सभी अंचलों में बहाल होंगे हल्का कर्मचारी

0

चार हजार पदों पर बहाली परीक्षा लेगा कर्मचारी चयन आयोग

पटना: राज्य में जल्द ही सभी अंचलों में बड़े पैमाने पर हल्का राजस्व कर्मियों की बहाली होगी। राजस्व विभाग ने कर्मचारी चयन आयोग को बहाली की सभी प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरा करने की हिदायत दी है। बहाली के बाद माना जा रहा है कि अंचलों के कामकाज में काफी सुधार आएगा और वहां व्याप्त भ्रष्टाचार पर कारगर अंकुश लगाया जा सकेगा।

सूत्रों के अनुसार चार हजार से अधिक हल्का कर्मचारियों की बहाली के लिए 6 वर्ष पूर्व ही अधियाचना कर्मचारी चयन आयोग को भेजी गई थी, लेकिन कतिपय कारणों से आयोग बहाली की प्रक्रिया शुरू नहीं कर सका। राजस्व विभाग ने उसके लिए कई बार तकादा किया। कई बार बैठकें हुई लेकिन मामला सुलझ नहीं सका। बहालियां नहीं होने से कर्मचारी रिटायर होते चले गए और अब रिक्तियों की संख्या 6,000 से अधिक हो गई है। इस वर्ष फरवरी माह में मुख्यमंत्री ने विभागीय समीक्षा में तो सारा मामला प्रकाश में आया।

उन्होंने भी आयोग को बहाली के लिए प्रक्रिया जल्द पूरी करने को कहा। आयोग ने जून माह में है बहाली परीक्षा लेने का आश्वासन दिया था लेकिन लाक डाउन होने के कारण सारे मामले थम गए। सूत्रों के मुताबिक अब आयोग को वर्तमान रिक्तियों के अनुरूप बहाली परीक्षा लेने को कहा गया है। आयोग ने परीक्षा लेने की तैयारी कर ली है। चुनाव खत्म होते ही परीक्षाएं ली जाएंगी।

क्या है कठिनाई

अभी सभी अंचलों में हल्का कर्मियों की कमी से जमीन की दाखिल खारिज, उनकी खरीद बिक्री, म्यूटेशन आदि तमाम कार्य काफी विलंब से हो रहे हैं।अधिकतर जगह भ्रष्टाचार के गंभीर शिकायतें हैं। बिना मोटे लेनदेन के जमीन संबंधी कोई कार्य पूरा नहीं हो पाता है। सभी पंचायत में एक -एक हल्का कर्मचारी का पद सृजित है लेकिन उस पर बहालियां नहीं हो पा रही हैं। हर अंचल में औसतन 12-14 पंचायत होते हैं और वहां मात्र एक या दो ही राजस्व कर्मी (हल्का कर्मचारी) कार्यरत हैं। जो कुछ बचे हैं वह जिला समाहर्ता ओं द्वारा संविदा पर रखे गए हैं। इसलिए उन पर विभाग का कोई कारगर नियंत्रण नहीं रहता है। नई बहाली से विभाग का सीधा नियंत्रण बनेगा।

हल्का कर्मचारियों की आखिरी बहाली वर्ष 2004-5 में हुई थी। उसके बाद से बहालियां रुकी हुई है। विभाग का मानना है कि नए युवकों की बहाली से कामकाज में तेजी आएगी। कंप्यूटर में दक्ष ऐसे लड़के सारे कामकाज को तेजी से करेंगे और उन पर नियंत्रण भी रखा जा सकेगा।

swatva

Leave a Reply