23 सितंबर : चंपारण की मुख्य ख़बरें

0
चंपारण की मुख्य ख़बरें

सूरत से आये उद्यमियों ने चनपटिया में टेक्सटाइल्स एवं एप्रिल उद्यम का किया आगाज़

  • डिजाइंड फुटवेयर, सैनेटरी नैपकिन, इम्ब्रोडरी के क्षेत्र में करेंगे उत्पादन, डीएम ने कहा

चंपारण : बेतिया, पश्चिम चम्पारण मैनुफैक्चरिंग हब बनने की दिशा में ऐतिहासिक पहल कर चुका है। सूरत से लौटे बिहारी उद्यमियों ने टेक्सटाइल्स एवं एप्रिल उद्यम का आगाज़ किया है। विभिन्न प्रकार के अत्याधुनिक मशीन, जो कम्प्यूटर एडेड डिजाइन से टेक्सटाइल एवं एप्रिल के क्षेत्र में विभिन्न प्रकार के उत्पादन करेंगे। जिला के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण व गौरवशाली बात है कि लॉक डाउन के दौरान कम समय में समन्वित प्रयास से यह दिन आया है। अब जिला में फुटवेयर, सैनेटरी नैपकिन, एम्ब्राडरी के क्षेत्र में उत्पादन प्रारम्भ किया जाएगा।

जिला पदाधिकारी कुंदन कुमार ने समाहरणालय सभाकक्ष में मंगलवार को जिला औद्योगिक नव प्रवर्तन योजना से संबंधित पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए उपर्युक्त विचार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन जिला औद्योगिक नवप्रवर्तन योजना द्वारा उद्यमियों को विभिन्न प्रकार के टेक्सटाइल्स, फुटवेयर, सैनेटरी पैड, एम्ब्राॅडरी के उत्पादन में चनपटिया प्रखंड अंतर्गत एक कॉमन वर्किंग प्लेस को स्टार्टअप जोन की तरह उपलब्ध कराया है। यह एक बेहतरीन प्लेटफाॅर्म है। उन्होंने कहा कि सभी पदाधिकारियों के समन्वित प्रयास एवं उद्यमियों के सहयोग से जिला को मैनुफैक्चरिंग हब बनाने में हमने ऐतिहासिक कदम बढाया है। इससे वर्तमान सुखद होगा और आगामी पीढ़ियों को एक बेहतर भविष्य मिलेगा तथा पश्चिम चम्पारण जिला विकास के पथ पर और तेजी से आगे बढ़ सकेगा।

जिला पदाधिकारी ने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान अन्य राज्यों में कार्य करने वाले 01 लाख से ज्यादा व्यक्ति इस जिला में वापस लौटे है। इनमें कुशल कामगार एवं श्रमिक भी है। जिला प्रशासन का प्रयास है कि इन सभी को हुनर के अनुरूप जिला में रोजगार उपलब्ध करायें। जिससे जीविकोपार्जन कर सके। उन्होंने कहा कि ब्रांड वेस्ट चम्पारण को विकसित करने की दिशा में पदाधिकारियों की टीम लगातार कार्य कर रही है। सभी के समन्वित प्रयास से चम्पारण का प्रोडक्ट राष्ट्रीय एवं अंतराराष्ट्रीय बाजारों में अपना परचम लहरायेगा। इस अवसर पर सहायक समाहर्ता कुमार अनुराग, उप विकास आयुक्त रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, ओएसडी बैद्यनाथ प्रसाद व अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

अवधेश कुमार शर्मा

राज्यसात मामलों की जिला पदाधिकारी ने की समीक्षा

  • प्राधिकृत पदाधिकारियों को दिया कार्रवाई का निर्देश

चंपारण : बेतिया, जिला पदाधिकारी कुंदन कुमार ने राज्य को शराब मुक्त बनाने के लिए प्रशासनिक स्तर पर प्राधिकृत पदाधिकारियों को लगातार कार्रवाई का निर्देश दिया है। कहा कि शराब मुक्त बिहार बनाने के लिए मद्य निषेध और उत्पाद अधिनियम लागू किया गया है। इसके अंतर्गत एक तरफ जब्त शराबों का विनष्टीकरण और दूसरी ओर शराब को ढोने में प्रयुक्त वाहनों की सुनवाई कर राज्यसात करने की कार्रवाई की जा रही है।

उन्होंने कहा कि राज्यसात संबंधी मामलों की सुनवाई के लिए अपर जिला दंडाधिकारी-सह-अपर समाहर्ता तथा अनुमंडल पदाधिकारी, बेतिया सदर को प्राधिकृत किया गया है। जिन्हें विधि सम्मत राज्यसात से संबंधित मामलों का त्वरित निस्तारण करने का निर्देश दिया । कहा लॉक डाउन के कारण मामलों की संख्या में काफी वृद्धि हुई है। आसन्न विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत सभी मामलों का विधि-सम्मत निष्पादन करें।

डीएम ने मंगलवार को कार्यालय प्रकोष्ठ में संबंधित पदाधिकारियों को उपर्युक्त निदेश दिया। उन्होंने मद्यनिषेध पदाधिकरियोंको को निर्देश दिया कि वैसे वाहन, जिन्हें पूर्व में राज्यसात कर लिए गया है, उसका मूल्यांकन एमवीआई/डीटीओ से करते हुए, उनकी नीलामी त्वरित गति से करायें। इस कार्य में शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अपर समाहर्ता प्रतिदिन न्यायालय के माध्यम से आदेश पारित कर रहे हैं, उन वाहनों का भी तुरंत मूल्यांकन कराकर नीलामी की कार्रवाई करें।

अवधेश कुमार शर्मा

अनुमंडलीय अस्पताल में सुविधाओं से मरीजों को मिलेगा इलाज में लाभ : विधायक

चंपारण : ढाका विधानसभा के विधायक फैसल रहमान ने आज अनुमंडलीय अस्पताल में 50 बेड वाले भवन निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। साथ ही गांवों में विभिन्न योजनाओं से बनने वाली एक दर्जन सड़क का भी शिलान्यास किया।

इस दौरान विधायक फैसल रहमान ने कहा कि 50 बेड वाले भवन निर्माण कार्य का शिलान्यास किया गया है जो की 12 करोड़ की लागत से बनेगी। ढाका अनुमंडलीय अस्पताल भवन की हालत जर्जर थी। मरीजों को इलाज कराने तथा रहने सहने में काफी कठिनाई होती थी जो कि अब इस भवन के निर्माण होने से लोगों को काफी सहूलत होगी। विधायक ने कहा कि निर्माण कार्य जल्द पूरा कर लिया जाएगा ।

इस अवसर पर अनुमंडल चिकित्सा पदाधिकारी डाक्टर कन्नन एनके साह , डाक्टर शोभा कुमारी , राजद अध्यक्ष शम्स तबरेज , पूर्व मुखिया हैदर अली , नसीम अहमद , चंदन मिश्रा , आदि उपस्थित थे ।

राजन दत्त द्विवेदी

सीएम ने 7 विभागों के योजनाओं का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शिलान्यास और उद्घाटन किया

चंपारण : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्वी चंपारण जिले में 7 विभागों के योजनाओं का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शिलान्यास और उद्घाटन किया। वही स्वास्थ्य विभाग के रक्सौल अनुमंडलीय अस्पताल में पचास क्षमता वाले भवन निर्माण कार्य, पचास क्षमता वाले अनुमंडलीय अस्पताल सिकरहना के भवन निर्माण कार्य, सदर अस्पताल, मोतिहारी का माॅल अस्पताल के रूप में उन्नयन एवं सौ बेड के मात् शिशु अस्पताल का निर्माण कार्य, तीस शैय्या वाले समुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र बंजरिया का निर्माण कार्य, समुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र रामगढ़वा का निर्माण कार्य, अरेराज में एएनएम प्रशिक्षण संस्था सह छात्रावास का निर्माण कार्य, डायलिसिस इकाई स्थापना का कार्य जिला अस्पताल पूर्वी चम्पारण में एक्स-रे मशीन का अधिष्ठापन शिलान्यास व उद्घाटन किया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बिहार सरकार के मंत्री प्रमोद कुमार, डीएम शीर्षत कपिल अशोक, प्रशिक्षु आईएएस, आईपीएस, अपर समाहर्ता, सिविल सर्जन, प्रशासनिक पदाधिकारी समेत स्वास्थ विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

राजन दत्त द्विवेदी

17 सूत्री मांगों को लेकर सड़क पर उतरी सेविका व सहायिका, किया विरोध प्रदर्शन

  • मांग पूरा नहीं होने तक अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी रखने की दी चेतावनी

चंपारण : हरसिद्धि, बिहार राज्य आंगनबाड़ी सेविका सहायिका संघ के आह्वान पर मंगलवार को प्रखंड क्षेत्र के सभी सेविका और सहायिका ने अपने 17 सूत्री मांगों को लेकर बाल विकास परियोजना कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन के दौरान सीएम नीतीश कुमार का पुतला दहन करते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। धरना व प्रदर्शन का नेतृत्व प्रखंड अध्यक्ष प्रमिला कुमारी ने करते हुए कहा कि सरकार ने सभी सेविका सहायिकाओं को प्रतिमाह तीन सौ रुपया मानदेय में बढ़ोतरी किया है जो कहीं से उचित नहीं है। यह तो ऊंट के मुंह में जीरा का भोजन समान है। हम लोग इस मानदेय बढ़ोतरी पर मानने वाले नहीं हैं। हमारी 17 सूत्री मांगों को सरकार स्वीकार करें अन्यथा सुशासन बाबू गद्दी छोड़ने के लिए तैयार रहें।

प्रखंड अध्यक्ष ने धरना के माध्यम से ऐलान किया कि जब तक हमारी मांगों को सरकार पूरा नहीं करेगी तब तक प्रखंड क्षेत्र के सभी सेविका व सहायिका अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगी। मौके पर कुमारी सीमा रानी, सुधा देवी, निर्मला देवी, ममता देवी, सुमित्रा देवी ,सावित्री प्रसाद सरोज कुमारी, चंदा देवी, कुसुम देवी, आसमा खातून रूबी देवी, मधुबाला देवी उर्मिला देवी, नीकी कुमारी बिभा देवी बिंदु कुमारी प्रमीला कुमारी मंजु कुमारी संयोजक बिनोद जी, प्रतिभा देवी आदि सैकड़ों सेविका सहायिका मौजूद थीं।

मनोज कुमार

इस बार कोरोना को लेकर पोलियो उन्मुलन अभियान बेहद जरूरी : नरोत्तम कुमार

चंपारण : अरेराज, कोरोना जैसी वैश्विक बीमारी को लेकर इॊ बार पोलियो उन्मुलन अभियान की सफलता बेहद जरूरी है। जो लोग बाहर के राज्यों से बिहार लौटे हैं, उनके पांच साल तक के बच्चे को पोलियो ड्राॅप पिलाना जरूरी है। ताकि किसी प्रकार की चूक नहीं हो सके। उक्त बातें आज डब्ल्युएचओ के नरोतम कुमार ने आशा को संबोधित करते हुए कही। वहीं 11 अक्टुबर से प्रारम्भ होनेवाले पोलियो उन्मूलन अभियान के लिए मलाही एडिसनल पीएचसी में दलकर्मियों, पर्यवेक्षक, सबडिपो होल्डर को प्रशिक्षण डॉ. नीरज कुमार एवं डब्ल्युएचओ के नरोतम कुमार ने दिया।

यहां कुल 30 घर-घर भ्रमण करने वाली दल सदस्यों को प्रशिक्षण के लिए आमंत्रित किया गया था। मगर सेविकाओं की हड़ताल के कारण केवल आशा प्रशिक्षण के लिए उपस्थित हुई। नरोतम कुमार ने बताया कि जहां कारोना के कारण कई राज्यों से लोगों का घर लौटना हुआ है। वहीं रोजगार के लिए लोग वापस दूसरे राज्यों को लौटने भी लगे हैं। दुर्गा पूजा के कारण लोगों का छुट्टियों मे घर आना भी होगा।

पाकिस्तान और अफगानिस्तान में बड़ी संख्या में पोलियो केस होने के कारण भी भारत को सावधान रहने की जरुरत है। पाँच वर्ष तक के बच्चों को पोलियो टीका उपलब्ध करवाने की चुनौति आशा कार्यकर्ताओं ने स्वीकार करते हुए बेहतर कार्य करने का आश्वासन दिया। डॉ नीरज कुमार ने बताया कि मलाही सबडिपो क्षेत्र में कुल 13 दल टीके का उठाव करते हैं जबकि चार पर्यवेक्षक दलकर्मी की निगरानी और सहयोग करने के लिए लगाये जा रहे हैं।

प्रशिक्षण के दौरान रीमा, पिंकी, निरज, राजेश्वरी, पुष्पम ईत्यादि आशा एवं पर्यवेक्षक में धर्मेन्द्र गिरी, शत्रुमर्दन गिरी एवं ओमप्रकाश आदि मौजुद थे।

swatva

Leave a Reply