जल का संरक्षण और इसका प्रदूषण से रक्षा अत्यंत जरूरी– अश्विनी चौबे

0

वृक्षारोपण बढ़ाना और जल की बर्बादी रोकना पर्यावरण के लिए आवश्यक

पटना : केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन तथा उपभोक्ता मामले खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे कहा कि जल का संरक्षण और प्रदूषण से इसका रक्षा करना अत्यंत जरूरी है। समृद्ध पर्यावरण के लिए वृक्षारोपण को बढ़ावा देना और जल की बर्बादी को रोकना आवश्यक है। सरकारी स्तर पर काम होने के साथ सामाजिक स्तर पर इस को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। चौबे ए एन सिन्हा इंस्टिट्यूट,पटना में आयोजित “जलवायु परिवर्तन के संदर्भ में पारंपरिक जल स्रोतों का पुनरुद्धार” कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर बोल रहे थे।

केंद्रीय मंत्री चौबे ने आह्वान बचाओ अभियान संगठन के द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में कहा कि जल संरक्षण और पर्यावरण रक्षा के लिए हमारी सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी विकासशील देशों की अगवाई इस मामले में भारत ही कर रहा है।

swatva

उन्होंने कहा कि जल संरक्षण और इसका प्रदूषण से मुक्ति में सरकार नई तकनीकों का प्रयोग कर रही है। लेकिन इसमें स्थानीय लोगों की भागीदारी और परंपरागत स्रोतों की भी बहुत उपयोगिता है। इसके लिए अधिक से अधिक जल संरक्षण संरचनाओं को बचाना आवश्यक है। इसके अंतर्गत आहर को भी बचाने की आवश्यकता है जिसका लगातार अतिक्रमण होते जा रहा है।

कार्यक्रम में ढोल बजाते हुए अश्विनी कुमार चौबे

कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री चौबे के साथ मंच पर गोपाल शर्मा, ऑफिसर इंचार्ज, जूलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया, रेनू सिन्हा, एमपी सिंहा, डॉ विजय कुमार, मनीष तिवारी, कृष्ण कांत ओझा सहित अन्य गणमान्य भी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply