30 जुलाई : आरा की मुख्य खबरें

0
आरा की मुख्य ख़बरें

भगवान भोलेनाथ को साक्षी मान प्रेमी युगल ने की शादी

आरा : भोजपुर जिले के बड़हरा थानान्तर्गत एक गांव के दो प्रेमी युगल ने भगवान भोलेनाथ को साक्षी मान शादी के बंधन में बंध गये। नवादा थाना कैंपस स्थित स्थित शिव मंदिर में दोनों ने एक-दूसरे को वरमाला पहना कर शादी रचाई।

प्रेमी युगल एक ही गांव के रहने वाले हैं और काफी दिनों से प्रेम करते थे। 19 जुलाई को दोनों घर से फरार हो गये थे। उसके बाद दोनों कुछ दिन तक शहर में ठहरे थे। उसे लेकर थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी गयी थी। इस बीच दोनों गुरुवार को शिव मंदिर पहुंचे और शादी रचा ली। बताया जा रहा है कि दोनों पक्ष की रजामंदी से शादी हुई है।

पुराने कोईलवर पुल के नीचे अवैध बालू खनन रोकने को बन रहा ब्रिज ब्लॉक

आरा : भोजपुर जिले के कोईलवर में चल रहे अवैध बालू खनन को रोकने के लिए भोजपुर जिला प्रशासन पुराने पुल के निचे ब्रिज ब्लाक बना रहा है जिससे नाव अब पुराने अब्दुल बारी पुल को पार कर सोन नदी के दक्षिण क्षेत्र में खनन के लिए नहीं जा सकेगी. जिला प्रशासन के इस प्रयास से अवैध खनन पर रोक लगने की संभवना जताई जा रही है।

जिला प्रशासन पुराने अब्दुल बारी पुल के दो पिलरों के बीच जब्त की गयी नावों से एक बैरिकेडिंग तैयार कर रहा है जिससे अवैध खनन करने वाली नाव पुराने पुल को पार कर दूसरी तरफ नहीं जा सकेगी। जिला प्रशासन के इस कदम से अवैध बालू खनन पर काफी हद तक रोक लग सकती है. बड़े गेट को तैयार करने के लिए खनन विभाग की टीम लगी हुई है। नदी में बैरिकेडिंग लगाने के लिए उन पिलरों को चयनित किया गया है, जिस पिलर के बीच से नावों का परिचालन सबसे ज्यादा होता है।

बता दें कि बुधवार की शाम सोन नदी में हजारों नाव अवैध खनन के लिए जा रही थी। जिसकी तस्वीर कैमरे में कैद हो गई थी। सूर्यास्त के बाद बालू माफियाओं की मनमानी की तस्वीर सामने आई. इसके बाद गुरुवार की सुबह से ही सदर अनुमंडल पदाधिकारी वैभव श्रीवास्तव और एसडीपीओ आरा विनोद कुमार ने दल बल के साथ सोन नदी में छापेमारी करते हुए कुल सात नावों को जब्त किया था. साथ ही 24 मजदूरों को गिरफ्तार किया गया है।

इसके पूर्व बिहार सरकार ने अवैध खनन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए दो आइपीएस अधिकारी समेत 18 पदाधिकारी सस्पेंड कर दिया था. इसके बाद भी सोन नदी में अवैध खनन का खेल रुक नहीं रहा था, जिसके बाद जिला प्रशासन नए तरीके से खनन को रोकने का प्रयास कर रहा है।

साम्प्रदायिक और फ़ासीवादी सत्ता के खिलाफ नगर निगम में अविश्वास प्रस्ताव का समर्थन करेगी भाकपा माले – दिलराज प्रितम

आरा : भाकपा-माले जिला कार्यालय श्रीटोला में नगर कमिटी की बैठक कल देर रात सम्पन्न हुई। इस बैठक में भाकपा-माले पोलित ब्यूरो सदस्य कॉमरेड स्वदेश भट्टाचार्य और जिला सचिव का. जवाहरलाल सिंह अतिथि के रूप में उपस्थित थे। बैठक की अध्यक्षता नगर सचिव दिलराज प्रितम ने किया।

बैठक में बर्तमाम राजनीतिक परस्थिति व आगामी राजनीतिक कार्यभार पर विस्तृत रूप से चर्चा हुई। बैठक में आरा नगर निगम परिघटना पर भी चर्चा हुई जहां अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग होना है। पूरी कमिटी ने सर्वसम्मति से अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में वोट देने का फैसला लिया।

बैठक में राय बनी कि आरा नगर निगम में साम्प्रदायिक सामंती सत्ता है। जिसके चलते सामंती, अपराधी ताकतों का नगर निगम में दबंगई,गुंडागर्दी बढ़ गया है। पूरे निगम में भ्रष्टाचार का बोल बाला है। चुन- चुन कर छंटे हुए अपराधियों को निगम का ठीका दिया जा रहा है। इतना ही नहीं निगम का बैठक भी नहीं बुलाया जा रहा है। पूरे शहर का साम्प्रदायिक माहौल बिगाड़ने में लगे हैं ये लोग। इस लिए आरोपों से घिरे मेयर को पद पर बने रहने का को नैतिक अधिकार नही है।कोरोना महामारी में असंवेदनशील बनी रही नगर निगम, जनता के जीवन बचाने का कोई पहल नही किया ये बिल्कुल ही केंद्र की मोदी सरकार के नक्से कदम पर रही है।

राजीव एन० अग्रवाल की रिपोर्ट

swatva

Leave a Reply