जमीनी विवाद में बड़े भाई ने की छोटे भाई व भतीजा की हत्या

0

किशनगंज : गुरुवार को पैतृक जमीन पर रास्ते को लेकर हुई भाई भाई के झड़प में खूनी खेल हो गया।एक भाई ने अपने ही सगे व छोटे भाई व भतीजे को पीट-पीटकर मार डाला। घटना सदर थाना क्षेत्र के चौन्दी गांवकी है। घटना में दोनों पक्षों के आधा दर्जन लोग घायल हैं। घटना के सूचना ने बाद एसडीपीओ किशनगंज ने घटना स्थल का निरीक्षण किया।

जानकारी के अनुसार मो कलाम व गफूर के बीच पैतृक जमीन पर बने रास्ते को लेकर गत दो वर्षों से कहा सुनी होती रहती थी। गुरुवार को मक्का लाने को लेकर मो कलाम ओर गफूर का झगड़ा हो रहा था। इसी बीच मो कलाम ओर उसके बेटे ने मिलकर लाठी डंडे से पीटना शुरू कर दिया। मारपीट छुड़ाने गए अब्दुल गफूर के पुत्र मो रमजान को घसीट कर बुरी तरह से पीटने लगा। जिससे मो रमजान की मौके पर ही मौत हो गया। जबकि अब्दुल गफूर को सिर पर गहरा चोट लगने से बेहोश हो गया। स्थानीय लोगों ने आनन फानन में मो रमजान को सदर अस्पताल किशनगंज व अब्दुल गफूर को सिलीगुडी के लिये भेजा। सिलीगुड़ी पहुंचने से पहले ही अब्दुल गफूर की भी मौत हो गई।

घटना की सूचना मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस ने घटना स्थल पर आकर जांच पड़ताल किया। प्रत्यक्षदर्शियों की अनुसार गुरुवार अहले सुबह किशनगंज थाना क्षेत्र के सिंघिया कुलामनी पंचायत अंतर्गत चौन्दी शेरशाहवादी टोला में अचानक कोहराम मच गया। जमीन पर बने रास्ते को लेकर सगे भाई ने अपने छोटे भाई व भतीजे को लाठी डंडे से पीट पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर कुछ ग्रामीण मो कलाम के घर की ओर गया। जहाँ गफूर व उनका बेटा रमजान बेहोश जमीन पर पड़ा था। मो कलाम व उनके बेटे पत्नी उनलोगों पर लाठी डंडे से वार कर रहे है। ग्रामीणों में दो व्यक्तियों ने मारपीट को छुड़ाने का प्रयास किया, लेकिन उन दोनों को भी मो कलाम व उनके परिवार के लोगों ने पिटाई कर दिया। घटना स्थल पर ही गफूर के बेटा मो रमजान की मौत हो गई।

swatva

Leave a Reply