पर्यावरण संरक्षण के लिए पर्यावरण और सामाजिक प्रबंधन आवश्यक- शांडिल्य

0

पटना : बीते दिन विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर कॉलेज ऑफ कॉमर्स और ग्लोबल लीडर फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार को ” सस्टेनेबल डेवलपमेंट फारॅ प्रोटेक्शन आफॅ नचर” विषय पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

ज़ूम के माध्यम से आयोजित संगोष्ठी को संबोधित करते हुए गुजरात एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति पद्मश्री एम. एच. मेहता ने पर्यावरण के संरक्षण के लिए नदी नवोनिवेश पर बल दिया।

संगोष्ठी को संबोधित करते हुए प्रधानाचार्य प्रो. तपन कुमार शान्डिल्य ने पर्यावरण संरक्षण के विभिन्न उपायों का उल्लेख किया तथा पर्यावरण प्रबंधन, सामाजिक प्रबंधन तथा पालिटिकल इमपावरमेंट की आवश्यकता पर जोर दिया।

संगोष्ठी को संबोधित करते हुए ए. एस. डी. आई. के चेयरमैन प्रो. ए. ई. अजित ने ग्रीन इन्फ्रास्ट्रक्चर तथा ज़ीरो इनर्जी बिल्डिंग पर विस्तार से प्रकाश डाला। डंगूशाम सिमेंट कारपोरेशन भूटान के चेयरमैन डोरगी नोरबी ने पर्यावरण संरक्षण के भूटान ग्रीन इंफ्रास्ट्रक्चर की वकालत की।

जबकि ग्लोबल लीडर फाउंडेशन के चेयरमैन रमेश त्रिपाठी ने नदियों को बचाने तथा बड़े पैमाने पर वृक्षारोपण की ज़रूरत पर ज़ोर दिया।। इस अवसर पर अन्य लोगों के अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय के दिलीप कुमार, चंडीगढ़ की स्वाति गुप्ता, बेगुराय के अरूण कुमार, प्रो. रश्मि अखौरी, डाॅ. बैकुंठ, प्रो. प्रवीण कुमार, प्रो. कीर्ति, प्रो. ए. के. नाग, डॉ. संगीता सिंहा और प्रो. अदिति समेत बड़ी संख्या में शिक्षक और छात्र – छात्राओं उपस्थित थे।

swatva

Leave a Reply