22 सितंबर : आरा की मुख्य खबरें

0
आरा की मुख्य ख़बरें

बीडीओ ने मुखिया, पंचायत सचिव, वार्ड सदस्य व वार्ड सचिव पर कराई प्राथमिकी

आरा : सरकार की महत्वपूर्ण नल जल योजना में गबन को लेकर मुखिया, पंचायत सचिव, वार्ड सदस्य तथा वार्ड सचिव पर 14 लाख रुपए गबन करने के आरोप में बीडीओ ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। बिहिया बीडीओ लोक प्रकाश ने बिहिया प्रखंड के रुद्रनगर-गउडाढ़ पंचायत के मुखिया अशोक चौधरी, पंचायत सचिव हरेकृष्ण सिंह, वार्ड सदस्य मो.मुकीम मियां तथा वार्ड सचिव गुड़िया खातून पर शाहपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

दर्ज प्राथमिकी के अनुसार बिहिया प्रखंड के रुद्रनगर-गउडाढ़ पंचायत के वार्ड संख्या 6 में मात्र एक बोरिंग कर उक्त योजना की संपूर्ण 14 लाख रुपये की निकासी कर ली गई है। मिली जानकारी के अनुसार भोजपुर डीडीसी हरिनारायण पासवान ने कुछ दिनों पूर्व उक्त योजना की जांच स्थल पर जाकर की थी। जिसके बाद उक्त योजना से संबंधित संचिकाओं व अभिलेखों की जांच की गई। जिसमें उक्त योजना से जुड़ी सभी प्रकार की अनियमितता मिली। थानाध्यक्ष नित्यानंद शर्मा ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

पार्किंग को लेकर सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

आरा : भोजपुर जिला मुख्यालय आरा में शॉपिंग मॉल और व्यवसायिक प्रतिष्ठानों की तरह बैंकिंग संस्थान ने भी पार्किंग की व्यवस्था नही की है| ऐसे में आने वाले ग्राहकों को गाड़ी पार्क करने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। पार्किंग के अभाव में लोगों को सड़क किनारे या फिर अगल-बगल की गली में गाड़ी लगानी पड़ती है। जिससे जाम तो लगता ही है, गाड़ी चोरी जाने का डर भी बना रहता है। हालत ऐसी है कि कुछ बैंकों के स्टाफों को भी अपनी गाड़ी दूसरी जगह पार्क करनी पड़ती है। सदर अस्पताल के सामने स्थित एक बैंक के कर्मियों को अक्सर अपनी गाड़ी अस्पताल कैंपस में लगाते देखा जाता है।

बता दें कि आरा में अधिकतर बैंक किराये के मकान में संचालित हो रहे हैं। इसके लिये काफी पैसे बैंक मोटी रकम खर्च करता है। बावजूद इसके बैंकों को पार्किंग की सुविधा उपलब्ध नहीं है। यही नहीं, बैंक प्रबंधन भी पार्किंग के लिये पहल नहीं करता है। इससे ग्राहकों के साथ बैंक स्टाफ को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। बता दें कि शहर के जेल रोड, महावीर टोला, स्टेशन रोड और सदर अस्पताल रोड में दर्जन भर बैंकिंग संस्थान हैं। इन बैंकों में रोज हजारों ग्राहक बाइक और अन्य वाहनों से आते हैं। लेकिन पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने से सड़क किनारे ही गाड़ी पार्क कर बैंकों में जाने को विवश होते हैं। ऐसे में उनकी बाइक चोरी का डर रहता है।

बड़े शहरों की तरह आरा में भी काफी संख्या में शॉपिंग मॉल और कंपलेक्स सहित अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठान बन गये हैं। अमूमन शहर के हर इलाके में ऐसे कंपलेक्स हैं। इनमें बैंकिंग संस्थान के अलावे बड़ी-बड़ी दुकानें आदि खुल गये हैं। वहीं कुछ जगहों पर इस तरह के कंस्ट्रक्शन चल भी रहा है। किराये पर लगाने के लिये करोड़ों खर्च करने के बावजूद कंपलेक्स बनाया जा रहा है। लेकिन पार्किंग की व्यवस्था नहीं की जा रही है। स्थिति ऐसी है कि बेसमेट तक को किराये पर लगा दिया जा रहा है। ऐसे में इन कंपलेक्स और उनमें स्थित बैंकिग संस्थान व दुकानों में आने वाले लोगों को गाड़ी पार्क करने की समस्या से दो-चार होना पड़ रहा है।

आरा शहर में पार्किंग बनाये जाने को लेकर सोशल मीडिया पर भी बहस छिड़ गयी है। शहर प्रबुद्ध लोग और सामाजिक कार्यकर्ता इसपर बेबाकी से विचार रख जा रहे हैं। सभी पार्किंग बनाये जाने की आवाज उठा रहे हैं। कुछ लोगों की ओर से तो बकायदा पार्किंग के लिये जगह भी चिन्हित की गयी है। युवा नेता मुन्नू सिंह, मुकुल यादव, युवा जदयू नेता प्रिंस सिंह बजरंगी सहित काफी लोग पार्किंग को लेकर सोशल मीडिया पर बहस में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। सभी द्वारा ट्रैफिक में सुधार को लेकर एसपी विनय तिवारी की ओर से शुरू की गयी पहल की सराहना करते हुये पार्किंग की मांग की है।

भोजपुर पुलिस ने चोरी गये 60 मोबाइल किये बरामद

आरा : भोजपुर पुलिस ने लूटे गये आइफोन सहित 30 एंड्रॉयड मोबाइल बरामद किये है। आइफोन सहित दो मोबाइल की लूट के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। इसमें आइफोन की लूट का मामला नवादा थाना में पिछले मार्च और एक अन्य मोबाइल की छिनतई का केस उदवंतनगर थाने में जून में दर्ज हुआ था। मंगलवार को पुलिस ऑफिस में एसपी विनय तिवारी ने पब्लिक को उनके मोबाइल सौंप दिए। इससे पहले भी चोरी गये तीस मोबाइल बरामद किये गये थे। 15 और 25 अगस्त को सभी मोबाइल उनके धारकों को लौटा दिये गये थे।

बता दें कि लूट, चोरी, छिनतई और गुम मोबाइल की बरामदगी को लेकर एसपी ने एक स्पेशल टीम गठित की है। टीम थानों में दर्ज मोबाइल संबंधी घटना की जानकारी एकत्रित करती है और उसकी बरामदगी में जुट जाती है। वैज्ञानिक और तकनीकी अनुसंधान तरीके से मोबाइल को खोज की जाती है। इस क्रम में टीम अबतक अलग-अलग क्षेत्रों से 60 मोबाइल बरामद किये गये हैं।

भोजपुर एसपी विनय तिवारी ने बताया कि मोबाइल चोरी की बढ़ रही घटनाओं को देखते हुये बरामदगी को लेकर नगर थानाध्यक्ष शंभू कुमार भगत के नेतृत्व में एक टीम गठित की गयी है। बरामद मोबाइल के स्वामित्व का सत्यापन करने के बाद धारकों को सौंप दिया जाता है। उन्होंने पब्लिक से मोबाइल की चोरी या गुम हो जाने पर संबंधित थाने को सूचना देने की अपील की है। कहा कि थाने में मामला अवश्य दर्ज करायें ताकि मोबाइल की बरामदगी की जा सकी। टीम में दारोगा (परीक्ष्यमान) सुशांत कुमार, चन्दन कुमार, दीपक कुमार और राजीव कुमार शामिल हैं। इधर, काफी दिन पहले चोरी गया मोबाइल मिलने से लोगों में काफी खुशी देखी गयी। इसे लेकर पब्लिक ने पुलिस को थैंक्यू भी कहा।

मानवाधिकार ने माना कि भोजपुर में भूख से हुई थी बच्चे की मौत

आरा : बिहार के भोजपुर जिला मुख्यालय आरा में मानवाधिकार की टीम दो साल पहले भूख से मृत बच्चे के संबंध में जांच करने पहुंची. मानवाधिकार आयोग के सचिव और रजिस्टार ने मृत बच्चे के घर पहुंचकर मामले की गहनता से जांच-पड़ताल की. जिसमें यह पाया गया कि उस दौरान बच्चे की मौत भूख से ही हुई थी.

मानवाधिकार आयोग के सचिव राजेश कुमार और रजिस्टार शैलेन्द्र कुमार सिंह की टीम आरा पहुंचकर जवाहर टोला में मृत बच्चे के घर पहुंच कर मामले की गहनता से जांच की. उन्होंने मृतक के माता-पिता से पूरे मामले पर बातचीत की गई. दो साल पूर्व बच्चे को सही तरीके से खाना नहीं मिल पाया था. जिससे वह बीमार हो गया था. जिसके बाद बच्चे को सरकारी अस्पताल में उचित इलाज नहीं मिल पाया था. जिससे बच्चे की मौत हो गई थी।

मानवाधिकार आयोग के सचिव राजेश कुमार ने बताया कि जांच क्रम में बात सामने आ रही है कि बच्चे की मौत भूख और उचित इलाज के अभाव में हुई थी. जांच की रिपोर्ट मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष को सौंपी जाएगी. जिसके बाद फैसला लिया जाएगा कि मृत बच्चे के परिजनों को क्या मुआवजा दिया जाए. इसके साथ ही दोषियों पर क्या कार्रवाई की जाए.बता दें कि दो साल पूर्व आरा के नवादा थाना क्षेत्र के जवाहर टोला वार्ड नबंर-40 में दुर्गा पासवान के पुत्र राकेश कुमार उर्फ राहुल की भूख से मौत हो गई थी. जिसके आलोक में मानवाधिकार आयोग ने जांच का आदेश दिया था. जिसके बाद मानवधिकार की टीम मृतक बच्चे के घर जांच करने पहुंची.’परिवार के लोगों से बात करने पर यही पता चल रहा है कि बच्चे का इलाज ठीक से नहीं हुआ। इसके साथ ही सरकारी अनाज जो परिवार को मिलता है उसमें भी कमी थी। जांच की रिपोर्ट मनवाधिकार आयोग के अध्यक्ष को सौंपी जाएगी। जिसके बाद आगे फैसला लिया जाएगा।

यूथ हॉस्टल एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया की आरा इकाई ने गरीब बच्चों में बांटा पुष्टाहार

आरा : अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस के अवसर पर यूथ हॉस्टल एसोसिएशन ऑफ इंडिया भोजपुर इकाई के तत्वाधान में वैसे बच्चे जिन्हें दैनिक जीवन में संपूर्ण पुष्टाहार नहीं मिल पाता है, को आज एसोसिएशन की ओर से पुष्टाहार का वितरण किया गया | यह पुष्टाहार नगरपालिका और जिला स्कूल के पास झोपड़पट्टी स्टेडियम के पास की बस्ती महाराजा कॉलेज के सामने की झोपड़पट्टी मे रह रहे दो सौ (200)गरीब बच्चों के बीच में वितरित किया गया| वितरण सामग्री में पूड़ी ,सब्जी ,मिठाई ,मौसमी फल इत्यादि शामिल था| इस अवसर पर संबोधित करते हुए एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ एस0 के0 रुंगटा ने अपनी दिनचर्या में हम संपूर्ण पौष्टिक आहार कैसे ले सकते हैं पर ,विस्तृत चर्चा कर लोगों को जागरूक किया|

चेयरमैन डा0अर्चना सिह ने साफ सफाई को अपनी दिनचर्या में शामिल कर हम स्वस्थ रह सकते हैं के बारे में जानकारी दी। अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस के अवसर पर यूथ हॉस्टल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के निर्देश पर यह कार्यक्रम पूरे देश में राज्यों की सभी इकाई ने आज के दिन जरूरतमंदों के बीच में पुष्टाहार वितरित कर उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होने तथा शान्ति और समानता का संदेश समाज को दिया। इस अवसर पर संस्था के उपाध्यक्ष-द्वय दीपक कुमार जैन, रीता कुमारी सिह कोषाध्यक्ष अभिषेक कुमार, सचिव विष्णु शंकर कार्यकारिणी सदस्य कृष्ण माधव अग्रवाल, दिनेश कुमार, अनिल राज , सुनील नैयर,दिनेश कु0 सिन्हा, प्रवीण कुमार सिंह , गोविंदा सिंह,चंदन सिह मारकंडे कुमार तथा अन्य सदस्यगण उपस्थित थे |

स्कॉर्पियो और बाइक टक्कर में युवक की मौत

आरा : भोजपुर जिला के जगदीशपुर-बिहिया मार्ग पर जगदीशपुर थानान्तर्गत मुंशी टोला स्थित पेट्रोल पंप के समीप बुधवार की शाम स्कॉर्पियो एवं बाइक की सीधी भिड़ंत में बाइक सवार एक युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई जबकि उसका दोस्त गंभीर रूप से जख्मी हो गया। उसे जगदीशपुर अनुमंडलीय अस्पताल से आरा सदर अस्पताल लाया गया। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर मुंशी टोला के समीप रोड जाम कर दिया है। जाम से सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग लग गई एवं आवागमन भी पूरी तरह ठप्प हो गया है।

सूचना मिलते ही जगदीशपुर थानाध्यक्ष संजीव कुमार दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और लोगों को समझाने-बुझाने में जुट गए है। पुलिस ने स्कॉर्पियो को जप्त कर लिया जबकि चालक मौके से फरार हो गया। मृतक जगदीशपुर थानान्तर्गत लाला टोला गांव निवासी रंगबाज यादव का पुत्र संजीत यादव है। जबकि जख्मी उसका दोस्त उसी गांव के विक्रमा शर्मा का पुत्र सरोज शर्मा है।

सरोज शर्मा ने बताया कि आज शाम वह अपने दोस्त संजीत यादव के साथ बाइक पर पीछे बैठ कर बिहिया जा रहा था। उसी बीच मुंशी टोला स्थित पेट्रोल पंप के समीप विपरीत दिशा से आ रही स्कॉर्पियो से सीधी भिड़ंत हो गई। हादसे में उसके दोस्त संजीत यादव की घटनास्थल पर ही मौत हो गई जबकि वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया।

माले नेता के पुत्र की गोली मारकर हत्या

आरा : भोजपुर जिला मुख्यालय आरा में नगर थानान्तर्गत आरा सदर अस्पताल रोड में बुधवार की शाम हथियारबंद अपराधियों ने भाकपा (माले) नेता गोपाल प्रसाद के पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई। अपराधियों ने उसे काफी करीब से चार गोली मारी है घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी मौके से भाग निकले। घटना का स्पष्ट कारण पता नहीं चल पाया है।

टाउन थाना इंचार्ज शंभू कुमार भगत घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन में जुट गए हैं। जानकारी के अनुसार मृतक माले नेता गोपाल प्रसाद का पुत्र विजय कुमार है। वह पेशे से एंबुलेंस का मालिक सह चालक था। सदर अस्पताल के समीप वह चाय की दुकान चलाता था।

राजीव एन० अग्रवाल की रिपोर्ट 

swatva

Leave a Reply