2 अगस्त : बक्सर की मुख्य ख़बरें

0
8 अगस्त : बक्सर की मुख्य ख़बरें7 अगस्त : बक्सर की मुख्य ख़बरें6 अगस्त : बक्सर की मुख्य ख़बरें5 अगस्त : बक्सर की मुख्य ख़बरें3 अगस्त : बक्सर की मुख्य ख़बरें1 अगस्त : बक्सर की मुख्य ख़बरें31 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें30 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें28 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें27 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें26 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें24 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें23 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें21 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें20 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें17 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें16 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें15 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें2 जुलाई : बक्सर की मुख्य ख़बरें30 जून : बक्सर की मुख्य ख़बरें

जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश महसचिव का इंतकाल, जदयू में शोक

फाइल फोटो जनाब सदरे आलम

बक्सर : जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव सदरे आलम के इंतकाल से जदयू में में शोक की लहर दौड़ गई है, सदरे आलम इससे पहले जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के पूर्व जिलाध्यक्ष भी रह चुके है।

सदरे आलम नगर से सटे सारिमपुर के रहनेवाले थे। जदयू नेताओं ने उनके देहांत पर शोक जताते हुए कहा कि वे पार्टी के एक मजबूत स्तंभ थे। उनका जाना पार्टी के लिए बड़ी क्षति है। शोक व्यक्त करने वालों में जदयू के पूर्व अध्यक्ष अशोक सिंह, डॉ विनोद कुमार सिंह, युवा अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह, प्रवक्ता श्याम वर्मा, विक्रांत कुमार, विमलेन्द्र कुमार, जय प्रकाश सिंह, अनिरूद्ध तिवारी, कृष्णबिहारी सिंह, अमरजीत सिंह व पूर्व जिलाध्यक्ष रामव्यास सिंह कुशवाहा,प्रखण्ड अध्यक्ष राजपुर फुटुचंद सिंह आदि ने शोक जताया है।

डीआइजी ने अधिकारियो को सज़ग हो कर काम करने का दिया निर्देश

  • एसपी व डीएसपी के साथ की बैठक

बक्सर : शहाबाद प्रक्षेत्र के डीआइजीपी कन्नन ने नावानगर थाने में एसपी उपेन्द्रनाथ वर्मा व दोनों अनुमंडल के डीएसपी के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने लंबित मुकदमों के निष्पादन पर जोर दिया। हाल में हुई आपराधिक वारदातों के त्वरित निष्पादन पर संतोष जताया। साथ ही यह निर्देश दिए। लॉकडाउन के दौरान अपराधिक घटनाओं पर नजर रखना चुनौती है। क्योंकि स्वयं को सुरक्षित रखते हुए काम करना है। इस लिए जरुरी है, आप सभी पहले से ही सजग रहें। थाने में बगैर मास्क के किसी को प्रवेश नहीं करने दें। हर जगह हाथ धोने का उचित प्रबंध होना चाहिए। यह वक्त की जरुरत है। लापरवाही समस्या खड़ी कर सकती है। डीआइजी आज आरा में समीक्षा बैठक के बाद लौटे थे। उन्होंने सदर डीएसपी सतीश कुमार व डुमरांव डीएसपी केके सिंह को भी कड़े निर्देश जारी किए।

डुमरांव में खुला कोविड केयर अस्पताल

बक्सर : डुमरांव में स्थित टीचर ट्रेनिंग केंद्र में अनुमंडल का कोविड केयर अस्पताल बनाया गया है। सूत्रों के मुताबिक यहां कुल साठ बेड का अस्पताल विकसित किया जाना है।शनिवार को इसका शुभारंभ डीएम अमन समीर ने किया। मौके पर डीडीसी अरविंद कुमार और सिविल सर्जन जितेंद्र नाथ व अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे । यहां बनाए गए अस्पताल में हर बेड के पास आक्सीजन की व्यवस्था है।अगर रोगी को सांस लेने में तकलीफ जैसी शिकायत हो तो उसे आक्सीजन उपलब्ध करायी जा सके। डीएम ने व्यवस्थित कक्ष को देखा। जहां हर मुकम्मल व्यवस्था थी। इससे पहले बक्सर के पुराना सदर अस्पताल में बने महिला नर्स कालेज में भी कोविड केयर अस्पताल बनाया गया है।वहां पिछले माह से ही संक्रमित रोगी रखे जा रहे हैं। अमन समीर ने बताया कोविड केयर हॉस्पिटल तैयार होने से संक्रमित रोगियों का इलाज करना आसान रहेगा। वही उनकी देख भाल करने में काफी सुविधा होगी।

जिले में मिले 81 कोरोना संक्रमित मरीज़, संख्या पहुंची 1126

बक्सर : आज रविवार को जारी समेकित रिपोर्ट के अनुसार कुल 81 लोगों पॉजिटिव पाए गए हैं। इस वजह से जिले में अब तक कुल संक्रमित लोगों की संख्या 1126 पहुंच गई है। वैसे एक दिन पहले अर्थात 1 अगस्त को सक्रिय रोगियों की संख्या 432 थी। ठीक होने वालों की संख्या 613 थी। आज जो रिपोर्ट सामने आयी है। उसमें दो जगह स्थिति विस्फोटक है। डुमरांव का पुराना भोजपुर और बक्सर शहर का सोहनी पट्टी इलाका। यहां डाकघर में कई लोग संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा जिले के सभी प्रखंड़ों में संक्रमित लोग मिले हैं। जहां पूर्व की जांच में संक्रमित लोग मिले थे। संक्रमण पर काबू पाने के लिए संयंम और सावधानी बरतनी चाहिए। भीड़ से दूर रहने की जरूरत है। प्रशासनिक दिशा निर्देश का पालन जरूर करें।

जिले में अब प्रति दिन होगी 1000 लोगों की जांच : डीएम

  • वृद्ध, बीमार, लाचार व गर्भवती महिलाओं की घर पर होगी जांच

बक्सर : संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बहुत जरुरी है कि जांच तेजी से हो। इसकी मांग हर जगह उठ रही थी। अब जिले के पास पर्याप्त कीट उपलब्ध हैं। इस लिए जांच का दायरा बढ़ाया जा रहा है। रविवार को वीडियो संवाद के माध्यम से आयोजित बैठक में डीएम अमन समीर ने कहा कि अब एक हजार लोगों की जांच प्रत्येक दिन हो सकेगी।अर्थात गांवों में भी कैंप लगाकर लोगों की जांच हो सकेगी। उन्होंने अधिकारियों को परामर्श देते हुए कहा। बीमार, वृद्ध, लाचार एवं गर्भवती महिलाओं की जांच घर पर जाकर की जाएगी। अगर किसी को जांच की आवश्यकता महसूस हो रही है। तो वह टॉल फ्री नंबर 18003456602 पर संपर्क कर सकता है।

दो दिन पहले ही राज्य सरकार ने सभी जिलों के लिए अलग-अलग टॉल फ्री नंबर जारी किया है। जिस बीमार अथवा संभावित कोविड संक्रमित लोग चिकित्सकों से परामर्श भी प्राप्त कर सकते हैं। यह नंबर चौबीस घंटे काम करता है। सरकार अपने स्तर से लोगों को चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने का भरपूर प्रयास कर रही है।

चंद्रकेतु पांडेय

swatva

Leave a Reply