एक्टर वतर्मान प्रमुख प्रतिनिधि राजनगर), अजित कुमार झा(कलाकर), आशु मिश्रा, वरुण पासवान, प्रशांत कुमार, ललन मिश्र, सत्यनारायण भारती, गगन मिश्र, अभिलाष मिश्रा शामिल है।

इसी टीम के द्वारा इतना बड़ा महोउत्सव को सफल बनाया जाता है, जो दिन-रात की मेहनत से कार्यक्रम इतनी ऊंचाई पर पहुचाने का कार्य करते है। यह कार्यक्रम से प्रखण्ड के सभी लोगो के सहयोग साथ से सम्भव होता है।

पैक्स चुनाव : सभी तैयारियां पूरी, निर्वाचन पदाधिकारी ने लिया जायजा

मधुबनी : जयनगर में पैक्स चुनाव को लेकर सभी तैयारियां पूरी हो गई है। निर्वाचन पदाधिकारी सह जयनगर प्रखंड विकास पदाधिकारी ने इस संबंध में अंतिम जायजा लिया और जरूरी निर्देश दिए। पैक्स चुनाव में शाम 04 बजे तक मतदान और उसी दिन शाम को 06 बजे से मतगणना का समय तय किया गया है।

ज्ञात हो कि इस बार पहली बार मधुबनी जिला पदाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक के दिशा-निर्देश पर मतदान के दिन ही मतगणना कर नतीजे घोषित करने का गाइडलाइंस जारी किया गया है जिला भर में।

जिसको लेकर जयनगर प्रखंड में सभी बूथों पर सारी व्यवस्था पूरी कर दी गयी है। स्ट्रांग रूम ओर मतगणना को लेकर अधिकारी तैनात कर दिए गए हैं। सभी कर्मचारी ओर सेक्टर पदाधिकारी को निर्देशित किया जा चुका है। इस बार कुल 35 अभ्यर्थी मैदान में हैं, जिसमे से 05 अभ्यर्थी निर्विरोध ही जीत चुके हैं। इसके बाद कुल 30 अभ्यर्थियों का फैसला अध्यक्ष पद के लिए होना है। इस बाबत सारी जानकारी जयनगर प्रखंड विकास पदाधिकारी सह निर्वाचन पदाधिकारी चन्द्रकान्ता देवी ने दिया है।

हल्की वर्षा से अंडरपास में भरा पानी, बढ़ी परेशानी

मधुबनी : कैथिनियां-पथराही अंडरपास से स्टेट बैंक वाली सड़क पर पुन: जलजमाव से यह स्थिति बनी है। अंडरपास में तो पानी का जमाव कोई नई बात नहीं है। शुक्रवार दोपहर से हो रही बूंदाबांदी ने आग में घी का काम किया है। झंझारपुर की सभी सड़कें कीचड़मय और फिसलन से भरी हुई है। स्टेट बैंक वाली सड़क पर करीब दो फीट पानी 50 फीट की लंबाई में जमा है। पानी निकालने के सभी वैकल्पिक स्रोत यहां बंद पड़े हुए हैं।

तत्कालीन एसडीएम अंशुल अग्रवाल ने बेहट दक्षिणी पंचायत प्रशासन को यहां हाई पावर पंप लगाकर पानी निकालने की व्यवस्था का आदेश दिया था। लगभग दस लाख की लागत से पंचायत प्रशासन ने इस काम को अंजाम तक भी पहुंचाया। रेलवे लाइन के बगल होकर पाइप भी बिछाया गया और यहां से पानी की निकासी हो रही थी। मशीन अभी भी लगी हुई है। मगर, पाइप यत्र तत्र खोल दिए गए। अब पाइप ही नहीं बिछा है। तो स्वभाविक तौर पर पानी का निकासी संभव नहीं हो पा रहा है। पंचायत की राशि से खरीदी गई दस लाख की मशीन व्यवस्था को मुंह चिढ़ा रही है।

पंचायत प्रशासन की भी इसमें अब कोई रूचि नहीं है। प्रखंड प्रशासन एवं अनुमंडल प्रशासन भी इसमें स्वाभाविक रूचि नहीं दिखा रहा है। यही स्थिति अंडरपास वाले जलजमाव का भी है। यहां कुछ माह से बेहट दक्षिणी पंचायत के पंचायत समिति सदस्य जीवछ कामत एवं उनके पिता लूटन कामत अपने मजदूरों से पानी का निकास करवा रहे थे। प्रखंड प्रशासन ने उनकी कोई सुध नहीं ली। मजदूरों पर आने वाले खर्च या काम कैसे हो रहा है, इसमें भी कोई रूचि नहीं दिखाई। फलस्वरूप पंसस एवं उनके पिता ने भी रूचि दिखानी बंद कर दी है।

सात क्विटल चाइनीज काली मिर्च जब्त, एक गिरफ्तार

मधुबनी : एसएसबी कैंप मधवापुर के जवानों ने गुरुवार की देर शाम सीमा पर विशेष गश्ती के दौरान नेपाल से तस्करी कर लाई जा रही सात क्विटल चाइनीज काली मिर्च जब्त की।

इस दौरान एक धंधेबाज को गिरफ्तार किया  एवं अन्य धंधेबाज नेपाल की ओर भाग निकले। चार से पांच की संख्या में धंधेबाज काली मिर्च की 25 किलो की बोरी सिर पर लेकर नेपाल-भारत सीमा पर कर भारतीय क्षेत्र में सीमा के पास जमा कर रहे थे।

एसएसबी जवानों के द्वारा विशेष गश्ती के दौरान यह कार्रवाई की गई। एसएसबी कैंप प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक मंडल ने बताया कि उनके नेतृत्व में जवानों ने विशेष गश्ती के दौरान देखा कि मधवापुर भगतसिंह चौक के सामने सीमा के पास चार-पांच की संख्या में धंधेबाज नेपाल से काली मिर्च लाकर भारतीय क्षेत्र में धौंस नदी किनारे एक जगह जमा कर रहे थे। जवानों को देख अन्य धंधेबाज भाग निकले, एक को पकड़ा गया।

सड़क पर बह रहा नाले का पानी, जीना हुआ मुहल

सड़क पर फैला नाले का पानी

मधुबनी : नगर परिषद के स्वच्छता के दावे हवा-हवाई साबित हो रहा है। कचरे की नियमित सफाई की बात तो दूर नालों की सफाई महीनों बाद होती है। नालो से निकाली गई गंदगी लोगों के घरों के आगे रखकर कई दिनों तक छोड़ दिया जाता है। इसकी बदबू लोगों के नाकोंदम किए रहता है। इस तरह शहर में स्वच्छता की कमी के साथ खुले में कचरे की समस्याएं वर्षो से दूर नहीं हो पा रही है। शहर के अधिकांश हिस्सों में सड़क किनारे कचड़ा पसरा हुआ है जिससे लोगो को आने-जाने में परेशानी हो रही है। थाना चौक से स्टेशन चौक तक नहीं हुई है नालो की सफाई।

थाना चौक से आगे नंद होटल के समीप खुला नाला खतरनाक बना हुआ है। शहर के कीर्तन भवन, महाराजगंज, भौआड़ा सहित अन्य हिस्सों में नाला का निर्माण नहीं होने से सड़क किनारे कच्चा नाला से पानी का बहाव सड़कों पर होता रहता है। नाला विहीन मोहल्लों में सड़क किनारे गंदगी के साथ-साथ घरों से निकलने वाला पानी को सड़क पर बहाने से रोकने के लिए नगर परिषद द्वारा कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है।

नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी आशुतोष आनंद चौधरी ने बताया कि शहरी क्षेत्र में शहर में लोगों को सरेआम कचरा फेंकने से परहेज करना चाहिए। वहीं मुख्य पार्षद सुनैना देवी ने बताया कि शहर में महीनों से बाधित नाला सहित अन्य निर्माण कार्य शुरू कराने में नगर परिषद प्रशासन उदासीन बना है।

2016 में स्थानीय डीआरडीए के सामने से सदर अस्पताल चौक तक नाला निर्माण के लिए खोर्दाइ कार्य शुरु किया गया था। तीन वर्ष बाद भी यह योजना हवा-हवाई सबित हो रहा हैं। तत्कालीन डीएम गिरिवर दयाल सिंह के निर्देश पर नगर परिषद प्रशासन द्वारा आनन-फानन में यहां नाला निर्माण के लिए खोदाई कार्य किया गया था। पांच फीट चौड़ी नाली की खुदाई कराकर उसे वाट्सन केनाल से जोड़ने की योजना बनायी गई थी। इस वर्ष भी इस नाला का पक्कीकरण नहीं हो सकी है।

सुमित राउत  

swatva

Leave a Reply