23 जून : बक्सर की मुख्य खबरें

0

एक साथ तीन बच्चों को मां ने दिया जन्म

बक्सर : बक्सर में एक अजीब घटना ने इलाके में सनसनी फैला दी है। बक्सर में लजीना बेगम के साथ एक अजीब घटना हुई है। लजीना बेगम ने तीन बच्चों को जन्म दिया है। कभी-कभी ऐसा होता है।

लजीना बेगम ने सोमवार को एक साथ तीन बच्चों को जन्म दिया।उसके पति इम्तेयाज मियां विकलांग हैं। उन्होंने बताया कि वह अपनी पत्नी को अस्पताल ले जाने की सोच ही रहे थे। तभी खुदा की नेमत बरसी और तीनों बच्चे बारी-बारी से जन्म ले लिए।उनकी हालत देख परिवार के लोग चिंतित थे। क्योंकि एक गर्भ में तीन बच्चे होने के कारण उनका पोषण सही ढंग से नहीं हुआ है।

गांव में लोगों से चर्चा हुई तो उन्होंने अस्पताल जाने की सलाह दी।पुराना भोजपुर के रहने वाले इम्तेयाज ने हिम्मत जुटाई और बच्चों को लेकर सदर अस्पताल पहुंचे। 23 जून की सुबह सभी को बच्चा वार्ड की क्यूरेटर मशीन के सहारे रखा गया है। फिलहाल तीनों स्वस्थ हैं। फोन पर हुई बातचीत में इम्तेयाज ने बताया इनका नाम अरबाज, शहबाज और शहजाद रखा गया है। पहले से एक बेटी है। उसका नाम सकीना है। बातचीत के क्रम में उन्होंने बताया कि वह दोनों पैर से विकलांग हैं। लेकिन, आजतक सरकार द्वारा कोई सहायता नहीं मिली। न ही विकलांग पेंशन ही मिलता है।

बलिदान दिवस के रूप में मनायी गयी श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुन्य तिथि

बक्सर : जन संघ के संस्थापक सदस्य डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी 23 जून को सदा के लिए यहां से विदा हो गए थे। इस तिथि को बलिदान दिवस के रुप में भाजपा के लोग मनाते हैं। मंगलवार को इस अवसर पर भाजपा के लोगों कई जगह कार्यक्रम किया।

भाजयुमो की तरफ से गोयल धर्मशाला में कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसका उद्घाटन भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश क्षेत्रीय पदाधिकारी अनुराग श्रीवास्तव ने किया। उपस्थित युवाओं ने डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। अपने संबोधन में अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि एक देश में दो निशान दो प्रधान दो संविधान नही चलेगा।इस संकल्प को पूरा करने में उन्होंने अपने प्राणों की आहुति दे दी। उनका यह संकल्प प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 35 A और 370 हटाकर पूरा किया।

इस श्रद्धांजलि कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजयुमो के नगर अध्यक्ष दीपक सिंह व संचालन जिला महामंत्री विपुल राय ने किया। इस अवसर पर भाजयुमो के हिमांशु चतुर्वेदी, गोविंद मिश्रा, उषा दुबे, रीता शर्मा, त्रिभुवन पाठक, सौरभ तिवारी, राहुल दुबे, कतल सिंह, विकास कायस्थ, आदित्य पाण्डेय, मिथुन दुबे, यसुफ अख्तर, राकेश सिंह, प्रतीक सिंह, पंकज केशरी, सत्येंद्र पाण्डेय, दीपक प्रकाश दुबे, पीयूष उपाध्याय, अनूप सिंह, अमृत गुप्ता, शेखर कुमार, अनुज कुमार सहित अनेको युवा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

वही पारस नाथ दुबे की अध्यक्षता में जासो बूथ केन्द्र पर भी कार्यकर्ताओं ने बलिदान दिवस मानाया । कार्यक्रम का संचालन भाजपा जिला उपाध्यक्ष मदन दुबे ने की। मुख्य वक्ता अमरेन्द्र पाण्डेय और वरिष्ठ भाजपा नेता परशुराम चतुर्वेदी ने उनके द्वारा किये कार्यो का बताया ।इस अवसर निता शर्मा व ऊषा देवी के अलावे अन्य कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

इंस्पेक्टर, एएसआई समेत 409 पुलिस कर्मियों का तबादला

बक्सर : शाहाबाद के डीआईजी पी कन्नन ने पड़े पैमाने पर पुलिस कर्मियों का तबादला किया है। इस सूची में जिले के कुल 409 पुलिस कर्मियों का नाम शामिल है। इनमें प्रमुख हैं डुमरांव के सर्किल इंस्पेक्टर दयानंद प्रसाद व डीआइयू के प्रभारी अविनाश कुमार। इन दोनों को यहां से आरा जिला भेजा गया है।

वहीं बगेन के थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह व तिलकराय हाता ओपी के प्रभारी जय प्रकाश को कैमुर जिला भेजा गया है।तबादले की सूची जारी करने से पहले डीआईजी ने बक्सर एसपी यूएन वर्मा, कैमुर एसपी दिलनवाज, भोजपुर एसपी सुशील कुमार एवं रोहतास एसपी सत्यवीर सिंह के साथ परामर्श किया। बैठक के उपरांत जो निर्णय हुआ। उसके आधार पर छह वर्ष से ज्यादा एक जिले में पदस्थापित लोगों को इधर से उधर किया गया है।

सूची का अवलोकन करने पर पता चलता है कि यहां से 24 एसआई जा रहे हैं और 27 का आगमन हो रहा है। 295 कांस्टेबल जा रहे हैं और 308 का आगमन होगा। 55 हवालदार जाएंगे और 68 यहां रिपोर्ट करेंगे। 33 एएसआई जाएंगे, 38 लोग आएंगे। यहां से 2 इंस्पेक्टर जा रहे हैं। उसकी जगह एक ही इंस्पेक्टर का आगमन हो रहा है। कुल मिलाकर यहां से 409 लोगों का तबादला हुआ है। यहां आने वालों की संख्या 443 है। इससे जिले के संख्या बल में इजाफा होगा।

जेल अधीक्षक को कारण बताओ नोटिस, सदेह उपस्थित होने का न्यायालय ने दिया आदेश

आदेश के बाद कैदी को न रिहा करने का मामला

बक्सर : जेल अधीक्षक केंद्रीय कारा बक्सर को न्यायालय ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। साथ ही उन्हें न्यायालय के समझ उपस्थित होने का निर्देश दिया है। न्यायालय सूत्रों के अनुसार केंद्रीय कारा बक्सर में एक सजायाफ्ता क़ैदी को जेल अवधि के बाद भी कारा में रखा गया है। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश षष्ठम राकेश मिश्र ने इस मामले में जेल अधीक्षक केंद्रीय कारा बक्सर को आदेश जारी किया है।

इस आदेश में उन्होंने लिखा है कि क्यों नहीं अवैध कारा निरुद्ध के लिये सजायाफ्ता कैदी को एक लाख का मुआवजा देने की मांग स्वीकार कर लि जाए। क्योंकि सजायाफ्ता ने अधिक समय तक जेल में रखने के एवज में मुआवजा मांगा है।

मालूम हो कि नगर के शांतिनगर मुहल्ले से मादक पदार्थ तस्कर विजय चौधरी को पुलिस ने 18 पुडिय़ा हीरोइन के साथ 17 अप्रैल 2019 को तत्कालीन इंस्पेक्टर अविनाश कुमार के नेतृत्व में गिरफ्तार किया था।न्यायालय में उसे दोषी करार देते हुए एक वर्ष की सजा और दस हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया था। अर्थदंड नहीं देने पर दो माह की अतिरिक्त सजा का प्रावधान किया गया था। न्यायालय के आदेश और दण्डादेश के बावजूद सुनाई गई सजा की अवधि भुगतने के बाद सजायाफ्ता कैदी जेल से नहीं छूटा तो न्यायालय से अवैध कारा में रखने के लिये एक लाख रुपए मुआवजा दिलाने की मांग कर दी है। न्यायालय ने कैदी के आवेदन पर तत्काल कारा अधीक्षक से जवाब मांगा है।

इस संबंध में पूछने पर जेल अधीक्षक ने कहा। हमसे जवाब मांगा गया है। माननीय न्यायालय के समक्ष हम उपस्थित होंगे। ऐसा क्या कारण रहा जो उसे छोड़ा नहीं गया। पूछने पर उन्होंने बताया दोषी व्यक्ति के खिलाफ एनडीपीएस की दो धाराओं में अलग-अलग जुर्माना लगाया गया था। जुर्माना की राशि अदा नहीं करने के कारण उसे सजा जेल में रखा गया है। हम इस तथ्य से माननीय न्यायालय को अवगत कराएंगे।

सर्पदंश से युवक की मौत

बक्सर : सोनवर्षा गांव में घर में सो रहे युवक को सोमवार की रात सर्प ने काट लिया। विकास कुमार (22) पुत्र जगनरायण यादव रात में भोजन के उपरांत सो रहे थे। तभी अचानक उन्हें सांप ने काटा और उनकी नींद टूट गई। जिसके घर में कोहराम मच गया। उपचार के लिए भागदौड़ शुरू हुई। लेकिन, युवक को बचाया नहीं जा सका। ग्रामीणों के अनुसार नौजवान पुत्र को खोने के गम में पूरा परिवार जैसे टूट गया है।

नहर में डूबने से ढाई साल के मासूम की मौत

बक्सर : नावानगर अंचल के रूपसागर गांव में नहर में डूबने से ढाई साल के बच्चे की मौत हो गई।सूचना के मुताबिक सोमवार दोपहर में बच्चा अपने घर के पास खेल रहा था। तभी यह घटना घटी। परिवार के लोगों ने बताया कि घर के सामने ही नहर है और लोगों के अनुमान के मुताबिक खेलने के दरम्यान बच्चा नहर में गिर गया होगा।

परिजनो ने बताया कि कुछ देर बाद उनको ध्यान बच्चे की तरफ गया।जहां उनलोगों को बच्चा कहीं नहीं दिखा। जिसके बाद स्थानीय लोगों से पूछताछ शुरू हुई लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। परंतु लगातार ग्रामीणों द्वारा कि जा रही खोजबीन के दौरान ग्रामीणों को नहर में एक बच्चे का शव देखा गया है। जिसके बाद घर के लोग भागे-भागे वहां पहुंचे। मासूम का शव बाहर निकाला गया।

मृत मासूम नावानगर अंचल के रूपसागर निवासी मुन्ना कुमार सिंह का पुत्र ओम प्रकाश ही था। परिजन उसे निजी अस्पताल तक ले गए। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद घर में कोहराम मच गया। बेटे की शव देखकर मां की चीखे निकल गई। घरवाले उसे समझाने लगे परन्तु उसके सवालों के आगे सभी निरूत्तर हो गए। सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष व स्थानीय अधिकारी मौके पर पहुंचे। परिवार को सांत्वना दी।

आटो पलटने से वृद्ध की मौत

बक्सर : जिले में सोनवर्षा से मलियाबाग जा रहे ऑटो को परमडिह पुल के पास अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। इसमें इस टक्कर में ऑटो में सवार कुछ लोगों को चोट लगी है। वहीं इस दौरान अपने गांव से निजी कार्य के मलियाबाग जा रहे रामायण पांडेय ऑटो में से गिर पड़े जिसके बाद एनएच 30 पर भीड़ जमा हो गई।

जिसके बाद स्थानीय लोगों द्वारा तुरंत ही घायल को सोनवर्षा बाजार के निजी अस्पताल ले जाया गया।वहीं प्राथमिक जांच के बाद चिकित्सकों ने इस टक्कर में गिरे वृद्ध रामायण पांडेय को मृत घोषित कर दिया। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंची। शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

डीएम ने की बैठक , समीक्षा के दौरान लंबित मामलों पर जताया नाराजगी

बक्सर :  जिलाअधिकारी अमन समीर इन दिनों एक्शन में है। जिले में इनके द्वारा अलग-अलग दो बैठक किया गया। पहला बैठक कार्य संस्कृति सामान्य की साप्ताहिक बैठक समाहरणालय सभागार में आहूत की गई ।

जिलाधिकारी ने विधि शाखा में लंबित सीडब्लूजेसी, एमजेसी मामलों की विभागवार गहन समीक्षा की। शिक्षा विभाग में लंबे समय से लंबित एमजेसी के मामलों पर जिला पदाधिकारी ने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि अगले 15 दिनों में पचास प्रतिशत मामलों में एसओएफ बनाकर हाईकोर्ट में दाखिल किया जाय।

जिला प्रशासन के मुताबिक सीडब्लूजेसी के कुल 149 मामले विभिन्न विभागों से संबंधित लंबित बताए गए। इन सबों का एसओएफ बनाकर हाईकोर्ट में दाखिल करने का निदेश दिया गया। मानवाधिकार से कुल 27 मामलों के लंबित होने की जानकारी सामान्य शाखा प्रभारी ने दी। सभी संबंधित पदाधिकारी को अलग-अलग मामलों के निष्पादन हेतु पत्र लिखने का दिशा निर्देश दिया गया। आरटीपीएस के प्रभारी पदाधिकारी ,जिला स्थापना शाखा के प्रभारी को लॉक डाउन के पूर्व से अबतक लंबित मामलों पर त्वरित कार्रवाई करते हूए इन मामलों यथा शीघ्र निपटारा किया जाय। वही डीएम ने सभी प्रखण्डों के वरीय प्रभारी पदाधिकारियों को बुधवार को क्षेत्र भ्रमण के दौरान कोर्ट से संबंधित मामलों की समीक्षा करने का भी निदेश दिया।

आश्रय स्थल की जल्द तैयार करें सूची

इस दौरान प्रभारी पदाधिकारीगण को बाढ़ से प्रभावित होने वाले पंचायतों में आश्रय स्थलों की पहचान कर सूची बना कर जितना जल्दी हो सके जिलाधिकारी कार्यालय को सौपने आदेश दिया गया । बक्सर डुमरांव कार्यपालक पदाधिकारियों को आदेश दिया कि बक्सर एवं डुमराँव में आने जाने हेतु एप्रोच रोड की सख्त आवश्यकता को देखते हुए अग्रतर कार्रवाई करने का निदेश दिया गया।

बैठक में अनुपस्थित रहने वाले का वेतन स्थगित

जिलाधिकारी ने अनुशासन पर जोर देते बैठक से अनुपस्थित पदाधिकारियों का एक दिन का वेतन स्थगित रखने का निदेश दिया । बैठक में डीडीसी अरबिन्द कुमार के सभी जिला स्तरीय पदाधिकारीगण एवं तकनीकी विभागों के अभियंता उपस्थित रहे ।

रोजगार सृजन पर दिया जाय जोर ,कृषि आधारित खुलेंगे छोटे-छोटे उद्योग

जिलाधिकारी अमन समीर द्वारा दूसरी बैठक जिला कृषि टास्क फोर्स की ली गयी। जिसमें कृषि आधारित विकास योजनाओं पर अधिकारीयों के साथ चर्चा किया।जिलाधिकारी ने पीएम किसान संमान योजना योजना के लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड योजना योजना की प्रगति पर एलडीएम पर नाराजगी ब्यक्त करते हुए कहा कि इस योजना मे बंचित किसानों को समय से ॠण देना सुनिश्चित करे,अभी तक आपेक्षित संख्या में लाभ नही दिया गया।

जिला उद्यान पदाधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले के 228 एकड़ जमीन को ड्रिप सिंचाई से आच्छादित करने का सरकार का इस वर्ष लक्ष्य है। जिला कृषि पदाधिकारी के एन चक्रवर्ती ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में उर्वरक का प्रयाप्त स्टॉक है।किसान आसानी से उचित मुल्य पर खरीदारी कर सकते है। साथ लक्ष्य के अनुसार 60% बिछड़े का आच्छादन होने की बात कहा। वही जैविक खेती के प्रोत्साहन के लिए इस बार 1000 एकड़ का लक्ष्य रखा गया है।

बैठक में लघु सिंचाई विभाग के अभियंता ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में कुल 344 नलकूप में जिसमें डेढ़ सौ नलकूप चालू हालत में है। बाकी के नलकूपों को मरम्मत कर चालू करने के लिए स्थानीय मुखिया से समन्वय स्थापित कर उन्हें फंड मुहैया कराने की बात कहा।जिला पदाधिकारी ने जिला में कृषि पर आधारित नये छोट-छोटे उद्योग को खोलने हेतु प्रस्ताव बनाने का निदेश जिला कृषि पदाधिकारी, जिला पशुपालन पदाधिकारी, कृषि वैज्ञानिक को दिया। इसके लिए सरकार से विशेष फंड के भी प्राप्त होने की जानकारी दी गई। कुशल उद्यमी को हर संभव सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। बैठक में उप विकास आयुक्त अरबिन्द कुमार के अलावे जिला कृषि टास्क फोर्स के सभी सदस्यगण उपस्थित रहे।

चन्द्रकेतु पाण्डेय की रिपोर्ट

swatva

Leave a Reply