गणिनाथ पूजा पर नारायणपुर में हुआ रामायण का दु-गोला मुकाबला, सेठ ने किया उद्घाटन

बक्सर : इटाढ़ी प्रखंड के ग्राम पंचायत नरायणपुर मे शंत शिरोमणि बाबा गणिनाथ पूजा उत्सव मधेशिया वैश्य समाज गणिनाथ पूजा समिति नारायणपुर के तत्वावधान में मनाया गया ।सन्त गणिनाथ जी पूजा के उपलक्ष्य में रविवार की रात दु- गोला रामायण मुकाबला आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन निवर्तमान विधान पार्षद सह पंचायती राज प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष राधा चरण सेठ, जिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष सुभाष गुप्ता, जिला उपाध्यक्ष रमा शंकर सिंह, विनोद सिंह, मुखिया राम करेश चौहान, बीडीसी ठाकुर यादव, समाजसेवी दीपक आजाद, समाजसेवी महिला नेत्री रंजू देवी,

दुर्गावती देवी ने संयुक्त रूप से फीता काटकर किये। अतिथियों ने सन्त गणिनाथजी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बाह्याडम्बर व पाखण्ड से विरत हो सत्कर्म करने की नसीहत दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता मनोज गुप्ता व संचालन उज्ज्वल महाजन ने किया।   रामायण मुकाबला चर्चित व्यास अरविंद अभियंता उर्फ लंगड़ व्यास व रामजी गुप्ता के बीच हुआ।दुगोला मुकाबला काफी दिलचस्प रहा। दोनो ही व्यासों ने अपने लय लयदारी, मुक्तक, ताल सुर से अपने अपने अंदाज में पूरी रात श्रोता दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया। वहीं दोनो ही दलों की नृत्यांगनाओं ने अपनी अदाकारी से सबका दिल जीत लिया।

राधाचरण सेठ को मुकुट पहनाकर सम्मानित करते उज्ज्वल महाजन

-राधाचरण सेठ को सम्मान में पहनाया गया चांदी का मुकुट

गणिनाथ पूजा में इटाढ़ी के नारायणपुर में पहुचे जदयू के पूर्व विधान पार्षद सह वर्तमान पंचायती राज प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष राधाचरण सेठ का भव्य स्वागत किया गया। समिति के सदस्यों सहित कार्यकर्ताओं ने उन्हें फूल मालाओं से लाद दिया। मंच पर समाजसेवी महाजन रामा शंकर के पुत्र उज्ज्वल महाजन ने चांदी का मुकुट पहनाकर उनको सम्मानित किया। सेठजी भी गदगद भाव से आभार प्रकट करते हुए समाज के प्रति सदैव समर्पित रहने का भरोसा दिलाया । सांस्कृतिक मंच अपने संबोधन कहा कि मेरी

ख्वाहिश रहती है कि मै समाज की कसौटी पर खरा ऊतरु। रामाशंकर महाजन ने नारायणपुर पंचायत में मनोहरपुर गांव की अधर में लटकी अर्ध निर्मित पुलिया को लेकर ग्रामीणों की तरफ से नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल उसके निर्माण की मांग की। कहा कि उद्घाटन के पहले ही पुल की छत यानी ढलाई होने के साथ ही गिर पड़ी था। जिसके बाद से अबतक वह पुलिया ध्वस्त पड़ी है। स्कूली बच्चों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही ग्रामीणों को समस्या झेलनी मजबूरी हो गई है।

इटाढ़ी (बक्सर) से जितेन्द्र कुमार की रिपोर्ट 

swatva

Leave a Reply