आईसीयू में बच्चे को चूहों ने कुतर खाया, क्या है डीएमसीएच का डरावना सच?

0

दरभंगा : उत्तर बिहार के प्रतिष्ठित अस्पताल डीएमसीएच के शिशु विभाग से आज एक हैरान करनेवाली खबर मिली। यहां के शिशु विभाग के आईसीयू में चूहों के काटने से एक नवजात की मौत हो गयी। इस संबंध में पीड़ित परिवार ने डीडीसी को पत्र लिख कर अस्पताल प्रशासन पर कार्रवाई की मांग की है। जानकारी के मुताबिक जिला मुख्यालय स्थित डीएमसीएच के नवजात गहन चिकित्सा इकाई में मधुबनी जिले के सकरी थाने के नजरा गांव निवासी किरण चौपाल ने नौ दिन के मासूम को कल भर्ती कराया था। किरण चौपाल का आरोप है कि उसके बच्चे को नवजात गहन चिकित्सा ईकाई में भर्ती किया गया। रात एक बजे जब वह बच्चे को देखने के लिए एनआईसीयू में गया तब उसका बच्चा पूर्ण रूप से सही था। फिर सुबह जब वह पांच बजे बच्चे को देखने गया तो उसने देखा कि उसके बच्चे के हाथ और पैर को चूहे कुतर रहे थे। वहां पर कोई नर्स और चिकित्सक नहीं था। आनन-फानन में जब नर्स को बाहर से बुला कर लाया, तो उन्होंने कहा कि बच्चा मर गया है।
मासूम की मौत के बाद परिजनों ने डॉक्टर और कर्मियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए दरभंगा के डीडीसी कारी पासवान के पास लिखित शिकायत की है। बच्चे की मौत के बाद परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। वहीं, डीएमसीएच अधीक्षक डॉ आरआर प्रसाद ने कहा कि भर्ती होने से पहले ही बच्चे को चूहे काटे हुए थे। परिजन द्वारा आरोप लगाया गया है कि यहां चूहों के काटने से मौत हो गयी है, तो मामले की जांच की जा रही है। दोषी पर कार्रवाई की जायेगी।

swatva

Leave a Reply