06 मई : आरा की मुख्य खबरें

0
आरा की मुख्य ख़बरें

आर्म्स एक्ट में फरार अभियुक्त चढ़ा पुलिस के हत्थे

आरा : भोजपुर पुलिस ने 14 सालों से फरार अभियुक्त को ने गिरफ्तार कर लिया है| 14 सालों से अपराधी पुलिस को चकमा देने में कामयाब हो रहा था। लेकिन गुप्त सूचना के आधार पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

पूरा मामला भोजपुर जिला अंतर्गत चौरी थाना क्षेत्र की है। जहां आर्म्स एक्ट सहित अन्य कांड में फरार चल रहा चौरी थाना क्षेत्र अंतर्गत ढ़कनी गांव निवासी अनंत सिंह के पुत्र उपेंद्र सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि उपेंद्र सिंह अपने ससुराल मलथर से कृष्णगढ़ थानान्तर्गत सरैया बारात में शामिल होने जा रहा है। जिसके बाद पुलिस बल के साथ एक दल गठित कर छापामारी की गई। छापामारी दल ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उपेंद्र सिंह को वाहन से उतरते ही गिरफ्तार कर लिया।

बता दें कि उपेंद्र सिंह पर चौरी थाना में पहले से आपराधिक इतिहास रहा है। 2006 से ही उपेंद्र पुलिस के आंख में धूल झोंककर भागने में कामयाब रहा है। पुलिस को इसकी तलास 14 सालों से थी। लेकिन पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ रहा था।

पुलिस पर असामाजिक तत्वों ने किया हमला, वीडियो बना कर किया वायरल

आरा : कोरोना महामारी के मद्देनज़र मुख्य मंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में 5 तारीख से लेकर 15 तारीख तक पूर्ण रूप से लॉकडाउन लगा दिया है, ताकि इस महामारी से कुछ हद तक लोगों को निजात मिल सके पर कुछ लोग सड़क पर आज भी बिना किसी कारण खुलेआम घूमते नजर आ रहे है मानों इन्हें किसी का डर ही ना हो वहीं पुलिस प्रशासन की एक नहीं सुन रहे हैं और तो और पुलिस प्रशासन पर उल्टा हमला भी कर रहे है।

ताजा मामला भोजपुर जिले के हसनबाजार थाना क्षेत्र के हसनबाजार का है जहां पुलिस ने लोगों को सड़क पर घूमने से मना किया तो कुछ असामाजिक तत्वों ने पुलिस पर ही हमला कर दिया गया और तो और इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया है। इस मामले में 8 लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है।

भीड़ देखकर पुलिस ने सबको घर जाने को कहा और जब नही माने तो पुलिसकर्मियों ने एक दो लोगों की डंडे से पिटाई कर दी. जिसे देखकर स्थानीय लोग काफी आक्रोशित हो गए और बांस-बल्ले और डंडे से पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया. पुलिसकर्मी कुछ समझ पाते तब तक लोगों ने उनकी पिटाई करनी शुरू कर दी. जिसको लेकर अफरा-तफरी मच गई. वहीं कुछ दूर पर खड़े एक व्यक्ति ने इसका वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

पुलिसकर्मियों से बदसलूकी और धक्के-मुक्की का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि किस तरह से लॉकडाउन का पालन कराने निकले पुलिसकर्मियों पर लोग डंडे से प्रहार कर रहे हैं. वहीं जब इस संबंध में भोजपुर के एसपी राकेश कुमार दुबे से बात की गई तो, उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मियों पर हमला कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगाु. कुछ पुलिसकर्मियों को चोट भी आई है और यह कानूनन जुर्म है। वीडियो के आधार पर 8 लोगों को चिन्हित कर उनपर प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

जब पुलिस अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों को सतर्क कर रही है और सुरक्षा के लिए लोगों को घर में रह ने के लिए अपील कर रही है तो ऐसे में कुछ असामाजिक तत्व पुलिस के साथ हाथापाई करते नजर आ रहे हैं। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि कुछ लोग जानबूझकर बहाना बनाकर घर से बाहर निकलते हैं, और जब पुलिस द्वारा उन्हें रोकती है तो पुलिस के साथ हाथापाई पर उतर आते हैं ऐसे में अब देखने वाली बात यह होगी कि भोजपुर पुलिस वैसे असामाजिक तत्वों द्वारा जिन्होंने पुलिस पर हमला किया है उनके खिलाफ क्या कुछ कार्रवाई कर रही है।

भोजपुर एसपी राकेश कुमार दुबे ने बताया कि पुलिसकर्मियों पर हमला कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और यह कानूनन जुर्म है वीडियो के आधार पर लोगों को चिन्हित कर उचित कार्रवाई की जाएगी।

भोजपुर डीएम एवं एसपी ने लोगों से किया लॉक डाउन पालन की अपील

आरा : भोजपुर जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा ने भोजपुर वासियों से अपील की कि सभी घरों में रहें। अनावश्यक रूप से बाहर नहीं निकले। स्वास्थ्य संबंधी कार्य के लिए ही लोग निकले। जरूरी सामान खरीदने के लिए सुबह 7 से 11 बजे तक समय निर्धारित किया गया है। उनके बीच अपने सामानों की खरीदारी करें।

उन्होंने कहा कि जो पूर्व के प्रतिबंध और कर्फ्यू से कोई समुचित रिजल्ट नहीं मिल पाया था। इसके बाद सरकार ने लॉकडाउन लगाया| लोग जितना सहयोग करेंगे उतनी जल्दी ही हम लोग कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ेंगे। लोगों में जागरूकता बढ़ी है। गांव-देहात के लोग भी सजग हैं। कोरोना की वैक्सीन लगवा रहे हैं। उन्होंने पुनः लोगों से अपील की कि आप सजग व सतर्क रहें। कोरोना का लक्षण दिखाई देने पर जांच कराएं तथा खुद को आइसोलेट करें।

भोजपुर एसपी राकेश कुमार दूबे ने कहा कि पूरे शहर में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पुलिस प्रशासन मुस्तैद है। गली-मोहल्लों में लॉक डाउन का उल्लंघन नही हो, इसके लिए बाइकर्स टीम को लगाया गया है। उन्होंने कहा कि जो लोग लॉकडाउन का पालन नहीं करेंगे तथा पुलिस को सहयोग नहीं करेंगे, उन पर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। लॉक डाउन का पालन कराने के लिए पुलिस रेगुलर अभियान चलाएगी। उन्होंने जिलेवासियों से अपील की कि आप कोरोना को लेकर सजग और सतर्क रहें और लॉक डाउन का पालन करें।

पूर्व में विवाद युवक की पीटकर हत्या

आरा : भोजपुर के बिहिया थानान्तर्गत मिश्रौली गांव में पूर्व के विवाद में एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। इलाज के दौरान बुधवार की देर शाम आरा सदर अस्पताल में दम तोड़ दिया। मारपीट के दौरान मृतक का छोटा भाई भी जख्मी हो गया। मृतक मिश्रौली गांव निवासी स्व. भिखारी राम का 45 वर्षीय पुत्र कृष्णा राम है। वह पेशे से मजदूर था। जख्मी मृतक का छोटा भाई मुनीजी राम है।

मृतक के छोटे भाई मुनीजी राम ने बताया कि गांव में ही दूसरे पट्टीदार से दो माह पूर्व छज्जा तोड़ने को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद दोनों पक्षों ने स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इसके बाद भी दूसरे पक्ष के लोग दोबारा छज्जा बना रहे थे। जिसको लेकर दूसरे पक्ष के द्वारा दो दिनों से उनके दरवाजे पर आकर गाली-गलौज भी कर रहे थे| परिजनों ने इसकी सूचना टाउन थाना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस सदर अस्पताल पहुंची और शव का पोस्टमार्टम करवाया।

जिले में लांकडाउन में चिन्हित स्थानों पर सामुदायिक रसोई की गई शुरुआत

आरा : आपदा प्रबंधन विभाग बिहार पटना के निर्देश के आलोक में राज्य सरकार के द्वारा लगाए गए विभिन्न प्रतिबंधों के आलोक में मजदूर, निर्धन, निराश्रित, निशक्त आदि जरूरतमंद व्यक्तियों के लिए चिन्हित स्थानों पर सामुदायिक रसोई स्थापित करने का आदेश दिया गया है। इसके आलोक में जिलाधिकारी भोजपुर श्री रोशन कुशवाहा ने आदेश निर्गत कर नगर निगम क्षेत्र आरा, नगर पंचायत कोइलवर, पीरों, शाहपुर, जगदीशपुर, बिहिया में सामुदायिक रसोई चलाने का निर्णय लिया है।

सामुदायिक रसोई में प्रतिदिन दिन एवं रात के भोजन की व्यवस्था की जाएगी। सामुदायिक रसोई के संचालन में बिजली पेयजल साफ-सफाई आदि की पर्याप्त व्यवस्था के साथ-साथ फिजिकल सामाजिक दूरी एवं अन्य सुरक्षा मानकों का विशेष ध्यान रखा जाने का निर्देश दिया गया। संबंधित सामुदायिक रसोई का संचालन एवं संबंधित प्रतिवेदन हेतु अंचलाधिकारी सदर आरा, कोईलवर, पीरों, जगदीशपुर, शाहपुर, बिहिया को आदेश दिया गया।

सामुदायिक रसोई हेतु निम्नलिखित स्थानों को चिन्हित किया गया है- बिहिया में प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय बिहिया, सदर आरा में क्षत्रिय स्कूल सदर आरा, गुरु नानक स्कूल मौलाबाग आरा, जगदीशपुर में स्वारथ साहू प्लस टू उच्च विद्यालय जगदीशपुर, कोइलवर में मध्य विद्यालय बालक कोइलवर, पीरों में बालक मध्य विद्यालय पीरो, एवं शाहपुर में हरि नारायण उच्च विद्यालय शाहपुर|

राजीव एन० अग्रवाल की रिपोर्ट

swatva

Leave a Reply