सुरक्षा व संरक्षा का ध्यान रखते हुए पटना में बन रहे नए एयरपोर्ट को जल्द से जल्द किया जाए एक्टिव: आरसीपी सिंह

0
RCP Singh (File Photo)

पटना: राज्यसभा में जनता दल यूनाइटेड के सांसद रामचंद्र प्रसाद सिंह ने द एयरक्राफ्ट संशोधन बिल 2020 का समर्थन करते हुए पटना में बनने वाले नए एयरपोर्ट का मामला उठाया। राज्यसभा में दिए गए अपने भाषण में सांसद ने राज्य के अन्य हिस्सों के एयरपोर्ट को भी प्रभावी बनाने पर जोर दिया। उन्होंने इस बिल को देश की हवाई सेवाओं में विकास व बेहतरी के लिए जरूरी बताया। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए कहा कि यह बिल दूरगामी सोच को प्रदर्शित करता है। इससे मिलने वाली शक्तियों से एयरक्राफ्ट व पैसेंजर की संरक्षा व सुरक्षा को विशेष रूप से कार्य किया जा सकेगा।

आरसीपी ने कहा कि आज की स्थिति में अंतर्राष्ट्रीय परिस्थितियों को ध्यान में रखकर काम करना जरूरी है। अंतर्राष्ट्रीय व राष्ट्रीय स्तर पर सुरक्षा मानकों को लेकर जो भी मामले आते हैं, उसको इसमें विचार करना चाहिए। चाहे एयरक्राफ्ट का मामला हो, क्रू का मामला हो, एयरपोर्ट का मामला हो, रनवे का मामला हो या एयरस्पेस की बात हो, सब पर इस प्रकार से कार्य किया जाना चाहिए कि एयरक्राफ्ट व पैसेंजर्स दोनों सुरक्षित व संरक्षित रहें। यही आज के समय की सबसे बड़ी जरूरत है।

पटना एयरपोर्ट का मामला उठाते हुए उन्होंने कहा कि 1999 में यहां एक एयरक्राफ्ट दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इसके बाद राज्य सरकार व केंद्र सरकार ने पटना के बाहर बिहटा में एयरपोर्ट के निर्माण की योजना बनी। इस पर सहमति बनी। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने भी पिछले दिनों इसका दौरा किया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री से अनुरोध किया कि पटना एयरपोर्ट की स्थिति को देखते हुए इस नए एयरपोर्ट के निर्माण की प्रक्रिया पर काम हो, ताकि सुरक्षा व संरक्षा कायम रहे।

आरसीपी सिंह ने कहा कि केंद्रीय मंत्री ने दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ान शुरू करने की घोषणा की है। कोविड के कारण इसमें समस्या आई होगी। लेकिन, जल्द से जल्द यहां से उड़ान शुरू होने से उत्तर बिहार के लोगों को सुविधा होगी। पूर्णिया एयरपोर्ट का जिक्र करते हुए सांसद ने कहा कि वहां एयरफोर्स का एयरपोर्ट भी है। वहां से भी घरेलू उड़ानों पर विचार होना चाहिए। इसके अलावा सांसद ने भागलपुर एयरपोर्ट पर भी काम शुरू करने का अनुरोध किया।

सांसद ने कहा कि बिहार में बहुत सारे लोग बाहर में रहते हैं। देश के अन्य हिस्सों के साथ-साथ खाड़ी देशों में भी प्रदेश से बहुत से लोग काम करने जाते हैं। एयरपोर्ट की सुविधा बढ़ने से उनकी सुविधा बढ़ेगी। गया से इंटरनेशनल फ्लाइट शुरू करने की भी मांग करते हुए कहा कि बुद्धिस्ट टूरिस्ट यहां बड़ी संख्या में आते हैं। हज की उड़ानें इस एयरपोर्ट से संचालित होती हैं। केंद्रीय मंत्री इन बातों को ध्यान में रखते हुए योजनाओं को तैयार करें तो इससे प्रदेश के यात्रियों को बड़ा फायदा मिल जाएगा।

swatva

Leave a Reply