12 अक्टूबर : दरभंगा की मुख्य ख़बरें

0

स्नातकोत्तर रसायन विभाग में सेमिनार

दरभंगा : स्नातकोत्तर रसायन शास्त्र विभाग में स्नातकोत्तर प्रथम सेमेस्टर सत्र 2019-21 के छात्रों हेतु उनके पाठ्यक्रम से संबंधित प्रत्येक शनिवार को होने वाले साप्ताहिक सेमिनार के प्रथम सेमिनार की शुरुआत की गई। सेमिनार में विभाग के सभी शिक्षक एवं प्रथम सेमेस्टर के लगभग 65 छात्र उपस्थित थे। इस के लिये छात्रों को 6-6 छात्रों का 12 समूह बनाया गया। उनसे समूह और विषय के अनुसार प्रत्येक शनिवार को पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन लेने की बात की गई। पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के बारे में डॉक्टर सीमांत कुमार श्रीवास्तव के द्वारा छात्रों को विस्तृत जानकारी दी गई। उपयुक्त जानकारी प्रोफेसर के के झा विभागाध्यक्ष द्वारा दी गई।

पीजी डिप्लोमा इन जेरियाट्रिक केयर का वर्गारंभ कार्यक्रम संपन्न

दरभंगा : इंस्टीट्यूट ऑफ जेरोंटोलोजी एंड जेरियाट्रिक्स, लनामिवि, दरभंगा में एक वर्षीय पीजी डिप्लोमा कोर्स (एड ऑन) इन जेरियाट्रिक केयर सत्र 2019-20 के वर्गारंभ कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोलते हुए प्रो० जयगोपाल, प्रतिकुलपति, लनामिवि, दरभंगा ने कहा कि नामांकित छात्र-छात्राओं को वृद्ध सुश्रुषा पर केन्द्रित इस पाठ्यक्रम के दौरान प्रशिक्षण प्राप्त कर वृद्ध जनों के एकाकीपन को हराना होगा, जो आज के समय में बुढ़ापे की सबसे बड़ी समस्या है। छात्र कल्याण संकायाध्यक्ष प्रो० रतन कुमार चौधरी ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के दिशा निर्देश एवम् वर्तमान कुलपति प्रो० सुरेन्द्र कुमार सिंह की पहल पर  विश्वविद्यालय में चल रहे सभी पाठ्यक्रमों का वर्गारंभ या दीक्षारंभ होने पर प्रसन्नता जाहिर की। कुलसचिव महोदय कर्नल निशीथ कुमार राय के विचार में ऐसे कार्यक्रमों के आयोजन से पुरातन गुरु-शिष्य परंपरा का एक तरह से निर्वहन हो पाता है तथा विद्यार्थियों को अपने विषय की उपयोगिता एवम् महत्ता की समझ बढ़ती है।

अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में विश्वविद्यालय गृह विज्ञान विभाग की अध्यक्ष प्रो० निर्मला झा ने  आई० जीजी द्वारा जेरोंटेकनॉलोजी ने छमाही सर्टिफिकेट कोर्स के बाद इस नवाचारी डिप्लोमा कोर्स  को आरंभ किया जाना एक ऐतिहासिक कदम बताया। विश्वविद्यालय प्रशासन के नेतृत्व में निरंतर बुजुर्गों के कल्याण को केंद्र में रखकर सकारात्मक कोशिशों के लिए आई० जीजी को उन्होंने साधुवाद दिया एवम् इसके उत्तरोत्तर प्रगति एवम् उज्जवल भविष्य की कामना की।

मंचासीन अतिथियों एवम् सभागार में उपस्थित शिक्षकों,मीडिया बंधुओं एवम् अन्य आगंतुकों के प्रति धन्यवाद ज्ञापन करते हुए ए० पी० जे० अब्दुल कलाम विमेंस इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के निदेशक एवम् जंतु विज्ञान के वरीय प्राचार्य प्रो० एम० निहाल ने प्रशासनिक व्यस्तताओं के वावजूद इस कार्यक्रम हेतु समय निकालने हेतु  प्रतिकुलपति महोदय,छात्र कल्याण संकायाध्यक्ष महोदय एवम् कुलसचिव महोदय के प्रति विशेष आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम  में विषय प्रवेश,अतिथियों का स्वागत एवम्

मंच संचालन संस्थान के निदेशक प्रो० भवेश्वर सिंह ने किया।इस अवसर पर पौधारोपण के साथ – साथ परिसर की स्वच्छता का संकल्प छात्र-छात्राओं ने लिया।

कुलसचिव ने छात्रों से फिट इण्डिया के तहत हेल्थ विषय पर की चर्चा

दरभंगा : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय में कुलपति के मार्गदर्शन में चल रहे छात्रों के स्वविकास हेतु संवाद कार्यक्रम में कुलसचिव कर्नल निशीथ कुमार राय आज छात्रों से फिट इण्डिया के तहत हेल्थ विषय पर चर्चा की तथा स्वयं को कैसे स्वस्थ्य रख सकते हैं इस पर चर्चा की तथा इसकी बारीकी सिखाई। कर्नल राय ने कहा कि जब आप किसी इन्टरव्यू में जाते हैं तो चेहरे पर नकारात्मकता का भाव नहीं दिखना चाहिए।

उन्होंने छात्रों के बीच स्वस्थ रखने के विभिन्न आयामों को खुद करके दिखाया। साथ ही ऐसे विचार भी ब्याम व्यायाम के साथ व्यक्त भी किए। आज के संवाद में अलग-अलग महाविद्यालयों के 35 छात्रों ने भाग लिया। छात्रों ने अपने आपको कैसे फिट रखते हैं या फिट रहने के लिए क्या-क्या करेंगे पर एक-एक मिनट अंग्रेजी में बोला। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि छात्रों द्वारा अच्छे सुझावों पर अन्य छात्र भी अमल करेंगे। प्रायोगिक के रूप में छात्रों ने योगा में भी भाग लिया। सबसे अच्छा विचार व्यक्त करने वाले में बी.एड.(रेगूलर) के छात्र चन्द्रजीत कुमार को रनर ट्राॅफी दी गई वहीं प्रायोगिक में सी.एम.साईन्स महाविद्यालय के आशुतोष कुमार को 35 बूस्ट-अप पूरा करने पर नकद राशि दी गई। सभी छात्रों ने फिट रहने के लिए नियमित व्यायाम करते रहने का आश्वासन दिया।

चाइना से लौटे छात्र को कुलपति ने दी बधाई

दरभंगा : राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्त्वावधान में इंडियन यूथ डेलिगेशन टू चाइना 2019 कार्यक्रम में सहभागिता के लिए जीडी कॉलेज, बेगूसराय के छात्र शशि कुमार का चयन किया गया। विदित हो कि बिहार से केवल दो छात्रों का ही चयन हुआ था। छात्र शशि कुमार ने दिनांक 2 जुलाई, 2019 से 9 जुलाई, 2019 तक राष्ट्रीय सेवा योजना के विभिन्न कार्यक्रमों में चीन की राजधानी बीजिंग में अपनी सक्रिय सहभागिता दी और ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय का परचम लहराया।

चीन से वापस लौटने पर आज 12 अक्टूबर, 2019 को ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुरेंद्र कुमार सिंह ने छात्र शशि कुमार को मेडल पहनाकर बधाई एवं जीवन में सदैव आगे बढ़ने हेतु अपनी शुभकामना दी। इस अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉ आनंद प्रकाश गुप्ता एवं डॉ विनोद बैठा उपस्थित थे।

मुरारी ठाकुर  

Leave a Reply